BREAKING NEWS

पाकिस्तान ने फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन, एक जवान शहीद◾प्रियंका गांधी बोलीं- देश में 'भयंकर मंदी' लेकिन सरकार के लोग खामोश◾ मायावती का ट्वीट- देश में आर्थिक मंदी का खतरा, इसे गंभीरता से लें केंद्र◾AAP के पूर्व विधायक कपिल मिश्रा भाजपा में शामिल◾चिदंबरम बोले- मीर को नजरबंद करना गैरकानूनी, नागरिकों की स्वतंत्रता सुनिश्चित करें अदालतें◾राजनाथ के आवास पर ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स की बैठक शुरू, शाह समेत कई मंत्री मौजूद◾भूटान पहुंचे मोदी का PM लोटे ने एयरपोर्ट पर किया स्वागत, दिया गया गार्ड ऑफ ऑनर◾शरद पवार बोले- पता नहीं राणे का कांग्रेस में शामिल होने का फैसला गलत था या बड़ी भूल◾उत्तर कोरिया ने किया नए हथियार का परीक्षण, किम ने जताया संतोष◾12 दिन बाद आज से घाटी में फोन और जम्मू समेत कई इलाकों में 2G इंटरनेट सेवा बहाल◾राम माधव बोले- जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को मिलेगा देश के कानूनों के अनुसार लाभ◾वित्त मंत्रालय के अधिकारियों संग PMO की बैठक आज, इन मुद्दों पर होगी चर्चा◾कोविंद, शाह और योगी जेटली को देखने AIIMS पहुंचे, जेटली की हालत नाजुक : सूत्र ◾आर्टिकल 370 : UNSC में Pak को बड़ा झटका, कश्मीर मामले पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बैठक में पाकिस्तान को सिर्फ चीन का मिला समर्थन◾जम्मू में हमारे ''नेताओं की गिरफ्तारी'' निंदनीय, आखिर यह पागलपन कब खत्म होगा : राहुल ◾परमाणु हथियार के पहले प्रयोग न करने की नीति पर बोले राजनाथ: परिस्थितियों पर निर्भर करेगा फैसला◾कश्मीर में किसी की जान नहीं गई, कुछ दिनों में हालात होंगे सामान्य◾कश्मीर मुद्दे पर UNSC में बोले अकबरुद्दीन- जेहाद के नाम पर हिंसा फैला रहा है PAK◾भूटान की यात्रा समय की कसौटी पर खरी उतरने वाली मित्रता को और मजबूत करेगी : PM मोदी◾बाबरी मस्जिद से पहले उस जगह राम मंदिर मौजूद था : रामलला◾

अन्य राज्य

भारत के साथ संबंधों को कमतर करने के लिए पाक को ‘‘धन्यवाद’’ दिया जाना चाहिए : शिवसेना

शिवसेना ने शुक्रवार को कहा कि पाकिस्तान के लिए कश्मीर अब बंद अध्याय है। पार्टी ने कहा कि सीमावर्ती राज्य का विशेष दर्जा खत्म किए जाने के बाद इस्लामाबाद द्वारा कूटनीतिक संबंधों में कमी लाने से नई दिल्ली की तुलना में उसे ज्यादा नुकसान होगा। इस हफ्ते की शुरुआत में केंद्र सरकार ने संविधान के अनुच्छेद 370 के तहत जम्मू-कश्मीर को दिए गए विशेष दर्जा को समाप्त कर दिया और राज्य को दो केंद्र शासित क्षेत्रों जम्मू-कश्मीर तथा लद्दाख में बांट दिया। 

पाकिस्तान ने भारत के साथ राजनयिक संबंधों को कम करने के निर्णय के तहत बुधवार को भारत के उच्चायुक्त अजय बिसारिया को अपने देश से हटा दिया था। शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ के संपादकीय में इस्लामाबाद की प्रतिक्रिया को महत्वहीन करार देते हुए कहा गया है, ‘‘पाकिस्तान और क्या कर सकता है?’’ 

शिवसेना ने भारत के साथ राजनयिक संबंधों को कमतर करने के लिए पाकिस्तान को ‘‘धन्यवाद’’ देते हुए कहा कि इस्लामाबाद को स्वीकार कर लेना चाहिए कि कश्मीर मुद्दा उसके लिए बंद अध्याय है और उनके पास अब केवल पीओके है जिसका जल्द समाधान हो जाएगा। 

इस्लामाबाद के कई हिस्से में भारत समर्थक बैनरों और शिवसेना के नेता संजय राउत के उस पर उद्धृत बयानों के बारे में संपादकीय में कहा गया है कि भगवा संगठन पाकिस्तान के क्षेत्र में प्रवेश कर गया है और भारतीय सेना भी वहां पहुंचेगी। एक बैनर पर राउत का बयान लिखा था, ‘‘आज जम्मू-कश्मीर लिया है, कल बलूचिस्तान, पीओके लेंगे। मुझे विश्वास है देश के प्रधानमंत्री अखंड हिंदुस्तान का सपना पूरा करेंगे।’’ 

मराठी दैनिक में लिखा गया है कि संबंधों को कमतर करने से भारत की तुलना में पाकिस्तान को ज्यादा नुकसान होगा। इसमें कहा गया है कि शिवसेना कई वर्षों से मांग करती रही है कि नई दिल्ली में पाकिस्तानी उच्चायोग को बंद किया जाए क्योंकि कश्मीरी अलगाववादियों को वहां से वित्त पोषण होता है। 

बीजेपी की सहयोगी पार्टी ने कहा कि यह सबको पता है कि कश्मीरी आतंकवादी ‘‘भारत विरोधी षड्यंत्रों’’ के लिए पाकिस्तान उच्चायोग आते हैं। अखबार में लिखा गया है, ‘‘अगर पाकिस्तान ने नई दिल्ली में अपना उच्चायोग बंद नहीं किया होता तो उसके उच्चायुक्त को यहां से भागना पड़ता क्योंकि यहां काफी गुस्सा है।’’ 

इसने लिखा, ‘‘दोनों देशों के बीच अब भावनात्मक जुड़ाव नहीं है।’’