हल्द्वानी : बागेश्वर की जिलाधिकारी रंजना राजगुरू ने शुक्रवार की प्रातः डॉ सुशीला तिवारी चिकित्सालय पहुंचकर विगत दिनों बागेश्वर जनपद के बास्ती गांव में विवाह समारोह की दावत में फूड प्वाइजनिंग की घटना से प्रभावित मरीजों से मुलाकात कर कुशलक्षेम पूछी और चिकित्सालय प्रबन्धन द्वारा प्रभावितों को दी जा रही चिकित्सीय सुविधा के बारे में चिकित्सकों से विस्तार से जानकारी हासिल की।

चिकित्सकोें ने जिलाधिकारी को बताया कि 25 मरीज अस्पताल में भर्ती थे। जिनमें से 13 मरीजों को डिस्चार्ज कर दिया गया है, वर्तमान में 12 मरीज भर्ती है। श्रीमती रंजना ने सुशीला तिवारी चिकित्सालय पहुंचकर फूड प्वाइजनिंग से पीड़ित बीमारों और उनके तीमारदारो से मुलाकात कर उनकी कुशल क्षेम पूछी।

श्रीमती रंजना ने इलाज कर रहे सभी डॉक्टरों से कहा कि वह पूरी तत्परता एवं गंभीरता से बीमार लोगों का इलाज करें ताकि सभी के सभी शीघ्रातिशीघ्र स्वस्थ होकर अपने घर जा सकें। उन्होंने कहा कि इलाज में किसी प्रकार की कोई कमी नहीं रखी जाये। उन्होंने सभी प्रभावित मरीजों से कहा कि यदि स्वास्थ्य सम्बन्धित कोई छोटी से छोटी भी परेशानी लगे तो वह डाॅक्टरों से निः संकोच बताये ताकि डाॅक्टर तत्परता से उचित उपचार कर सकें।

उन्होंने डिस्चार्ज हो रहे मरीजों एवं उनके तीमारदारों से कहा कि यदि रास्ते में या गांव पहुंचकर कोई दिक्कत होती है तो वह तत्काल क्षेत्र में तैनात किये गये डाॅक्टरों को जानकारी दें। उन्होने कहा प्रशासन ने बास्ती गांव में डाॅक्टरों की टीम तैनात कर दी गई है। निरीक्षण के दौरान उपजिलाधिकारी एपी बाजपेयी, डॉ अरूण जोशी, डॉ दीपक जोशी, डॉ एसएस पांगती, आलोक मौजूद थे।

– संजय तलवाड़