BREAKING NEWS

पंजाब, हरियाणा के किसान कृषि विधेयकों के खिलाफ 25 सितम्बर को करेंगे विरोध प्रदर्शन◾MP में किसानों के फसल कर्ज माफी पर बोले राहुल - कांग्रेस ने जो कहा, सो किया◾KXIP VS RCB (IPL 2020) : रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की करारी हार, किंग्स इलेवन पंजाब ने RCB को 97 रनों से हराया◾भारत-चीन सीमा विवाद : दोनों पक्ष सैनिकों को पीछे हटाने के लिए वार्ता जारी रखेंगे - विदेश मंत्रालय◾ड्रग्स केस: गोवा से मुंबई पहुंचीं दीपिका पादुकोण, शनिवार को NCB करेगी पूछताछ◾ KXIP vs RCB IPL 2020 : पंजाब ने बैंगलोर को दिया 207 रनों का टारगेट, केएल राहुल ने जड़ा शतक◾महाराष्ट्र में कोरोना के 19164 नए केस, 17185 मरीज हुए ठीक◾जाप ने जारी किया चुनावी घोषणा पत्र, बेरोजगारों को रोजगार देने का किया वादा ◾COVID-19 से संक्रमित मनीष सिसोदिया डेंगू से भी पीड़ित हुए, लगातार गिर रही है ब्लड प्लेटलेट्स◾कृषि और श्रम कानून को लेकर राकांपा का केंद्र पर तंज, कहा- ईस्ट इंडिया कंपनी स्थापित कर रही है सरकार ◾महिला अपराध पर सीएम योगी सख्त, छेड़खानी और बलात्कारियों के पोस्टर लगाने का दिया आदेश ◾कांग्रेस का बड़ा आरोप - केंद्र सरकार ने कृषि विधेयकों के जरिए नयी जमींदारी प्रथा का उद्घाटन किया◾IPL 2020 KXIP vs RCB: रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का किया फैसला◾कृषि बिल के विरोध पर बोले केंद्रीय मंत्री तोमर, कांग्रेस पहले अपने घोषणापत्र से मुकरने की करे घोषणा◾महीनों के लॉकडाउन के बाद भी नहीं थम रहा है कोरोना, जानिये भारत क्यों चुका रहा है भारी कीमत◾केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर ने कहा- विपक्षी दलों की राजनीति हो गई है दिशाहीन ◾ICU में भर्ती डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया की हालत स्थिर, अगले कुछ दिनों में फिर होगा कोरोना टेस्ट ◾रेलवे ने जताई चिंता - 'रेल रोको आंदोलन' से जरूरी सामानों और राशन की आवाजाही पर पड़ेगा असर ◾महाराष्ट्र : एकनाथ शिंदे भी कोरोना वायरस से संक्रमित, संपर्क में आए लोगों से जांच करवाने की अपील की ◾कांग्रेस ने अमित शाह की रैली को बताया जनता का अपमान, कोरोना संकट में धनबल की राजनीति का लगाया आरोप◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

झारखंड में बोले PM मोदी- कांग्रेस कभी भी गठबंधन के भरोसे पर खरा नहीं उतरी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कहा कि कांग्रेस कभी भी गठबंधन के भरोसे पर खरा नहीं उतरी है, और यह पार्टी अपने मतलब के लिए गठबंधन और जनादेश का उपयोग करती है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अपने हित के लिए अपने सहयोगियों को कठपुतली की तरह उपयोग करती है। मोदी ने कर्नाटक से आ रहे उपुचनाव परिणाम की चर्चा करते हुए कहा कि "वहां के लोगों ने कांग्रेस के कारनामे का जवाब 'कमल' के निशान पर बटन दबाकर दे दिया है। कर्नाटक ने कह दिया है कि कांग्रेस अब लोगों से विश्वासघात नहीं कर पाएगी।" 

उन्होंने कहा, "यह पूरे देश के लिए संदेश है कि कोई जनता के पीठ में छुरा घोंपेगा, मौका मिलते ही जनता उसे पूरी सजा देगी। जनता ने जो नई ताकत दी है, उसके लिए जनता-जनार्दन का आभार।" प्रधानमंत्री ने कहा, "कहा जाता था कि दक्षिण में भाजपा कमजोर है, वहां उपचुनाव के परिणाम आ रहे हैं। जनता के मैंडेट को पिछले दरवाजे से छीनने वालों को कर्नाटक के मतदाताओं ने लोकतांत्रिक तरीके से पूरी तरह उनके मंसूबे को ध्वस्त कर दिया है।" 

झारखंड के हजारीबाग के बरही में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा, "हमारी राजनीति परिवार और स्वार्थ के लिए नहीं है। हमारी राजनीति झारखंड के विकास के लिए है।" उन्होंने लंबे समय तक चले राममंदिर भूमि विवाद के लिए भी कांग्रेस को दोषी बताते हुए कहा, "कांग्रेस ने अपने वोटबैंक के लिए इस मामले को इतने दिनों तक लटकाए रखा। अब जब भाजपा की सरकार बहुमत के साथ आई तब इस पर भी फैसला हो गया।" 

मोदी ने कहा, "दशकों तक देश में यह मांग उठती रही कि झारखंड और देश के करोड़ों ओबीसी परिवारों के हितों की सुरक्षा के लिए ओबीसी कमीशन को संवैधानिक दर्जा दिया जाए। लेकिन कांग्रेस और उसके साथियों ने पिछड़ों के हितों को बचाने वाला यह काम न किया, और न ही होने दिया। भाजपा सरकार ने यह भी काम किया।" 

भाजपा सरकार की तारीफ करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, "जिस झारखंड को कांग्रेस और उसके साथियों की उपेक्षा और गलत नीतियों ने नक्सलवाद की तरफ धकेला, उसको भाजपा ने आज शांति और विकास की तरफ अग्रसर किया है।" उन्होंने कहा कि कांग्रेस कभी भी गठबंधन के भरोसे पर खरा नहीं उतरी है, और यह अपने मतलब के लिए गठबंधन और जनादेश का उपयोग करती है। 

उन्होंने कहा, "कांग्रेस और उसके साथियों को सिर्फ सत्ता का लोभ है। उनके पास बड़े और कड़े फैसले लेने का न तो साहस है, न ही संवेदनशीलता। भाजपा के लिए राष्ट्रहित सबसे ऊपर है। यही कारण है कि बीते पांच वर्षों में अभूतपूर्व काम हुए हैं।"

विभाजनकारी चालक के साथ कैब की सवारी है ‘कैब’ विधेयक: कपिल सिब्बल