BREAKING NEWS

आज देश सरदार पटेल के एक भारत-श्रेष्ठ भारत के सपने को साकार होते हुए देख रहा है : PM मोदी◾मायावती ने कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा- गैर भरोसेमंद और धोखेबाज है◾शारदा चिट फंड घोटाला : कोलकाता HC ने राजीव कुमार की अग्रिम जमानत याचिका पर सुनवाई से किया इनकार◾कपिल सिब्बल ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, कहा- कश्मीर में हालात सामान्य तो फारुक अब्दुल्ला गिरफ्तार क्यों ?◾मंदी की मार को लेकर जिम्मेदारी से बचना चाहती है बीजेपी सरकार : प्रियंका गांधी◾भारत और पाकिस्तान के प्रधानमंत्रियों से जल्द ही करूंगा मुलाकात : डोनाल्ड ट्रंप ◾राजस्थान : BSP को झटका, छह विधायकों ने थामा कांग्रेस का हाथ ◾प्रधानमंत्री मोदी का 69वां जन्मदिन, राष्ट्रपति कोविंद सहित विपक्ष के अन्य नेताओं ने दी शुभकामनाएं◾सरदार सरोवर का गेट खोलने की मांग को लेकर मेधा पाटकर मंगलवार को निकालेंगी रैली ◾PM मोदी अपने जन्मदिन के मौके पर नर्मदा बांध का करेंगे दौरा ◾नितिन गडकरी बोले- सिर्फ आरक्षण से किसी समुदाय का विकास सुनिश्चित नहीं हो सकता ◾TOP 20 NEWS 16 September : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर बोले- जल्द ही पूरी दुनिया में उपलब्ध होगा दूरदर्शन इंडिया◾योगी सरकार को इलाहाबाद HC से झटका, 17 OBC जातियों को SC में शामिल करने पर रोक◾शरद पवार का ऐलान- महाराष्ट्र में 125-125 सीटों पर चुनाव लड़ेंगी NCP और कांग्रेस◾हिंदी को लेकर अमित शाह के बयान पर बोले कमल हासन - कोई 'शाह' नहीं तोड़ सकता, 1950 का वादा◾CJI रंजन गोगोई बोले-जरूरत हुई तो मैं खुद जाऊंगा जम्मू-कश्मीर हाई कोर्ट◾गंगवार के बयान पर प्रियंका का वार, कहा-मंत्री जी, 5 साल में कितने उत्तर भारतीयों को दी हैं नौकरियां◾SC ने गुलाम नबी आजाद को कश्मीर जाने की दी अनुमति, कोई राजनीतिक रैली न करने का दिया आदेश◾हिंद महासागर में दिखा चीनी युद्धपोत जियान-32, अलर्ट पर भारतीय नौसेना◾

अन्य राज्य

पुलिस अधिकारी तकनीक और कानून के अच्छे जानकार बनें : विजय कुमार सिंह

मध्यप्रदेश के पुलिस महानिदेशक विजय कुमार सिंह ने कहा पुलिस अधिकारी कानून-व्यवस्था का प्रतिनिधित्व करते हैं और व्यवस्था बनाए रखने की जिम्मेदारी भी उन्हीं की होती है। इसलिए पुलिस अधिकारी मानसिक रूप से सशक्त होने के साथ-साथ तकनीक और कानून के भी अच्छे जानकार बनें। 

श्री सिंह मध्यप्रदेश पुलिस के 90 वें सत्र के उप निरीक्षकों के दीक्षांत समारोह को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा बेहतर पुलिसिंग के लिए तकनीक में पारंगत होना जरूरी है। आपराधिक तत्व भी तकनीक का सहारा लेकर अपराधों को अंजाम देते हैं। इसलिए पुलिस अधिकारी दिमागी, तकनीकी और कानूनी तौर पर सशक्त बनें, जिससे अपराधी बचने न पाएं। धैर्य,संयम व टीम भावना से अपने कर्तव्य का निर्वहन करें, जिससे आप सब कठिन से कठिन परिस्थितियों में भी बेहतर ढंग से पुलिसिंग का काम कर सकेंगे। पुलिस की वर्दी पर सभी की निगाह रहती है और वर्दी अनुशासन की प्रतीक होती है। इसलिए वर्दी का सम्मान रखते हुए पुलिस अधिकारियों को अपने दायित्व का निर्वहन करना चाहिए। 

उन्होंने कहा कि आप सबको पुलिस अधिकारी के रूप में समाज सेवा करने का अच्छा अवसर मिला है। जो सताये हुए हैं और अपने आप को कठिनाई में पाते हैं, उनके मददगार बनें। उन्होंने सभी उप निरीक्षकों को बधाई दी और कहा कि आप सब योग्य, कर्मठ, दक्ष एवं संवेदनशील पुलिस अधिकारी बनें। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश पुलिस के प्रशिक्षण के लिए हुए प्रभावी नवाचारों की वजह से मध्यप्रदेश पुलिस की पहचान पूरे देश में स्थापित हुई है। यह प्रशिक्षण कर्तव्य निर्वहन के दौरान आप सबके लिए मददगार साबित होगा। 

विशेष पुलिस महानिदेशक संजय राणा ने कहा कि प्रशिक्षण की प्रक्रिया जीवन पर्यन्त चलती है। इसलिए दीक्षांत समारोह में शामिल उप निरीक्षक इस प्रशिक्षण को पूर्ण न मानकर अपने भीतर सीखने की जिज्ञासा बनाए रखें। तभी आप सब न केवल सफल पुलिस अधिकारी बन पाएँगे बल्कि अच्छे इंसान भी साबित होंगे। उन्होंने कहा खुशी की बात है मध्यप्रदेश पुलिस की प्रशिक्षण व्यवस्था उत्तरोत्तर रूप से प्रभावी हुई है। 

इस अवसर पर अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक प्रशिक्षण श्रीमती अनुराधा शंकर व जेएनपीए सागर के निदेशक जी.जर्नादन, संजय सिंह उपस्थित थे। पुलिस महानिदेशक ने प्रशिक्षण की विभिन्न विधाओं में अव्वल रहे प्रशिक्षु उप निरीक्षकों को पुरस्कार प्रदान किए। 

भौंरी स्थित मध्यप्रदेश पुलिस अकादमी में आयोजित हुए दीक्षांत समारोह के आयोजन के साथ ही 444 प्रशिक्षु उप निरीक्षक अब विधिवत रूप से मध्यप्रदेश पुलिस की मुख्यधारा में शामिल हो गए हैं। इन उप निरीक्षकों ने मध्यप्रदेश की विभिन्न पुलिस अकादमियों लगभग एक वर्ष का कठिन प्रशिक्षण लिया है। इसके बाद प्रदेश के विभिन्न जिलों व अलग-अलग थानों इत्यादि में परिवीक्षाधीन उप निरीक्षक के रूप में पदस्थ रहकर पुलिस की कार्यप्रणाली का व्यवहारिक प्रशिक्षण भी प्राप्त किया है।