BREAKING NEWS

CAB के खिलाफ जामिया के छात्रों ने किया उग्र प्रदर्शन, पुलिस ने दागे आंसू गैस के गोले◾राहुल के 'रेप इन इंडिया' वाले बयान को लेकर कांग्रेस ने मोदी सरकार पर जनता का ध्यान भटकाने का लगाया आरोप◾निर्भया के दोषियों पर फैसला 18 दिसंबर को : कोर्ट ◾गुवाहाटी में मोदी और शिंजो आबे के बीच होनी वाली शिखर वार्ता हुई स्थगित◾लोकसभा में बोले राजनाथ सिंह- राहुल गांधी को सांसद होने का नैतिक अधिकार नहीं◾'रेप इन इंडिया' वाले बयान पर बोले राहुल-कभी माफी नहीं मांगने वाला◾राहुल गांधी के 'रेप इन इंडिया' वाले बयान पर लोकसभा में हंगामा, महिला सांसदों ने की माफी की मांग ◾निर्भया गैंगरेप : पटियाला हाउस कोर्ट में टली सुनवाई, पीड़िता की मां ने आरोपी की पुनर्विचार याचिका का किया विरोध ◾आम चुनावों में प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को मिला बहुमत, PM मोदी और राष्ट्रपति ट्रंप ने दी बधाई◾तृणमूल सांसद महुआ मोइत्रा ने नागरिकता संशोधन कानून को सुप्रीम कोर्ट में दी चुनौती ◾संसद हमले की 18वीं बरसी आज, पार्लियामेंट के बाहर PM मोदी समेत कई सांसदों ने दी श्रद्धांजलि◾नागरिकता संशोधन विधेयक: भारत की यात्रा रद्द कर सकते हैं जापान के PM शिंजो आबे◾पिछले तीन साल में उच्चतम स्तर पर महंगाई, लेकिन प्रधानमंत्री मौन : प्रियंका गांधी◾नागरिकता संशोधन विधेयक: डिब्रूगढ़ में कर्फ्यू में ढील, गुवाहाटी में प्रदर्शनकारी कर रहे हैं अनशन◾निर्भया गैंगरेप : चारों आरोपियों की जल्दी फांसी की मांग को लेकर पटियाला हाउस कोर्ट में आज होगी सुनवाई◾केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री हर्षवर्धन का जन्मदिन आज, PM मोदी ने दी बधाई◾CAB : अमेरिका ने भारत से धार्मिक अल्पसंख्यकों के अधिकारों की रक्षा करने का किया अनुरोध◾झारखंड विधानसभा चुनाव : झरिया में देवरानी-जेठानी के बीच दिलचस्प मुकाबला◾किसानों की आमदनी दोगुनी करने के लिए सरकार ने बनाया रोडमैप : कृषि मंत्री ◾उत्तर भारत में बर्फबारी के बाद बढ़ी ठंड, दिल्ली में भी हुई बारिश ◾

अन्य राज्य

भाजपा के इंकार के बाद महाराष्ट्र में सियासी संकट गहराया

 maharashtra govt

महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर चल रहा घमासान थमने का नाम नहीं ले रहा है। सरकार में मुख्यमंत्री पद और सत्ता में हिस्सेदारी को लेकर चल रहा खींचतान अब तक किसी नतीजे पर नहीं पहुंचा है। इस बीच भाजपा ने साफ कर दिया है कि वह सरकार नहीं बनाएगी, वहीं कांग्रेस ने कहा है कि उसे जनादेश विपक्ष में बैठने का मिला है। ऐसे में मामला उलझता नजर आ रहा है। इस बीच राकांपा ने 12 नवंबर को विधायकों की बैठक बुलाई है। 

महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना ने गठबंधन में चुनाव लड़ा था और भाजपा को 105 सीटें और शिवसेना को 56 सीटें मिली थीं। इसी तरह कांग्रेस-राकांपा गठबंधन में राकांपा को 54 और कांग्रेस को 44 सीटों पर जीत मिली थी। अब देखने वाली बात यह होगी कि सरकार बनाने के लिए बहुमत के लिए जरूरी 145 विधायक कौन-सी पार्टी जुटा पाती है। 

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने एक प्रमुख राजनीतिक घटनाक्रम में रविवार को स्वीकार किया कि चुनाव पूर्व गठबंधन को जनादेश मिलने के बावजूद वह महाराष्ट्र में सरकार बनाने की स्थिति में नहीं है। भाजपा की राज्य इकाई के अध्यक्ष चंद्रकांत पाटील ने कहा कि पार्टी की कोर कमेटी की बैठक के बाद राज्यपाल बी.एस.कोश्यारी को पार्टी के रुख से अवगत करा दिया गया है। 

पाटील ने राजभवन के लॉन में कहा, "अगर शिवसेना, कांग्रेस-राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के सहयोग से सरकार बनाने की स्थिति में है तो हम उन्हें अपनी शुभकामनाएं देते हैं।" इससे पहले राकांपा ने शनिवार को कहा था कि अगर भाजपा और शिवसेना सरकार नहीं बना पाती है तो हम (कांग्रेस-रांकापा) वैकल्पिक सरकार बनाएंगे। इस मुद्दे पर चर्चा के लिए उसने 12 नवंबर को विधायकों की बैठक बुलाई है। 

महाराष्ट्र : शिवसेना को समर्थन देने के लिए तैयार NCP, रखी ये बड़ी शर्त

हालांकि इसमें पेंच यह है कि राकांपा की सहयोगी पार्टी कांग्रेस ने कहा है कि वह विपक्ष में बैठेगी। कांग्रेस के 44 विधायक खरीद-फरोख्त के डर से कांग्रेस शासित राजस्थान में जयपुर के एक रिसार्ट में जमे हुए हैं। इस बीच, महाराष्ट्र कांग्रेस प्रभारी मल्लिकार्जुन खड़गे ने रविवार को जयपुर में कांग्रेस विधायकों से मुलाकात की और राज्य के राजनीतिक हालात पर उनकी राय जानी। वह विधायकों की राय से नई दिल्ली में पार्टी हाईकमान को अवगत कराएंगे। 

सूत्रों के अनुसार, ज्यादातर विधायकों ने शिवसेना के नेतृत्व वाली सरकार को समर्थन देने के पक्ष में राय व्यक्त की है। खड़गे ने हालांकि कहा कि कांग्रेस को विपक्ष में बैठने का जनादेश मिला हुआ है, बाकी निर्णय पार्टी को करना है।