BREAKING NEWS

कोर्ट ने उपमुख्यमंत्री सिसोदिया को क्लीनचिट देने वाली एटीआर की खारिज, नयी रिपोर्ट दाखिल करने के दिए निर्देश ◾राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के सम्मान में आयोजित भोज में शामिल नहीं होंगे पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह◾T20 महिला विश्व कप : भारत ने बांग्लादेश को 18 रन से हराया, लगातार दूसरी जीत दर्ज की ◾TOP 20 NEWS 24 February : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾ताजमहल का दीदार करके दिल्ली पहुंचे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप◾महाराष्ट्र : मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे बोले- गठबंधन के भागीदारों के बीच कोई मतभेद नहीं◾जाफराबाद में CAA को लेकर पथराव, गाड़ियों में लगाई गई आग, एक पुलिसकर्मी की मौत◾मोटेरा स्टेडियम में दिखी ट्रंप और मोदी की दोस्ती, दोनों दिग्गज ने एक-दूसरे की तारीफ में पढ़ें कसीदे ◾दिल्ली के मौजपुर में लगातार दूसरे दिन CAA समर्थक एवं विरोधी समूहों के बीच झड़प ◾CM केजरीवाल और मनीष सिसोदिया ने दिल्ली विधानसभा की सदस्यता की शपथ ली◾ट्रम्प के स्वागत में अहमदाबाद तैयार, छाए भारत-अमेरिकी संबंधों वाले इश्तेहार◾दिल्ली और झारखंड में BJP विधानमंडल दल के नेता का आज होगा ऐलान ◾जाफराबाद में CAA को लेकर हुई पत्थरबाजी के बाद इलाके में तनाव, मेट्रो स्टेशन बंद◾Modi सरकार ने पद्म सम्मान के लिये ‘गुमनाम’ चेहरे खोजे : केंद्रीय मंत्री◾अब कुछ ही घंटो में भारत यात्रा के लिए अहमदाबाद पहुंचेंगे अमेरिकी राष्ट्रपति Trump , मोदी को बताया दोस्त◾मेलानिया का स्वागत करके खुशी होती, हमने अमेरिकी दूतावास की चिंताओं का किया सम्मान : मनीष सिसोदिया◾Trump की भारत यात्रा से किसी महत्वपूर्ण परिणाम के सकारात्मक संकेत नहीं हैं : कांग्रेस◾US राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत के लिए रवाना, कल सुबह 11.55 बजे पहुंचेंगे अहमदाबाद, जानिए ! पूरा कार्यक्रम◾अमेरिकी दूतावास की सफाई - स्कूल में मेलानिया के साथ CM केजरीवाल की मौजूदगी से कोई आपत्ति नहीं◾ट्रंप की भारत यात्रा को लेकर PM मोदी बोले - अमेरिकी राष्ट्रपति के स्वागत को लेकर हिंदुस्तान उत्सुक◾

कावेरी विवाद के विरोध प्रदर्शन में रजनीकांत और कमल हासन के अलावा कई तमिल एक्टर्स हुए शामिल

कावेरी नदी को लेकर उठा विवाद थम नहीं रहा है। कावेरी प्रबंधन बोर्ड के मामले में सुपरस्टार रजनीकांत, कमल हासन और धनुष भी शामिल हो गए हैं। यह पहली बार है कि दोनों ने अपने मतभेदों को भूला कर एक मंच से कावेरी प्रबंधन बोर्ड के गठन की मांग कर रहे हैं। इस संबंध में रजनीकांत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से हस्तक्षेप की अपील की है। संगीतकार इलैयाराजा भी इस प्रदर्शन में शामिल हुए। इससे पहले तमिलनाडु की मुख्य विपक्षी पार्टी डीएमके ने तमिलनाडु बंद का आह्वाहन किया था। दरअसल, केंद्र सरकार की ओर से कावेरी मैनेजमेंट बोर्ड (सीएमबी) गठित न करने के मुद्दे पर डीएमके ने बंद की घोषणा की थी।

मीडिया से बातचीत में स्टालिन ने कहा कि 'पार्टी कार्यकर्ता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 11 अप्रैल के दिन उनके चेन्नई दौरे के दौरान काले झंडे दिखाएंगे। 'वहीं सत्तारुढ़ पार्टी ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (AIADMK) भी केंद्र सरकार से नाराज दिखी थी। एआईएडीएमके के सांसद ए नवनीत कृष्णन ने केंद्र सरकार को आत्महत्या करने धमकी देते हुए कहा था कि अगर केंद्र सरकार कावेरी मैनेजमेंट बोर्ड का निर्माण नहीं हुआ तो पार्टी के सभी सांसद आत्महत्या कर लेंगे। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने कावेरी मैनेजमेंट बोर्ड के बनाए जाने का जिम्मा केंद्र सरकार को दिया था। नवनीत कृष्णन ने बताया कि तमिलनाडु में मांग है कि एआईडीएम के सांसद इस्तीफा दें।

\"Dhanush

लेकिन मैं केंद्र सरकार और राज्य के लोगों को कहना चाहता हूं कि अगर केंद्र सरकार सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुरूप कावेरी जल मैनेजमेंट का गठन नहीं करती है तो हमारे सारे सांसद आत्म हत्या कर लेंगे। एआईडीएमके 13 सदस्य राज्यसभा में और 37 लोकसभा में हैं। रजनीकांत ने आईपीएल टीम चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के खिलाड़ियों से भी इस मामले में विरोध दर्ज कराने के लिए काली बैंड लगाकर खेलने की अपील की है। उन्होंने बीसीसीआई और आईपीएल से लोगों की भावनाओं को समझने की कहा है। राज्य की राजनीतिक पार्टियों ने आईपीएम मैचों के आयोजन पर सवाल उठाए हैं। राज्य की अम्मा मक्कल मुनेत्र कड़गम (एएमएमके) पार्टी के नेता टीटीवी दिनाकरन ने लोगों से मैचों की अनदेखी करने की अपील की है।

द्रविड़ मुन्नेत्र कड़गम (डीएमके) के नेता एमके स्टालिन ने कहा है कि वह आईपीएल मैचों के आयोजन के खिलाफ नहीं हैं लेकिन आयोजकों को लोगों की समस्याओं को समझना चाहिए और उसके हिसाब से कदम उठाना चाहिए। चेन्नई में 10 अप्रैल को चेन्नई सुपर किंग्स और कोलकाता नाइटराइडर्स के बीच मैच खेला जाना है। गौरतलब है कि 16 फरवरी को सुप्रीम कोर्ट ने कावेरी नदी के जल के बंटवारे में तमिलनाडु के हिस्से का पानी घटा दिया और कर्नाटक का हिस्सा बढ़ा दिया था। तभी से इसे लेकर तमिलनाडु में विरोध जारी है।

अन्य विशेष खबरों के लिए पढ़िये पंजाब केसरी की अन्य रिपोर्ट।