BREAKING NEWS

भारत बंद के बीच मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने की केंद्र से मांग- कृषि कानून करें निरस्त ◾ममता ने BJP को बताया नाचने वाले ड्रैगन की जुमला पार्टी, शुभेंदु अधिकारी ने किया तीखा पलटवार ◾भारत बंद : दिल्ली-गुरुग्राम बॉर्डर पर लगा भारी ट्रैफिक जाम, गाड़ियों की लंबी कतारों से DND का भी बुरा हाल◾'भारत बंद' को मिला विपक्ष का समर्थन, कहा- काले कानून वापस लें केंद्र, किसानों का अहिंसक सत्याग्रह है अखंड ◾Coronavirus : देश में पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 26 हजार से अधिक मामले आये सामने ◾World Corona : दुनियाभर में संक्रमितों का आंकड़ा 23.18 करोड़ के करीब, 47.4 लाख से अधिक लोगों की मौत ◾किसानों के भारत बंद के मद्देनजर दिल्ली में मेट्रो स्टेशनों पर सुरक्षा बढ़ी,पुलिस अलर्ट पर ◾भारत बंद : कृषि कानूनों के खिलाफ गाजीपुर बॉर्डर समेत दिल्ली-अमृतसर नेशनल हाइवे को किसानों ने किया जाम◾दस साल तक प्रदर्शन के लिए तैयार हैं, लेकिन कृषि कानूनों को लागू नहीं होने देंगे : राकेश टिकैत◾संयुक्त किसान मोर्चा की सोमवार को भारत बंद के दौरान शांति की अपील, कई राजनीतिक दलों ने दिया समर्थन◾दिग्विजय सिंह ने RSS संचालित सरस्वती शिशु मंदिर के खिलाफ दिया विवादित बयान◾PM मोदी ने नए संसद भवन के निर्माण स्थल का किया दौरा ◾RCB vs MI : पटेल की हैट्रिक और मैक्सवेल के शानदार प्रदर्शन से आरसीबी ने मुंबई इंडियंस को 54 से हराया◾अर्थव्यवस्था की जरूरतों को पूरा करने के लिए भारत को ‘एसबीआई जैसे’ 4-5 बैंकों की जरूरत : सीतारमण◾आरएसएस से जुड़ी साप्ताहिक पत्रिका 'पांचजन्य' ने अमेजन को 'ईस्ट इंडिया कंपनी 2.0' बताया◾‘भारत बंद’ से पहले दिल्ली के सीमावर्ती इलाकों में पुलिस ने गश्त बढ़ायी, अतिरिक्त कर्मियों की तैनाती की◾गन्ना खरीद मूल्य 350 रुपये किए जाने पर प्रियंका का CM योगी पर तंज, कहा- किसानों के साथ किया धोखा◾पारंपरिक पोशाक पहनने वालों को प्रवेश नहीं देने वाले रेस्तरां के खिलाफ हो कार्रवाई : कांग्रेस◾बिहार : CM नीतीश कुमार बोले- राष्ट्र हित में है जातिगत जनगणना◾UP: योगी कैबिनेट में शामिल हुए 7 नए मंत्री, इन विधायकों ने ली शपथ◾

रमेश चेन्नीथला के कांग्रेस पार्टी में पदोन्नत होने की संभावना, मिल सकता है उपाध्यक्ष का पद

केरल विधानसभा में विपक्ष के नेता के रूप में दूसरे कार्यकाल के लिए विचार नहीं किए जाने से नाराज कांग्रेस के दिग्गज नेता रमेश चेन्नीथला को पार्टी में एक शीर्ष पद मिल सकता है। कांग्रेस के 65 वर्षीय दिग्गज नेता चेन्नीथला छात्र आंदोलन के जरिए राजनीति में आगे बढ़े और अब तक लोकसभा में चार बार टर्म पूरा कर चुके हैं। 

चेन्नीथला वर्तमान में चौथी बार विधायक बने हैं। 6 अप्रैल के विधानसभा चुनावों में, उन्होंने विपक्ष के नेता के रूप में नेतृत्व किया और सत्ता हासिल करने की उम्मीद कर रहे थे, लेकिन कांग्रेस के नेतृत्व वाले यूडीएफ को अपमानजनक हार का सामना करना पड़ा और पिनाराई विजयन ने सत्ता बरकरार रखी। चेन्नीथला को विपक्ष के नेता के पद के लिए योग्य नहीं माना गया, और यह वी.डी. सतीसन को दे दिया गया।

सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस में संभावित सुधार की बातचीत के साथ, चार नए कार्यकारी अध्यक्ष हो सकते हैं और उनमें से एक चेन्नीथला होंगे। वह अतीत में महासचिव होने के अलावा कांग्रेस कार्य समिति के सदस्य के रूप में पहले से ही एक कार्यकाल कर चुके हैं। इसलिए पार्टी में उनकी वरिष्ठता को देखते हुए उन्हें पार्टी महासचिव के पद के ऊपर का पद मिलेगा। शायद यह उपाध्यक्ष का पद भी हो सकता है।

चेन्नीथला को 28 साल की छोटी उम्र में तत्कालीन मुख्यमंत्री के. करुणाकरण (1982-87) द्वारा राज्य मंत्री बनाया गया था। 2005 से शुरू होने वाली केरल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के रूप में उनका 9 साल का कार्यकाल भी था, जिसके बाद वे 2014 में ओमन चांडी कैबिनेट में राज्य के गृह मंत्री बने।