BREAKING NEWS

भारत-चीन सीमा विवाद : दोनों पक्ष सैनिकों को पीछे हटाने के लिए वार्ता जारी रखेंगे - विदेश मंत्रालय◾ड्रग्स केस: गोवा से मुंबई पहुंचीं दीपिका पादुकोण, शनिवार को NCB करेगी पूछताछ◾ KXIP vs RCB IPL 2020 : पंजाब ने बैंगलोर को दिया 207 रनों का टारगेट, केएल राहुल ने जड़ा शतक◾महाराष्ट्र में कोरोना के 19164 नए केस, 17185 मरीज हुए ठीक◾जाप ने जारी किया चुनावी घोषणा पत्र, बेरोजगारों को रोजगार देने का किया वादा ◾COVID-19 से संक्रमित मनीष सिसोदिया डेंगू से भी पीड़ित हुए, लगातार गिर रही है ब्लड प्लेटलेट्स◾कृषि और श्रम कानून को लेकर राकांपा का केंद्र पर तंज, कहा- ईस्ट इंडिया कंपनी स्थापित कर रही है सरकार ◾महिला अपराध पर सीएम योगी सख्त, छेड़खानी और बलात्कारियों के पोस्टर लगाने का दिया आदेश ◾कांग्रेस का बड़ा आरोप - केंद्र सरकार ने कृषि विधेयकों के जरिए नयी जमींदारी प्रथा का उद्घाटन किया◾IPL 2020 KXIP vs RCB: रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का किया फैसला◾कृषि बिल के विरोध पर बोले केंद्रीय मंत्री तोमर, कांग्रेस पहले अपने घोषणापत्र से मुकरने की करे घोषणा◾महीनों के लॉकडाउन के बाद भी नहीं थम रहा है कोरोना, जानिये भारत क्यों चुका रहा है भारी कीमत◾केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर ने कहा- विपक्षी दलों की राजनीति हो गई है दिशाहीन ◾ICU में भर्ती डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया की हालत स्थिर, अगले कुछ दिनों में फिर होगा कोरोना टेस्ट ◾रेलवे ने जताई चिंता - 'रेल रोको आंदोलन' से जरूरी सामानों और राशन की आवाजाही पर पड़ेगा असर ◾महाराष्ट्र : एकनाथ शिंदे भी कोरोना वायरस से संक्रमित, संपर्क में आए लोगों से जांच करवाने की अपील की ◾कांग्रेस ने अमित शाह की रैली को बताया जनता का अपमान, कोरोना संकट में धनबल की राजनीति का लगाया आरोप◾Fit India Movement के एक वर्ष पूरा होने पर बोले PM मोदी-जितना फिट होगा इंडिया, उतना हिट होगा इंडिया◾कैग की रिपोर्ट में खुलासा: दिल्ली में लगे 44% CCTV कैमरे खराब, 20 साल पुरानी तकनीक के भरोसे पुलिस◾ श्रम कानून : राहुल गांधी ने सरकार पर साधा निशाना, बोले-किसानों के बाद मजदूरों पर किया वार ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

बागी कर्नाटक विधायकों ने फिर लिखा पुलिस को पत्र, कहा- कांग्रेसी नेताओं से खतरा

मुंबई के एक होटल में ठहरे कर्नाटक के 14 बागी विधायकों ने सोमवार को कांग्रेस के शीर्ष नेताओं से 'खतरा होने' की दोबारा शिकायत की है। बीते पांच दिनों में उनकी ओर से ऐसी शिकायत दूसरी बार आई है। पवई पुलिस थाने के वरिष्ठ निरीक्षक को लिखे पत्र में 14 विधायकों ने यह भी कहा है कि उनका मल्लिकार्जुन खड़गे या गुलाम नबी आजाद या महाराष्ट्र और कर्नाटक कांग्रेस के किसी अन्य कांग्रेसी नेता से मिलने का कोई इरादा नहीं था। 

उन्होंने पुलिस से गुजारिश की है कि वे कांग्रेसी नेताओं को रेनेसां होटल में उन तक पहुंचने से रोकें जहां वे ठहरे हैं, क्योंकि कांग्रेसी नेताओं से उन्हें खतरे की आशंका है। विधायकों ने अपनी शिकायत की एक कॉपी जोन 10 के पुलिस उपायुक्त और होटल की सिक्योरिटी और मैनेजमेंट को भी भेजी है। हालांकि विधायकों द्वारा हस्ताक्षरित पत्र पर पुलिस स्टेशन द्वारा कोई तारीख या मोहर नहीं लगाई गई है।

हिमाचल प्रदेश के सोलन में इमारत ढही , 6 जवान समेत सात लोगों की मौत

ज्ञात हो कि 9 जुलाई को करीब एक दर्जन बागी सांसदों ने मुंबई पुलिस को एक ऐसा ही पत्र लिखा था, जिसमें उन्होंने कर्नाटक के मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता डी. के. शिवकुमार और अन्य कांग्रेसी मंत्रियों से मिलने से मना कर दिया था जो पिछले बुधवार से राज्य में चल रहे राजनीतिक संकट को हल करने के लिए कांग्रेसी नेता बागी विधायकों से मिलने पहुंचे थे।