BREAKING NEWS

निर्वाचन आयोग : चुनाव वाले राज्यों के शीर्ष अधिकारियों से करेगा मुलाकात, कोविड की स्तिथि का लेंगे जायजा ◾ दिग्विजय सिंह के खिलाफ भोपाल पुलिस ने दर्ज की FIR , पूर्व सीएम बोले- हमने कोई अपराध नहीं किया◾पंजाब में नफरत का माहौल पैदा कर रही है कांग्रेस, गजेंद्र सिंह शेखावत ने EC से किया कार्रवाई का आग्रह◾बाबू सिंह कुशवाहा की पार्टी के साथ गठबंधन करेंगे ओवैसी, UP की सत्ता में आने के बाद बनाएंगे 2 CM◾ पिता मुलायम सिंह यादव की कर्मभूमि से लड़ेंगे अखिलेश चुनाव, सपा का आधिकारिक ऐलान◾जम्मू-कश्मीर : शोपियां जिले में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ शुरू, सेना ने रास्ते को किया सील ◾यदि BJP पणजी से किसी अच्छे उम्मीदवार को खड़ा करती है, तो चुनाव नहीं लड़ूंगा: उत्पल पर्रिकर ◾गोवा में BJP के लिए सिरदर्द बनेगा नेताओं का दर्द-ए-टिकट! अब पूर्व CM पार्सेकर छोड़ेंगे पार्टी◾ BSP ने जारी की दूसरे चरण के मतदान क्षेत्रों वाले 51 प्रत्याशियों की सूची, इन नामों पर लगी मोहर◾DM के साथ बैठक में बोले PM मोदी-आजादी के 75 साल बाद भी पीछे रह गए कई जिले◾पूर्व प्रधानमंत्री देवेगौड़ा हुए कोरोना से संक्रमित, ट्वीट कर दी जानकारी ◾यूपी : गृहमंत्री शाह कैराना में करेंगे चुनाव प्रचार, काफी सुर्खियों में था यहां पलायन का मुद्दा ◾उत्तराखंड : टिकट नहीं मिलने से नाराज BJP नेताओं में असंतोष, पार्टी की एकजुटता तोड़ने की दी धमकी ◾मुंबई की 20 मंजिला इमारत में लगी भीषण आग, 7 की मौत, 15 लोग घायल ◾UP में CM कैंडिडेट वाले बयान पर बोलीं प्रियंका-मैं चिढ़ गई थी, क्योंकि.....◾Today's Corona Update : 24 घंटे में 3.37 लाख से ज्यादा नए केस, 488 मरीजों की मौत ◾ UP विधानसभा चुनाव : बिजनौर और अमरोहा का दौरा कर पार्टी नेताओं को जीत का मंत्र देंगे नड्डा◾Weather Update : दिल्ली में हल्की बारिश से बढ़ी ठिठुरन, ठंडी हवाओं के साथ लुढ़का पारा◾World Corona Update : 34.58 करोड़ के पार पहुंचा संक्रमितों का आंकड़ा, 55.8 लाख से ज्यादा लोगों की मौत◾ममता बनर्जी ने गोवा में गठबंधन के लिये सोनिया से किया था संपर्क - TMC◾

SC ने अर्नब गोस्वामी को अंतरिम जमानत देने का बताया कारण, कहा- FIR से साबित नहीं होते आरोप

सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को कहा कि दो साल पुराने आत्महत्या के लिए उकसाने के मामले में पत्रकार अर्नब गोस्वामी और दो अन्य को दी गई। कोर्ट  ने कहा कि अंतरिम जमानत तब तक जारी रहेगी जब तक बंबई उच्च न्यायालय याचिका का निपटारा नहीं कर देता और साथ ही कहा कि न्यायपालिका को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि आपराधिक कानून नागरिकों का चुनिंदा तरीके से उत्पीड़न करने के लिए हथियार ना बनें।

सुप्रीम कोर्ट ने अर्नब को 11 नवंबर को अंतरिम जमानत दी थी। न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़ की अगुवाई वाली पीठ ने इस मामले में टीवी पत्रकार और दो अन्य को राहत देने के कारणों पर प्रकाश डाला। पीठ ने कहा कि आत्महत्या के लिए उकसाने के मामले में दायर याचिका पर बंबई उच्च न्यायालय के फैसला करने के दिन से चार सप्ताह बाद तक पत्रकार अर्नब गोस्वामी की अंतरिम जमानत कायम रहेगी।

पीठ ने यह भी कहा कि उच्चतम न्यायलय,उच्च न्यायालयों, निचली अदालतों को राज्य द्वारा आपराधिक कानून के दुरुपयोग के प्रति सतर्क रहना चाहिए। उन्हें यह सुनिश्चित करना चाहिए कि आपराधिक कानून नागरिकों को चुनिंदा तरीके से उत्पीड़ित करने का हथियार ना बनें।

पीठ ने कहा,‘‘ उन नागरिकों के लिए इस अदालत के दरवाजें बंद नहीं किए जा सकते, जिन्होंने प्रथम दृष्टया यह दिखाया है कि राज्य ने अपनी शक्ति का दुरुपयोग किया।’’ साथ ही कहा कि एक दिन के लिए भी किसी की व्यक्तिगत स्वतंत्रता छीनना गलत है। सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में दो आरोपियों एन सारदा और फिरोज मोहम्मद शेख को 50-50 हजार रुपए के निजी मुचलके पर अंतरिम जमानत दी और उन्हें सबूतों से छेड़छाड़ नहीं करने और जांच में सहयोग करने के निर्देश दिए।

न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़ और न्यायमूर्ति इंदिरा बनर्जी की खंडपीठ ने गत 15 नवंबर को अर्नब और दो अन्य को अंतरिम जमानत पर रिहा करने का आदेश देते हुए कहा था कि वह अपने इस निर्णय को लेकर विस्तृत कारण बाद में जारी करेगा। न्यायालय ने अपने विस्तृत आदेश में कहा कि महाराष्ट्र पुलिस द्वारा दर्ज प्राथमिकी का प्रथम दृष्टया मूल्यांकन उनके खिलाफ आरोप स्थापित नहीं करता है।

बॉम्बे HC में कंगना रनौत की जीत, कोर्ट ने कहा- 'गलत इरादे' से BMC ने की मुंबई ऑफिस में तोड़फोड़