BREAKING NEWS

सीएए के खिलाफ धरने पर बैठे कांग्रेसी नेताओं पर भाजपा का तंज, कहा- पहले राहुल फेल हुए, अब प्रियंका फेल होंगी◾जामिया हिंसा के विरोध में इंडिया गेट पर धरने पर बैठीं प्रियंका गांधी◾झारखंड : अमित शाह बोले- अयोध्या में चार महीने के भीतर बनेगा भव्य राम मंदिर◾जामिया हिंसा पर दिल्ली पुलिस का बयान- बाहर के लोग थे शामिल, अफवाहों से बचें◾उन्नाव रेप केस में कुलदीप सिंह सेंगर दोषी करार, 19 को सुनाई जाएगी सजा ◾NRC के खिलाफ सड़क पर उतरीं ममता बनर्जी, बोलीं- अगर सबका साथ नहीं रहेगा तो सबका विकास कैसे होगा?◾जामिया में हुई झड़प को लेकर बोलीं VC नजमा - बिना अनुमति के कैंपस में घुसी पुलिस, दर्ज कराएंगे FIR◾मायावती ने की नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में हो रही हिंसा की उच्चस्तरीय न्यायिक जांच की मांग◾पुलिस कार्रवाई के खिलाफ जामिया के छात्रों ने कपड़े उतारकर किया विरोध प्रदर्शन ◾जामिया विवाद पर सुप्रीम कोर्ट सख्त, CJI बोले-हिंसा रुकेगी तब होगी मामले की सुनवाई◾जामिया के छात्रों को मिला VC नजमा अख्तर का साथ, बोलीं-अकेले छात्रों की लड़ाई नहीं, मैं हूं उनके साथ◾दिल्ली: जामिया में स्थिति तनावपूर्ण, घर का रुख कर रहे हैं छात्र-छात्राएं◾प्रियंका गांधी बोली- तानाशाह सरकार दबाना चाहती है छात्रों की आवाज, विश्वविद्यालयों में घुसकर छात्रों को पीटा◾Citizenship Amendment Law के विरोध में चल रहे हिंसक प्रदर्शनों के बीच सरिता विहार से कालिंदी कुंज के बीच यातायात बंद◾उन्नाव रेप केस: आरोपी कुलदीप सिंह सेंगर को सजा होगी या नहीं, फैसला आज◾लालू की बहू ऐश्वर्या ने सास पर मारपीट का लगाया आरोप, बोलीं- राबड़ी देवी ने बाल नोंचे और पीटा◾जामिया में प्रदर्शन के दौरान हिरासत में लिए गए 50 छात्र रिहा : दिल्ली पुलिस ◾झारखंड विधानसभा चुनाव: चौथे चरण के लिए 15 सीटों पर मतदान जारी ◾कैब प्रदर्शनों के बाद सभी मेट्रो स्टेशनों पर प्रवेश एवं निकास द्वार खोले गए: DMRC◾जामिया हिंसा : कुछ नेताओं ने जांच की मांग की, तो कुछ ने प्रदर्शनकारियों को ‘‘अराजकतावादी’’ करार दिया ◾

अन्य राज्य

शिवसेना विधायक ने बाढ़ के लिए ‘नौकरशाही की सुस्ती’ को ठहराया जिम्मेदार

 shiv

शिवसेना विधायक उल्हास पाटिल ने पश्चिमी महाराष्ट्र में भारी बारिश के बाद कोल्हापुर और सांगली जिलों में बाढ़ के लिए सोमवार को ‘‘नौकरशाही की सुस्ती’’ को जिम्मेदार ठहराया। पाटिल कोल्हापुर में शिरोल विधानसभा सीट का प्रतिनिधित्व करते हैं। 

पाटिल ने कहा कि उन्होंने पिछले महीने के अंत में क्षेत्र में भारी बारिश होने के पूर्वानुमान को देखते हुए बांधों से पानी छोड़ने जैसे कदम उठाने का जिला प्रशासन से आग्रह किया था। उन्होंने कहा, ‘‘मैंने 31 जुलाई को कोल्हापुर कलेक्टर को पत्र लिख कर कहा था कि कोयना बांध 80 प्रतिशत भरा हुआ है। 

अगस्त के पहले सप्ताह में भारी बारिश होने का पूर्वानुमान व्यक्त किया गया है और मैंने कलेक्टर से पहले ही कुछ पानी छोड़ने जैसे कदम उठाने का अनुरोध किया था।’’ पाटिल ने कहा, ‘‘लेकिन नौकरशाही सुस्ती के कारण कुछ नहीं हुआ। आज हम जान-माल की हानि देख रहे हैं।’’ 

उन्होंने कहा कि उनके अनुरोध के बाद भी कोई एहतियाती कार्रवाई शुरू नहीं की गई और पिछले सप्ताह पूरा क्षेत्र बाढ़ से प्रभावित हो गया। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने रविवार को बाढ़ को लेकर किसी भी विवाद पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया था और कहा था कि उनका ध्यान बारिश से प्रभावित लोगों को सहायता प्रदान करने पर है।