BREAKING NEWS

दिल्ली सरकार शहर में 75 जगहों पर 115 फुट ऊंचे तिरंगों का करेगी ध्वजारोहण ◾बंगाल के पूर्व मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य ने ठुकराया पद्म भूषण सम्मान◾गणतंत्र दिवस : सरकार ने पद्म पुरस्कारों का किया ऐलान, CDS रावत समेत अन्य हस्तियों को दिया जाएगा सम्मान ◾गणतंत्र दिवस : सरकार ने पद्म पुरस्कारों का किया ऐलान, CDS रावत समेत अन्य हस्तियों को दिया जाएगा सम्मान ◾गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का संबोधन- अधिकार और कर्तव्य एक सिक्के के दो पहलू◾दिल्ली कोरोना : बीते 24 घंटों में आए 6,028 मामले, 31 लोगों की हुई मौत ◾RRB-NTPC रिजल्ट को लेकर बिहार में रेलवे ट्रैक पर उतरे छात्र, कई ट्रेनों के मार्ग में बदलाव ◾BJP के बागी नेता मौर्य की बेटी संघमित्रा का बयान, पिताजी की बात PM मोदी तक पहुंची, वह शीघ्र करेंगे समाधान ◾UP चुनाव में अब नहीं है धर्म का फंदा, बाबरी मस्जिद नहीं मुसलमानों के लिए राज्य का विकास अहम मुद्दा ◾Delhi NCR में सीजन का सबसे ठंडा दिन दर्ज किया गया, सामान्य से 4.5 डिग्री कम रहा तापमान◾उत्तराखंड: सतपाल महाराज की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, कांग्रेस हरक सिंह रावत पर दांव खेलने का कर रही विचार ◾धर्म या जिन्ना पर नहीं विकास पर हो बात, प्रियंका बोलीं- BJP नहीं जानती शासन, ध्रुवीकरण की कर रहे राजनीति ◾ नीरज चोपड़ा को पर‍म विशिष्‍ट सेवा मेडल से सम्‍मानित किया जाएगा, जानिए और किन लोगों को मिलेगा पुरस्कार◾देर आया दुरुस्त आया! RPN बोले- कांग्रेस में नहीं रही 32 साल पहले वाली बात, BJP की नीतियों से हूं प्रभावित ◾यूपी : JDU ने जारी की 20 उम्मीदवारों की सूची, BJP से गठबंधन का जवाब न आने पर अकेले लड़ रही चुनाव ◾CM केजरीवाल का एलान- कार्यालय में अंबेडकर और भगत सिंह की लगेंगी तस्वीरें, जानें इसके पीछे के सभी समीकरण◾राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर उप राष्ट्रपति ने दिया बयान, अगले लोकसभा चुनाव में कम से कम 75 % होना चाहिए मतदान ◾राहुल का हाथ छोड़ अब BJP का कमल खिलाएंगे RPN, कांग्रेस बोली- 'कायर' नहीं लड़ सकते हमारी लड़ाई... ◾अपना दल ने पहले और दूसरे चरण के लिए स्टार प्रचारकों की लिस्ट जारी की, जानें- किन किन नेताओं का है नाम?◾नमो ऐप के जरिए बोले पीएम मोदी- पहले देश, फिर दल, यह हमेशा हमारे कार्यकर्ताओं के लिए भाजपा का मंत्र रहा है◾

शिवसेना सांसद राउत ने साधा BJP पर निशाना, कहा- आगामी चुनावों पर है पार्टी की नजर, खेल रही ‘बाहरी’ कार्ड

शिवसेना के सांसद संजय राउत ने अन्य राज्यों से यहां आने वाले प्रवासियों का रिकॉर्ड रखने के राज्य पुलिस को दिए गए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के निर्देश का विरोध करने के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर निशाना साधा और दावा किया कि विपक्षी दल की नजरें अगले साल होने वाले उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव और मुंबई महानगरपालिका चुनावों पर हैं और इसलिए वह ‘बाहरी’ का कार्ड खेल रही है।

राउत ने शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ में अपने साप्ताहिक स्तंभ ‘रोकटोक’ में कहा कि ठाकरे (13 सितंबर को शीर्ष पुलिस अधिकारियों के साथ कानून व्यवस्था की समीक्षा बैठक के दौरान) ने प्रवासियों का जिक्र करते हुए किसी खास राज्य का नाम नहीं लिया था, “लेकिन भाजपा ने घोषित कर दिया कि मुख्यमंत्री का आशय उत्तर भारतीयों से था।” राज्यसभा सदस्य एवं ‘सामना’ के कार्यकारी संपादक ने कहा, “यह और कुछ नहीं बल्कि विभाजन की कोशिश है और ऐसे लोगों के खिलाफ मामले दर्ज होने चाहिए।”

उन्होंने कहा कि मुंबई बांग्ला, उड़िया, असमिया, तमिल और तेलुगु भाषी लोगों का घर है और शहर के माटुंगा और धारावी इलाकों में दक्षिण भारतीयों का वर्चस्व है। वे खुद को कभी बाहरी नहीं बताते हैं। राउत ने कहा, “देश एक होना चाहिए, लेकिन कानून-व्यवस्था बनाए रखना राज्य का विषय है। कार्रवाई करना राज्य सरकार का काम है। ठाकरे का क्या मतलब है, यह समझे बिना, भाजपा ने उप्र विधानसभा और मुंबई निकाय चुनावों के दृष्टिगत बाहरी और प्रवासी कार्ड खेलना शुरू कर दिया।”

उन्होंने कहा, “अगर भाजपा का प्यार उन बाहरी लोगों से है जो आतंकवादी गतिविधियों में मदद करते हैं, महिलाओं के खिलाफ अत्याचार करते हैं और 'भूमि पुत्रों' के जीवन को दयनीय बनाते हैं, तो यह सही नहीं है।” शिवसेना के मुख्य प्रवक्ता ने कहा कि महाराष्ट्र में 'बाहरी' की राजनीति करने वालों को पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव परिणामों से सबक सीखना चाहिए, जहां (तृणमूल कांग्रेस प्रमुख) ममता बनर्जी ने मोदी-शाह को हराने के लिए बंगाली गौरव का इस्तेमाल किया।