BREAKING NEWS

किसान आंदोलन को बदनाम करने की साजिश हुई कामयाब : हन्नान मोल्लाह◾किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान भड़की हिंसा में 300 पुलिसकर्मी हुए घायल, क्राइम ब्रांच करेगी जांच◾ट्रैक्टर परेड हिंसा : संयुक्त किसान मोर्चा ने बुलाई बैठक, सभी पहलुओं पर होगी चर्चा ◾DND फ्लाईओवर पर लगा भारी जाम, लाल किला मेट्रो स्टेशन की एंट्री व एग्जिट बंद ◾Today's Corona Update : देश में पिछले 24 घंटे में 12 हजार नए केस, 137 मरीजों की हुई मौत ◾वीडियो वायरल होने के बाद बोले राकेश टिकैत-लाठी कोई हथियार नहीं◾विश्व में कोरोना का प्रकोप जारी, मरीजों का आंकड़ा 10 करोड़ से पार ◾किसानों की ट्रैक्टर परेड में बवाल, दिल्ली पुलिस ने हिंसा के मामले में 22 FIR दर्ज की ◾TOP 5 NEWS 27 DECEMBER : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें ◾राकांपा अध्यक्ष शरद पवार बोले- दिल्ली में जो कुछ हुआ, उसका समर्थन नहीं किया जा सकता ◾संयुक्त किसान मोर्चा ने की दिल्ली में ट्रैक्टर परेड के दौरान भड़की हिंसा की निंदा ◾आज का राशिफल (27 जनवरी 2021)◾ट्रैक्टर मार्च के दौरान हिंसा के बाद इंटरनेट सेवाएं बंद◾दिल्ली में किसानों की ट्रैक्टर परेड में हुई हिंसा, लालकिले में भी प्रदर्शनकारियों ने मचाया उत्पात ◾प्रदर्शनकारी किसानों की ‘ट्रैक्टर परेड’ के दौरान हिंसा में 86 पुलिसकर्मी घायल हुए◾ट्रैक्टर परेड के बाद किसानों ने दिल्ली की सीमाओं पर अपने प्रदर्शन शिविरों में लौटना शुरू किया◾बवाल : गाजीपुर, सिंघू, टिकरी बॉर्डर से बैरिकेड तोड़ दिल्ली में घुसे किसान, पुलिस ने दागे आंसूगैस के गोले ◾राजपथ पर अत्याधुनिक हथियार, मिसाइल, लड़ाकू विमानों, भारतीय सैनिकों ने दिखाई भारत की ताकत ◾72वां गणतंत्र दिवस : राजपथ पर दिखी ऐतिहासिक विरासत, सांस्कृतिक धरोहर और शौर्य की झलक◾पीएम मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने देशवासियों को गणतंत्र दिवस की दी शुभकामनाएं ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

सीताराम येचुरी ने की जनता से NPR और एनआरसी पर जवाब नहीं देने की अपील

माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने राष्ट्रीय नागरिकता पंजी (एनआरसी) और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) को संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) का हिस्सा बताते हुये लोगों से एनपीआर और एनआरसी के जवाब नहीं देकर इसका विरोध करने की अपील की है।

येचुरी ने ट्वीट कर कहा, "हम सब आजाद भारत के सिपाही हैं, भारत के संविधान को बचाना है।" उन्होंने सरकार से सीएए वापस लेने की मांग करते हुये कहा, "सीएए वापस लो, एनपीआर में जवाब नहीं देंगे, एनआरसी में कागज नहीं दिखायेंगे।" 

उल्लेखनीय है कि वामदलों ने सीएए और एनआरसी का देशव्यापी विरोध करते हुये विभिन्न राज्यों में इनके खिलाफ जनजागरण अभियान चलाया है। येचुरी सहित वामदलों के अन्य वरिष्ठ नेता सीएए के विरोध में एक महीने तक विभिन्न शहरों में आयोजित रैलियों में शिरकत कर लोगों से एनपीआर और एनआरसी में शामिल नहीं होने की अपील कर रहे हैं।