BREAKING NEWS

स्वतंत्रता दिवस पर राष्ट्रीय राजधानी में देशभक्ति का जोश◾बिहार में कैबिनेट विस्तार आज, करीब 30 मंत्री होंगे शामिल ◾Bilkis Bano case : उम्रकैद की सजा पाए सभी 11 दोषी गुजरात सरकार की क्षमा नीति के तहत रिहा◾Independence Day 2022 : पीएम मोदी ने स्वतंत्रता दिवस की बधाई देने वाले वैश्विक नेताओं का किया आभार व्यक्त ◾Independence Day 2022 : सीमा पर तैनात भारत और पाकिस्तान के सैनिकों ने मिठाइयों का किया आदान प्रदान ◾Independence Day 2022 : विश्व नेताओं ने स्वतंत्रता के 75 वर्षों में भारत की उपलब्धियों की सराहना की◾Independence Day 2022 : लाल किले की प्राचीर से पीएम मोदी ने दिया 'जय अनुसंधान' का नारा,नवोन्मेष को मिलेगा बढ़ावा◾स्वतंत्रता दिवस पर गहलोत ने फहराया झंडा! CM ने कहा- देश के स्वर्णिम इतिहास से प्रेरणा ले युवा ◾क्रूर तालिबान का सत्ता में एक साल पूरा : कितना बदला अफगानिस्तान, गरीबी का बढ़ा दायरा ◾नगालैंड : स्वतंत्रता दिवस पर उग्रवादियों के मंसूबे नाकाम, मुठभेड़ में असम राइफल्स के दो जवान घायल◾शशि थरूर के टी जलील की विवादित टिप्पणी पर भड़के, कहा- देश से ‘तत्काल' माफी मांगनी चाहिए◾विपक्ष का मोदी पर तीखा वार, कहा- महिलाओं के प्रति अपनी पार्टी का रवैया देखें प्रधानमंत्री◾स्वतंत्रता दिवस की 76 वी वर्षगांठ पर सीएम ने किया 75 ‘आम आदमी क्लीनिक’ का उद्घाटन ◾Bihar: 76वें स्वतंत्रता दिवस पर बोले नीतीश- कई चुनौतियों के बावजूद बिहार प्रगति के पथ पर अग्रसर ◾मध्यप्रदेश : आपसी झगड़े के बीच बम का धमाका, एक की मौत , 15 घायल◾बेटा ही बना पिता व बहनों की जान का दुश्मन, संपत्ति विवाद के चलते की धारदार हथियार से हत्या ◾स्वतंत्रता दिवस पर मोदी की गूंज! पीएम ने कहा- हर घर तिरंगा’ अभियान को मिली प्रतिक्रिया...... पुनर्जागरण का संकेत◾उधोगपति मुकेश अंबानी के परिवार को जान से मारने की धमकी, जांच शुरू◾स्वतंत्रता दिवस पर बोले केजरीवाल- 130 करोड़ लोगों को मिलकर नए भारत की नीव रखनी है, मुफ्तखोरी को लेकर कही यह बात ◾Independence Day 2022 : देश में सहकारी प्रतिस्पर्धी संघवाद की जरूरत : पीएम मोदी ◾

गोवा के CM को लेकर जल्द खत्म होगा सस्पेंस, नरेंद्र तोमर कर रहे विधायक दल की बैठक की अध्यक्षता

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर राज्य में पार्टी की गठबंधन सरकार का नेतृत्व करने के लिए अपने मुख्यमंत्री के नाम को औपचारिक रूप देने के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नवनिर्वाचित विधायकों की एक महत्वपूर्ण बैठक से कुछ घंटे पहले सोमवार को गोवा पहुंचे। तोमर, जो भाजपा के सर्वोच्च निर्णय लेने वाले निकाय - केंद्रीय संसदीय बोर्ड के दूत हैं- उनके साथ केंद्रीय मत्स्य राज्य मंत्री एल. मुरुगन भी हैं। तोमर शाम को होने वाली बैठक की अध्यक्षता कर रहे हैं, जिसके बाद औपचारिक रूप से सरकार बनाने का दावा करने वाला एक पत्र राज्यपाल को भेजा जाएगा।

नरेंद्र सिंह तोमर पहुंचे गोवा, बैठक की करेंगे अध्यक्षता 

तोमर ने डाबोलिम अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचने के तुरंत बाद संवाददाताओं से कहा, आज शाम हो रही विधायकों की इस बैठक में भाजपा का विधायक दल अपना नेता चुनेगा। मैं केंद्रीय राज्य मंत्री मुरुगन के साथ यहां हूं। हम सभी पार्टी कार्यकर्ताओं और विधायकों से मिलेंगे और नेतृत्व के लिए चुनाव प्रक्रिया समाप्त करेंगे। तोमर ने यह भी कहा, विधायक दल की बैठक समाप्त होते ही हम राज्यपाल के साथ बैठक की मांग करेंगे।

प्रमोद सावंत और विश्वजीत राणे में CM पद को लेकर दौड़ 

भाजपा ने 14 फरवरी को हुए चुनाव में 20 सीटें जीती थीं, जो 40 सदस्यीय सदन में 21 के बहुमत से सिर्फ एक कम है। तीन निर्दलीय विधायकों और महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी के दो विधायकों सहित पांच विधायक पहले ही भाजपा को समर्थन पत्र भेज चुके हैं। दिलचस्प बात यह है कि जब से 10 मार्च को चुनाव परिणाम सामने आए हैं, 2019-22 तक सीएम पद की जिम्मेदारी संभालने वाले कार्यवाहक मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री और उनके कट्टर प्रतिद्वंद्वी विश्वजीत राणे के बीच सीएम पद की दौड़ के बीच, भाजपा मुख्यमंत्री की अपनी पसंद पर विचार कर रही है।

सावंत और राणे अमित शाह के आवास पर हुई बैठक में थे मौजूद

सूत्रों के मुताबिक, दोनों नेता रविवार रात केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के आवास पर हुई बैठक में मौजूद थे, जहां नेतृत्व के मुद्दे पर चर्चा हुई। भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व ने गोवा विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष और वर्तमान में हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल राजेंद्र अर्लेकर को भी नेतृत्व की चर्चा में शामिल किया है। गोवा पर भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व के साथ बातचीत में अर्लेकर की सक्रिय भागीदारी ने अटकलों को जन्म दिया है कि क्या पार्टी 2017 के विधानसभा चुनावों के बाद अपनी रणनीति को दोहराएगी, जब उसने तत्कालीन रक्षा मंत्री दिवंगत मनोहर पर्रिकर को नए मुख्यमंत्री की जिम्मेदारी सौंपी थी।

BJP के भीतर कोई लड़ाई नहीं?

यह कहते हुए कि सरकार गठन में देरी कोई राज्य विशेष का मुद्दा नहीं है, तोमर ने हालांकि जोर देकर कहा कि भाजपा के भीतर कोई लड़ाई नहीं है। तोमर ने कहा, आंतरिक कलह का कोई सवाल ही नहीं है। भाजपा एक संयुक्त पार्टी है और इसका एक संविधान है, इसकी एक कार्यशैली है। चुनाव के बाद विधायक दल की बैठक होती है और यह एक ऐसे नेता का चयन करती है जो मुख्यमंत्री बनता है। यह पूछे जाने पर कि गोवा में शपथ ग्रहण और सरकार गठन की प्रक्रिया में देरी क्यों हुई, तोमर ने कहा, चार अन्य राज्यों में हमने अभी तक कोई शपथ ग्रहण नहीं किया है।