BREAKING NEWS

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर कांग्रेस का केंद्र पर तंज, कहा- सरकार सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों को बेच रही है◾पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों पर बोलीं वित्त मंत्री- केंद्र और राज्य सरकार दोनों को साथ चर्चा करनी चाहिए◾Ind vs Eng : ऋषभ पंत के शतक से भारत को पहली पारी में बढ़त, दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक स्कोर 294/7 ◾SC ने कहा- डिजिटल प्लेटफॉर्म के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए केंद्र सरकार के पास कोई प्रावधान नहीं◾देश में 1.8 करोड़ से अधिक लोगों का हुआ कोविड-19 टीकाकरण, देश में अभी भी 1,76,319 लोग उपचाराधीन ◾बंगाल चुनाव : TMC ने जारी की उम्मीदवारों की लिस्ट, नंदीग्राम से चुनाव लड़ेंगी ममता◾विधानसभा चुनाव : अन्नाद्रमुक ने जारी की पहली उम्मीदवारों की सूची, CM पलानीस्वामी लड़ेंगे इडाप्पडी से चुनाव◾चीन ने अपना रक्षा बजट बढ़ाकर किया 209 अरब डालर, भारत के मुकाबले तीन गुना से अधिक ◾PM मोदी बोले-सरकार का दखल समाधान के बजाय पैदा करता है समस्या◾सुशांत ड्रग्‍स केस में NCB ने दाखिल की 30 हज़ार पेज की चार्जशीट, रिया समेत 33 लोगों के नाम शामिल ◾Tax कमाने के लिए जनता को महंगाई के दलदल में धकेलती जा रही है सरकार : राहुल◾Today's Corona Update : देश में कोरोना के 16,838 नए मामले, 113 और मरीजों की मौत ◾बंगाल चुनाव से 14 दिन पहले राकेश टिकैत करेंगे बंगाल का दौरा, BJP के खिलाफ करेंगे कैंपेन ◾केवड़िया : शीर्ष सैन्य अधिकारियों के सम्मेलन को संबोधित करेंगे PM मोदी, जवान भी करेंगे शिरकत ◾कोविड-19 टीकाकरण प्रमाणपत्र पर प्रधानमंत्री की तस्वीर संबंधी शिकायत पर चुनाव आयोग सख्त, रिपोर्ट मांगी ◾न्यूजीलैंड में शक्तिशाली भूकंप के बाद सुनामी की चेतावनी◾भाजपा सीईसी की मैराथन बैठक में असम, बंगाल के उम्मीदवारों पर हुआ मंथन,आज नामों की हो सकती है घोषणा ◾पाकिस्तान को भारत के साथ वार्ता से कभी गुरेज नहीं: विदेश कार्यालय ◾भारत में कोविड-19 के 1.77 करोड़ से अधिक टीके लगाए गए ◾भाजपा ने निर्वाचन आयोग से बंगाल के स्थानीय निकायों में नियुक्त राजनीतिक लोगों को हटाने की मांग की ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

वेब सीरीज 'तांडव' की बढ़ी मुश्किलें, MP के मंत्री और प्रोटेम स्पीकर ने की प्रतिबंध की मांग

अमेज़न प्राइम वीडियो की चर्चित वेब सीरीज 'तांडव' पर शुरू हुआ बवाल बढ़ता ही जा रहा है। मध्य प्रदेश के मंत्री विश्वास सारंग और प्रदेश विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने वेब सीरिज पर प्रतिबंध लगाए जाने की मांग की है। इस संबंध में विश्वास सारंग ने केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को पत्र लिखा है।

सारंग ने सोमवार को कहा कि यह ‘‘बहुत दुर्भाग्यपूर्ण’’ है कि बहुसंख्यक समुदाय के देवी-देवताओं का इस प्रकार मजाक उड़ाया जाता है। उन्होंने कहा, "ओटीटी प्लेटफार्म्स के लिए एक सेंसर बोर्ड की जरूरत है क्योंकि लोगों में यह तेजी से लोकप्रिय हो रहा है।’’ सारंग ने कहा, ‘‘मैंने सूचना एवं प्रसारण मंत्री को पत्र लिखकर इस सीरिज पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है। इसके साथ ही मैंने यह भी कहा कि ओटीटी प्लेटफार्मों को नियंत्रित करने के लिए एक कानून होना चाहिए।’’ 

मंत्री ने कहा कि इसके साथ ही उन्होंने अमेजन प्राइम के सीईओ को भी पत्र भेजकर वेब सीरीज को तुरंत वापस लेने के लिये कहा है। उन्होंने कहा, ‘‘अगर वे इस सीरीज को वापस नहीं लेते हैं तो हम समाज से ऐसे ओटीटी प्लेटफॉर्म्स का बहिष्कार करने की अपील करेंगे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं सभी से अनुरोध करता हूं कि इस संबंध में ओटीटी प्लेटफॉर्म अमेजन प्राइम के सीईओ को मेल भेजें।’’ 

प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने भी सूचना एवं प्रसारण मंत्री से "तांडव" वेब सीरीज पर प्रतिबंध लगाने का आग्रह किया और कहा कि विभिन्न संगठनों और व्यक्तियों ने इसका विरोध किया है क्योंकि इसमें कथित तौर पर हिंदू देवी-देवताओं पर उपहास किया गया है। रामेश्वर शर्मा ने कहा, ‘‘ ऐसे ओटीटी प्लेटफॉर्म पर हिंदू देवी-देवताओं की खिल्ली उड़ाने की कोशिशों को रोकने के लिए देश में एक कानून होना चाहिए। लोग दूसरे धर्मों की खिल्ली उड़ाने की हिम्मत क्यों नहीं करते? हिंदू देवी-देवताओं का हर बार क्यों मजाक उड़ाया जाता है? इस वेब सीरीज पर प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए।’’ 

इससे पहले भाजपा सांसद मनोज कोटक और मुंबई में पार्टी के विधायक राम कदम भी इस वेब सीरीज को लेकर आपत्ति जता चुके हैं। अभिनेता सैफ अली खान, डिंपल कपाड़िया, सुनील ग्रोवर, तिग्मांशु धूलिया, डिनो मोरिया, कुमुद मिश्रा, मोहम्मद जीशान अयूब, गौहर खान और कृतिका कामरा अभिनीत 'तांडव' का शुक्रवार को अमेजन प्राइम ओटीटी पर प्रीमियर हुआ। 

फिल्मकार अली अब्बास जफर ने हिमांशु किशन मेहरा के साथ इस राजनीतिक नाटक का निर्माण, व निर्देशन है। इसे गौरव सोलंकी ने लिखा है, जो फिल्म ‘‘आर्टिकल 15’’ के लेखन के लिये जाने जाते हैं। इस सीरीज की शिकायतों का संज्ञान लेते हुए रविवार को सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने इस मुद्दे पर अमेजन प्राइम से स्पष्टीकरण मांगा। रविवार को अमेजन प्राइम के पीआर (जनसंपर्क) ने कहा कि प्लेटफॉर्म इस मामले पर ' जवाब नहीं देगा।’’ 

सरकार ने हाल ही में नेटफ्लिक्स, अमेजन प्राइम वीडियो, डिज्नी हॉट स्टार जैसे ओटीटी प्लेटफॉर्म और ऑनलाइन समाचा को सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के दायरे में रखा है। मंत्रालय को डिजिटल प्लेटफार्म्स के लिये नीतियां और नियम निर्धारित करने की शक्तियां भी दी गयी हैं