BREAKING NEWS

केंद्र सरकार को कम से कम अब हमसे बात करनी चाहिए: शाहीन बाग प्रदर्शनकारी ◾केजरीवाल ने जल विभाग सत्येंन्द्र जैन को दिया, राय को मिला पर्यावरण विभाग ◾कश्मीर पर टिप्पणी करने वाली ब्रिटिश सांसद का भारत ने किया वीजा रद्द, दुबई लौटा दिया गया◾हर्षवर्धन ने वुहान से लाए गए भारतीयों से की मुलाकात, आईटीबीपी के शिविर से 200 लोगों को मिली छुट्टी ◾ जामिया प्रदर्शन: अदालत ने शरजील इमाम को एक दिन की पुलिस हिरासत में भेजा ◾दिल्ली सरकार होली के बाद अपना बजट पेश करेगी : सिसोदिया ◾झारखंड विकास मोर्चा का भाजपा में विलय मरांडी का पुनः गृह प्रवेश : अमित शाह ◾दोषियों के खिलाफ नए डेथ वारंट पर निर्भया की मां ने कहा - उम्मीद है आदेश का पालन होगा ◾TOP 20 NEWS 17 February : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾सीएए के खिलाफ विरोध प्रदर्शन राजनीतिक दुर्भावना से प्रेरित : रविशंकर प्रसाद ◾शाहीन बाग पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा - प्रदर्शन करने का हक़ है पर दूसरों के लिए परेशानी पैदा करके नहीं ◾निर्भया मामले में कोर्ट ने जारी किया नया डेथ वारंट , 3 मार्च को दी जाएगी फांसी◾महिला सैन्य अधिकारियों पर कोर्ट का फैसला केंद्र सरकार को करारा जवाब : प्रियंका गांधी वाड्रा◾शाहीन बाग : प्रदर्शनकारियों से बात करने के लिए SC ने नियुक्त किए वार्ताकार◾सड़क पर उतरने वाले बयान पर कायम हैं सिंधिया, कही ये बात ◾गार्गी कॉलेज मामले में जांच की मांग वाली याचिका पर कोर्ट ने केन्द्र और CBI को जारी किया नोटिस◾SC ने दिल्ली HC के फैसले पर लगाई मोहर, सेना में महिला अधिकारियों को मिलेगा स्थाई कमीशन◾निर्भया मामले को लेकर आज कोर्ट में सुनवाई, जारी हो सकता है नया डेथ वारंट◾शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों को हटाने के लिए निर्देशों की मांग करने वाली याचिकाओं पर SC में सुनवाई आज ◾केजरीवाल की तारीफ पर आपस में भिड़े कांग्रेस नेता देवरा - माकन, अलका लांबा ने भी कस दिया तंज ◾

मुरैना की धरती स्वादिष्ट गजक के रूप में अपनी पहचान विदेशों भी बनायेगी

मध्यप्रदेश में चम्बल के बीहड़ के लिये प्रसिद्ध मुरैना की धरती जल्द ही स्वादिष्ट गजक के रूप में अपनी पहचान देश में ही नहीं विदेशों में भी बनायेगी। इसके लिये प्रदेश सरकार ने गजक उत्पाद को जी.आई। टैग दिलाने की तैयारी कर ली है। इसके बाद यहां की गजक की मिठास विदेशों में भी घुलेगी। 

यह बात क्षेत्रीय विधायक रघुराज सिंह कंषाना ने आज गजक मीठोत्सव मेले के समापन समारोह को सम्बोधित करते हुए कही। इस अवसर पर उन्होंने जिला प्रशासन और उद्यमिता विकास सैडमैप के माध्यम से तैयार कराई ‘गजक की मिठास मुरैना की पहचान’ पुस्तक का विमोचन भी किया। श्री कंषाना ने कहा कि गजक मीठोत्सव प्रतिवर्ष आयोजित हो।

 

समारोह को सम्बोधित करते हुए जिला कलेक्टर श्रीमती प्रियंका दास ने कहा कि मेरे मन में एक सोच थी कि क्यों न मुरैना की गजक की पहचान विदेशों में कराई जाये। इसके लिये यहां मीठोत्सव का मेला लगाया जाये। जिससे लोगों में जागरूकता आयेगी और वे गजक के महत्व को समझेंगे। इस उद्देश्य से गजक की मिठास, मुरैना की पहचान पुस्तक तैयार कराई, जिसका आज विधायक की अध्यक्षता में विमोचन किया गया है। 

पुस्तक में मुरैना जिले में लगभग 100 वर्ष पूर्व से बनाई जाने वाली गजक एवं उसके महत्व तथा स्वास्थ्य के लिये लाभदायक सभी बिन्दुओं को दर्शाया गया है। पुस्तक में गजक खाने के फायदे, गजक बनने की विधि आदि का वर्णन किया गया है। 

गजक महोत्सव में 500 ग्राम से अधिक गजक खरीदने वाले लोगों को लकी ड्रॉ प्रदान किया गया था। जिसमें डॉ। मीरा बांदिल को प्रथम, किरन सेंगर को द्वितीय अरविन्द माहौर को तृतीय एवं चन्द्रप्रकाश शर्मा को चतुर्थ पुरूस्कार प्रदान किया गया। इसमें 25 विजेताओं को सांत्वना पुरूस्कार दिये गये। 

बेस्ट गजक में सूरज शिवहरे, वैष्णो गजक भण्डार, क्वालिटी में कमरूद्दीन खांन, कमल गजक भण्डार, बेस्ट गजक डिजायन में पिंकी पचौरी, कमल गजक भण्डार, मिक्स गजक आकाश शिवहरे, गोपी गजक भण्डार और बेस्ट गजक इनोवेशन फ्लेवर में संजय शिवहरे, गणेश गजक भण्डार को पुरूस्कार प्रदान किये गये।