BREAKING NEWS

बापू की तुलना राखी सांवत से करने पर विवादों में घिरे UP विधानसभा अध्यक्ष, देर रात ट्वीट कर देनी पड़ी सफाई ◾विश्व में कोरोना के मामलों का आंकड़ा 22.84 करोड़ से अधिक, अबतक 46.9 लाख से ज्यादा लोगों की हुई मौत◾तालिबान ने फिर से जारी किया नया फरमान, महिला कर्मचारियों को घर पर ही रहने का दिया आदेश ◾पंजाब : चरणजीत सिंह चन्नी आज लेंगे मुख्यमंत्री पद की शपथ, कई नेता समारोह में होंगे शामिल ◾पंजाब में दलित मुख्यमंत्री बनाने के साथ कांग्रेस का लक्ष्य यूपी और उत्तराखंड◾सऊदी विदेश मंत्री के साथ अफगानिस्तान पर विचारों का ‘बहुत उपयोगी’ आदान प्रदान हुआ - जयशंकर◾BJP ने चन्नी को पंजाब का मुख्यमंत्री चुनने पर कांग्रेस पर निशाना साधा◾कांग्रेस नेताओं को पंजाब की उथल-पुथल के अन्य जगहों पर भी असर होने की आशंका◾RSS चीफ ने प्रशासन में संघ के हस्तक्षेप के आरोपों को किया खारिज ◾CSK vs MI : गायकवाड़ और गेंदबाजों ने सुपरकिंग्स को दिलाई जीत◾आईपीएल 2021 के बाद आरसीबी की कप्तानी छोड़ेंगे कोहली◾चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री चुने जाने पर बीजेपी ने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा- बहुत बढ़िया राहुल ◾चरणजीत सिंह चन्नी को राहुल और अमरिंदर ने दी बधाई, बोले- उम्मीद करता हूं कि पंजाब को सुरक्षित रख सकेंगे◾UP : सलमान खुर्शीद बोले- आगामी चुनाव में जनता नफरत और बंटवारे की राजनीति करने वालों को घर बिठाएगी◾पंजाब के राज्यपाल से मिले चरणजीत सिंह चन्नी, कल सुबह 11 बजे लेंगे मुख्यमंत्री पद की शपथ◾चरणजीत चन्नी होंगे पंजाब के नए मुख्यमंत्री, रंधावा ने हाईकमान के फैसले का किया स्वागत◾महबूबा मुफ्ती ने भाजपा पर साधा निशाना, कहा- वोट लेने के लिए पाकिस्तान का करती है इस्तेमाल ◾आतंकियों की नापाक साजिश होगी नाकाम, ड्रोन के लिए काल बनेगी ‘पंप एक्शन गन’! सरकार ने सुरक्षा बलों को दिए निर्देश◾TMC में शामिल होने के बाद बाबुल सुप्रियो ने रखी दिल की बात, बोले- जिंदगी ने मेरे लिए नया रास्ता खोल दिया है ◾सिद्धू पर लगे एंटीनेशनल के आरोपों पर BJP का सवाल, सोनिया और राहुल चुप क्यों हैं?◾

ममता सरकार का आरोप - चुनाव के बाद हुई हिंसा की जांच कर रही समिति के सदस्यों के भाजपा से संबंध

पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की सरकार ने कलकत्ता उच्च न्यायालय में दाखिल हलफनामे में आरोप लगाया है कि चुनाव के बाद हुईं हिंसक घटनाओं की जांच कर रही राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) की समिति का राज्य सरकार के खिलाफ पक्षपाती रवैया रहा है। 

सोमवार को अदालत में पेश हलफनामे में यह दावा भी किया गया है कि समिति के सदस्यों के भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के साथ करीबी संबंध हैं। एनएचआरसी समिति ने हाल में अदालत में पेश अपनी रिपोर्ट में ममता बनर्जी सरकार की आलोचना करते हुए कहा था, ''राज्य में कानून-व्यवस्था के बजाय शासक के कानून की झलक दिखाई देती है।'' 

समिति ने ''हत्या और बलात्कार जैसे संगीन अपराधों'' की सीबीआई जांच कराने की अनुशंसा की थी। आयोग के अध्यक्ष ने अदालत के आदेश पर इस समिति का गठन किया था। टीएमसी सरकार द्वारा पेश हलफनामे में कहा गया है कि समिति के सदस्यों के ''भाजपा या केन्द्र सरकार के साथ करीबी संबंध हैं। समिति और कथित फील्ड टीमों का गठन पश्चिम बंगाल राज्य में सत्तारूढ़ सरकार के खिलाफ पूर्वाग्रह से भरा हुआ है। '' 

हलफनामे में कहा गया है, ''यह स्पष्ट हो जाएगा कि समिति का गठन जानबूझकर पश्चिम बंगाल में पूरे राज्य तंत्र को निशाना बनाने के लिए किया गया है।'' कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश राजेश बिंदल की अध्यक्षता वाली उच्च न्यायालय की पांच-न्यायाधीशों की पीठ द्वारा बुधवार को मामले की सुनवाई की जानी है।