BREAKING NEWS

ट्रैक्टर परेड हिंसा : योगेन्द्र यादव, टिकैत, पाटकर सहित 37 किसान नेताओं के खिलाफ नामजद प्राथमिकी ◾राजनाथ ने अमेरिका के नये रक्षा मंत्री ऑस्टिन से क्षेत्रीय, वैश्विक मुद्दों पर बात की ◾बंगाल विधानसभा का दो दिवसीय सत्र शुरू, कृषि कानूनों के खिलाफ प्रस्ताव लाएगी तृणमूल ◾हिंसा में शामिल थे किसान नेता, शर्तों को नहीं मानकर किया विश्वासघात : पुलिस कमिश्नर◾केंद्र सरकार ने जारी की नई गाइडलाइंस,1 फरवरी से खुलेंगे सिनेमा हॉल और स्वीमिंग पूल◾आप नेता राघव चड्डा ने हिंसा के मुद्दे पर बीजेपी को घेरा, लगाए कई गंभीर आरोप◾दिल्ली में हिंसा के लिए गृह मंत्री जिम्मेदार, कांग्रेस ने कहा- केवल 30 से 40 ट्रैक्टर लेकर उपद्रवी लाल किले में कैसे घुस पाए?◾हिंसा के बाद किसान आंदोलन में पड़ी दरार, दो संगठनों ने खुद को किया अलग◾26 जनवरी हिंसा: राकेश टिकैत, अन्य किसान नेताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज◾गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसा के बाद गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली में कानून-व्यवस्था की समीक्षा की ◾संयुक्त किसान मोर्चा की सफाई - असामाजिक तत्वों ने शांतिपूर्ण प्रदर्शनों को नष्ट करने की कोशिश की◾दिल्ली पुलिस ने ट्रैक्टर परेड में हिंसा के संबंध 200 लोगों को हिरासत में लिया, पूछताछ जारी ◾BCCI प्रमुख सौरव गांगुली को सीने में दर्द, अपोलो हॉस्पिटल में कराया गया एडमिट ◾नेपाल में कोविड टीकाकरण का पहला चरण शुरू, भारत ने तोहफे में दी है 10 लाख वैक्सीन डोज◾ किसान ट्रैक्टर परेड: गणतंत्र दिवस पर हिंसा की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल◾दो दिवसीय दौरे पर केरल पहुंचे राहुल, मलप्पुरम में गर्ल्स स्कूल के भवन का किया उद्घाटन ◾किसान आंदोलन को बदनाम करने की साजिश हुई कामयाब : हन्नान मोल्लाह◾किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान भड़की हिंसा में 300 पुलिसकर्मी हुए घायल, क्राइम ब्रांच करेगी जांच◾ट्रैक्टर परेड हिंसा : संयुक्त किसान मोर्चा ने बुलाई बैठक, सभी पहलुओं पर होगी चर्चा ◾DND फ्लाईओवर पर लगा भारी जाम, लाल किला मेट्रो स्टेशन की एंट्री व एग्जिट बंद ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

कैलाश सारंग का पार्थिव शरीर पंहुचा भोपाल, CM शिवराज समेत अन्य नेताओं ने दी श्रद्धांजलि

मध्य प्रदेश के वरिष्ठ भाजपा नेता और पूर्व संसद सदस्य कैलाश सारंग का शनिवार को मुंबई के एक अस्पताल में निधन हो गया। उनके निधन की खबर भाजपा के लिए एक बड़े झटके के रूप में आई, खासकर मध्य प्रदेश इकाई के लिए। कैलाश सारंग लंबे समय से अस्वस्थ थे और लगभग 2 महीने पहले उन्हें एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था। भोपाल के एक अस्पताल में इलाज के बाद उन्हें मुंबई ले जाया गया।

उनके पुत्र विश्वास सारंग मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की सरकार में चिकित्सा शिक्षा मंत्री हैं। कैलाश सारंग ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर एक किताब भी लिखी थी, जिसका शीर्षक था 'नरेंद्र से नरेंद्र'। सारंग के शव को रविवार को मुंबई से भोपाल लाया जा चुका है, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने दिवंगत नेता स्वर्गीय कैलाश सारंग का पार्थिव शरीर स्टेट हैंगर भोपाल पहुंचने पर श्रद्धांजलि अर्पित की। मुख्यमंत्री ने स्वर्गीय कैलाश सारंग के दोनों बेटों विवेक सारंग और विश्वास सारंग के साथ ही सारंग परिवार के शोकाकुल सदस्यों को ढांढस बंधाया।

बता दें कि इससे पहले मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने ट्वीट में लिखा, "हमारे प्रिय बाबूजी कैलाश सारंग जी, जो हमारे सभी कार्यकर्ताओं के मार्गदर्शक थे, जिन्होंने मुझे एक पिता की तरह स्नेह, प्यार और आशीर्वाद दिया, उनका आज निधन हो गया। मेरा दिल व्यथित है और मन दर्द से भर गया है। भगवान उनकी आत्मा को अपने चरणों में जगह दें। "

इसके अलावा एक और ट्वीट में सीएम शिवराज ने लिखा कि "आदरणीय कैलाश सारंग के निधन से, हमने जनसंघ और भारतीय जनता पार्टी का एक बहुत महत्वपूर्ण स्तंभ खो दिया है। उन्होंने व्यक्तिगत रूप से हर समय मेरा मार्गदर्शन किया। उनके जाने के कारण, मध्य प्रदेश की राजनीति में बहुत बड़ा शून्य पैदा होगा। जो कभी भर नहीं पाएगा। कैलाश सारंग जी ने अपना पूरा जीवन जनसंघ और भारतीय जनता पार्टी और समाज के उत्थान के लिए समर्पित कर दिया। 

सांसद व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा, "कर्तव्यनिष्ठ, कुशल संगठक, परोपकारी, लेखक, पत्रकार, कवि, मुझे क्या नाम देना चाहिए? उनका निधन मेरी व्यक्तिगत क्षति है। पितृ तुल्य, श्रद्धेय कैलाश सारंग जी ने अपने जीवन का एक-एक क्षण जनसेवा और प्रदेश की उन्नति के लिए समर्पित कर दिया था। ।" उनके बिना, मध्य प्रदेश हमेशा अधूरा महसूस करेगा। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दें और उनके परिवार को इस दुख को सहन करने की शक्ति प्रदान करें।"