BREAKING NEWS

क्या पायलट बनेंगे राजस्थान के नए सीएम? अशोक गहलोत गुट के मंत्रियों-विधायकों ने बदला पाला◾आज का राशिफल (25 सितंबर 2022)◾Ankita Bhandari murder case : उत्तराखंड CM धामी ने अंकिता भंडारी के पिता से फोन पर की बात◾राकांपा प्रमुख शरद पवार ने उपराष्ट्रपति धनखड़ से भेंट की◾बाल यौन उत्पीड़न सामग्री का प्रसार करने के खिलाफ सीबीआई की बड़ी कार्रवाई, देश में 56 जगहों पर छापे◾युक्रेन संघर्ष ने खाद्य पदार्थ और ऊर्जा संबंधी मुद्रास्फीति को बढ़ाया - जयशंकर◾त्रिपुरा में अकेले चुनाव लड़ने की तैयारी कर रही भाजपा◾CM केजरीवाल ने कहा- डेंगू नियंत्रण पर उठाएंगे कई कदम, स्कूली छात्र होंगे शामिल◾ महाराष्ट्र : शिंदे की पीएफआई कार्यकर्ताओं को दो टूक, कहा - बर्दाश्त नहीं किए जाएंगे 'पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे' ◾अमित शाह के वार पर RJD प्रमुख का पलटवार, बोले- भाजपा का होगा सफाया ◾ राजस्थान : कांग्रेस समर्थित निर्दलीय विधायक के बेटों को रिश्वत लेते हुए एसीबी ने किया गिरफ्तार ◾पीएफआई हिंसा पर विजयन का बड़ा बयान, कहा - पूर्व नियोजित थी हिंसा, दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा ◾दक्षिण में 2024 की तैयारी का जायजा लेने के लिए केरल के दो दिवसीय दौरे पर जाएंगे जेपी नड्डा ◾ 'आप' का राज्यपाल पर बड़ा आरोप, कहा - बीजेपी के इशारे पर कर रहे हैं काम◾Himachal Pradesh: कांग्रेस को झटका! आश्रय शर्मा बीजेपी में होंगे शामिल◾यूपी में मर्यादा तार -तार कक्षा तीन की छात्रो को प्रिंसिपल ने दिखाया अश्लील वीडीयो, मामला दर्ज◾हिजाब विवाद में फंसा ईरान, तेजी के साथ पूरे देश में फैल रही हैं प्रदर्शन की आग ◾Punjab News: होशियारपुर में गैस संयंत्र में धमाका, एक की मौत◾चीन में सैन्य तख्तापलट का मंडराया खतरा ! शी जिनपिंग नजरबंद, चीन में चर्चाओं ने पकड़ी गति◾Pune: पीएफआई कार्यकर्ताओं ने लगाए ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे, भाजपा ने की एक्शन लेने की मांग◾

मनीष सिसोदिया के आवास पर CBI छापा को लेकर TMC बोली - विपक्ष को डराने की तरकीब

तृणमूल कांग्रेस ने शुक्रवार को दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के आवास पर केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) की ओर से छापा मारने की कार्रवाई की निंदा की। तृणमूल कांग्रेस ने आरोप लगाया कि यह कदम देशभर में विपक्षी दलों को धमकाने के लिए भाजपा की तरकीब का एक हिस्सा है।

सीबीआई ने शुक्रवार को मनीष सिसोदिया और आईएएस अधिकारी आरव गोपी कृष्णा के आवासों और 19 अन्य स्थानों पर छापेमारी की। पिछले साल नवंबर में दिल्ली आबकारी नीति के निर्माण और निष्पादन में कथित अनियमितताओं के लिए प्राथमिकी दर्ज करने के बाद ये छापेमारी की गई।

वरिष्ठ तृणमूल कांग्रेस नेता और सांसद सौगत रॉय ने कहा, ‘‘छापे विपक्ष को डराने और धमकाने का एक प्रयास हैं। मनीष सिसोदिया दिल्ली के उपमुख्यमंत्री हैं और केंद्रीय एजेंसियां ​​​​उन्हें अपने राजनीतिक आकाओं के आदेश पर परेशान करने की कोशिश कर रही हैं। भाजपा विपक्षी दलों द्वारा शासित सभी राज्यों में एक समान काम कर रही है।’’

टीएमसी सांसद शांतनु सेन ने दावा किया कि भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना करने वाले भाजपा नेताओं के खिलाफ कार्रवाई करने की बात आती है, तो केंद्रीय जांच एजेंसियां ​​‘चुप’ हो जाती हैं।

पश्चिम बंगाल के सत्तारूढ़ दल को हाल ही में शिक्षक भर्ती घोटाले के सिलसिले में पूर्व मंत्री पार्थ चटर्जी और वीरभूम के जिला अध्यक्ष अनुब्रत मंडल की गिरफ्तारी के कारण सियासी भूचाल का सामना करना पड़ा था। मंडल को एक कथित मवेशी घोटाले में सीबीआई द्वारा गिरफ्तार किया गया, जबकि चटर्जी को प्रवर्तन निदेशालय ने गिरफ्तार किया।