BREAKING NEWS

CM केजरीवाल का बड़ा ऐलान, बोले-पानी और सीवर के नए कनेक्शन पर देने होंगे 2,310 रुपये ◾NCP ने ली भाजपा की चुटकी, कहा- 'शरद पवार ने राजनीति के चाणक्य को दी मात'◾महाराष्ट्र : सरकार गठन को लेकर मुंबई में शाम 4 बजे होगी शिवसेना, NCP और कांग्रेस की बैठक◾संसद परिसर में कांग्रेस ने 'Electoral Bond' के खिलाफ किया प्रदर्शन◾गठबंधन पर संजय निरुपम तंज, कहा- 'तीन तिगाड़े काम बिगाड़े' वाली सरकार चलेगी कब तक?◾महाराष्ट्र में 5 साल के लिए शिवसेना का ही होगा मुख्यमंत्री : संजय राउत◾इजराइल के PM बेंजामिन नेतन्याहू पर भ्रष्टाचार, धोखाधड़ी और विश्वासघात मामले में आरोप तय◾सत्यपाल मलिक बोले- अयोध्या में बनने वाले राम मंदिर में केवट-शबरी की भी हों मूर्तियां, ट्रस्ट को लिखूंगा चिट्ठी◾झारखंड चुनाव: भाजपा के 'बागी' सरयू राय के बहाने नीतीश ने 'तीर' से साधे कई निशाने◾अयोध्या विवाद पर आए फैसले पर दूसरे देशों से संवाद बहुत सफल रहा : विदेश मंत्रालय◾झारखंड विधानसभा चुनाव : दूसरे चरण में 20 विधानसभा सीटों पर 260 प्रत्याशी आजमाएंगे किस्मत◾उद्धव ठाकरे और आदित्य ने मुंबई में शरद पवार से की मुलाकात ◾सोनिया ने शिवसेना संग गठबंधन के लिए सीडब्ल्यूसी का सुरक्षित रास्ता चुना ◾श्रीलंका की नई सरकार के साथ करीब से मिलकर काम करने को तैयार : भारत◾महाराष्ट्र में गठबंधन सरकार के गठन के आसार बढे , शुक्रवार को हो सकती है इस बारे में घोषणा◾चुनावी बांड से चुनावी राजनीति में साफ धन आया : भाजपा ◾SPG सुरक्षा हटाए जाने पर बोलीं प्रियंका - यह राजनीति है ◾सेना ने मुख्यमंत्री पद के लिए नए नाम सुझाए, राकांपा ने उद्धव पर दिया जोर◾ED ने कश्मीर में आतंकवादियों से संबंधित छह संपत्तियां जब्त की ◾प्रदूषण पर राज्यसभा में भाजपा और आप में तकरार, केंद्र ने कहा ‘अच्छे’ दिन बढे◾

अन्य राज्य

पीएम को बेरोजगारों ने लिखा खून भरा पत्र

 letter

देहरादून : नियुक्ति की मांग को लेकर संघर्ष कर रहे प्रशिक्षित बेरोजगारों ने अब नये ढंग से आंदोलन को गति देते हुए अपने खून से प्रधानमंत्री को पत्र लिखा है। पिछले लम्बे समय से आंदोलन चला रहे बेरोजगारो की जब सरकारी स्तर पर उपेक्षा हुयी तो बेरोजगारों ने प्रधानमंत्री से गुहार लगाने के लिए रक्त का सहारा लिया।

अब देखने वाली बात यह होगी कि प्रधानमंत्री को जो खून से लिखा पत्र भेजा जा रहा है उस पर क्या कार्यवाही होती है। प्रधानमंत्री इस पत्र का संज्ञान लेते हैं या फिर यह पत्र भी अन्य पत्रों की तरह फाईलो की धूल फांकेगा। यह आने वाला वक्त बतायेगा। गौरतलब है कि उत्तराखण्ड राज्य के प्रशिक्षित बेरोजगार सैकडो की संख्या में लैंसडाउन चैक के निकट स्थित धरना स्थल पर आंदोलन चला रहे हैं।

बीपीएड, एमपीएड प्रशिक्षित बेरोजगार संगठन के बैनर तले युवा वर्ग प्रदेश अध्यक्ष जगदीश चंद पाण्डेय के नेतृत्व में आवाज बुलंद किए हुए है। जब प्रशिक्षितो के आंदोलन की तरफ सरकार, शासन, प्रशासन ने गौर नही किया तो संगठन से जुडी दो महिला बेरोजगार हंसा बिष्ट व पुष्पा पाठनी ने आमरण अनशन शुरू कर दिया। आज उनके अनशन को छठा दिन है।

लेकिन अभी तक सोई सरकार की निद्रा नहीं टूटी और तो और आमरण अनशनकारियों का स्वास्थ्य परीक्षण के लिए चिकित्सको की टीम तक नहीं आयी है। इस पत्र में प्रशिक्षित बेरोजगारो ने बताया कि वह लोग वर्ष 2008 से आंदोलन कर रहे हैं और छह दिन से आमरण अनशन पर बैठे हैं परंतु राज्य सरकार उनकी तरफ ध्यान नही दे रही है।

एनसीटीई की गाईड लाईन शारीरिक शिक्षक की अनिवार्य होने के सापेक्ष में कक्षा 1 से 12 तक प्रत्येक विद्यालय में शारीरिक शिक्षक की नियुक्ति की जाए। धरने पर बैठने वालो में मुख्य रूप से जगदीश चंद पाण्डेय, हरेंद्र खत्री, हिमांशु राजपूत, अर्जुन लिंगवाल, आलोक नैथानी, सुमन नेगी, प्रदीप चौधरी, सूरज रावत, धर्मेन्द्र सिंह, प्रवीण, रेखा, हरीश पंवार आदि शामिल थे।