BREAKING NEWS

Bharat Jodo Yatra: मल्लिकार्जुन खरगे ने किया शाह से पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था का आग्रह ◾दिल्ली में एक बार फिर हुई कंझावला जैसी हैवानियत, बोनट पर फंसे शख्स को 350 मीटर तक घसीटा, मौके पर मौत◾ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज करेंगे NCC की वार्षिक रैली को संबोधित◾शनिदेव: इन तीन लोगों को नहीं करते हैं परेशान,ये हैं शनि देव की 3 सबसे प्यारी राशियां◾ पठान विवाद पर दिग्विजय सिंह का PM मोदी पर हमला, कहा- ‘तेंदुआ अपने पंजों के निशान नहीं बदलता’◾अडानी के डूबे 2.30 लाख करोड़ रुपये, अमीरों की लिस्ट में 7वें पायदान पर◾आज का राशिफल (28 जनवरी 2022)◾अगले साल बड़ी ताकत के रूप में उभर सकता है भारत : रिपोर्ट◾G-20 के मेहमान 12 फरवरी को ताजमहल, आगरा किला और एत्माद्दौला के मकबरे का करेंगे दीदार◾सिसोदिया ने लिखा DU के कुलपति को पत्र- अस्थाई गेस्ट शिक्षकों को स्थायी करने की मांग की◾Tripura Elections: माकपा-तृणमूल को झटका, मोबोशर अली और सुबल भौमिक BJP में हुए शामिल ◾राहुल गांधी की सुरक्षा में चूक का मामला गर्माया, CM गहलोत बोले- गृहमंत्री जांच करवाएं◾UP News: भाजपा सांसद रवींद्र कुशवाहा बोले- स्वामी प्रसाद मौर्य को सपरिवार इस्लाम स्वीकार लेना चाहिए◾सौरभ भारद्वाज का आरोप- भाजपा असंवैधानिक तरीके से MCD पर चाहती है नियंत्रण◾दिल्ली पुलिस ने किया नौकरी धोखाधड़ी रैकेट का भंडाफोड़, तीन आरोपी गिरफ्तार◾नीतीश कुमार बोले- लोकसभा चुनाव के लिए समान विचारधारा वाले दलों की बैठक की प्रतीक्षा◾पंजाब के लोगों को मिली 400 मोहल्ला क्लीनिक की सौगात, सीएम भगवंत मान और मुख्यमंत्री केजरीवाल ने किया उद्घाटन◾पाकिस्तान: फवाद चौधरी की बढ़ी मुश्किलें, कोर्ट ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा ◾भारत ने लिया बड़ा फैसला, 'सिंधु जल संधि में संशोधन को लेकर पाकिस्तान को दिया नोटिस'◾झारखंड : रांची में 10 लाख का ईनामी 'तिलकेश्वर' नामक उग्रवादी गिरफ्तार, राइफल समेत कई हथियार बरामद ◾

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने गुजरात से जमीन का एक हिस्सा और चार गांवों को केंद्र शासित प्रदेश को सौंपने पर चर्चा की

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने गुजरात से जमीन का एक हिस्सा तथा चार गांवों को केंद्र शासित प्रदेश दादरा और नागर हवेली तथा दमन और दीव को देने के मसले पर चर्चा की लेकिन कोई फैसला नहीं लिया जा सका। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

प्रस्ताव के अनुसार, दक्षिणी गुजरात में वलसाड जिले के चार गांवों मेघवाल, नगर, रायमल और मधुबन तथा सौराष्ट्र के घोघला गांव के एक हिस्से का केंद्र शासित प्रदेश में विलय किया जाएगा। इन चार गांव की पहुंच दीव से अधिक सुगम है जबकि सौराष्ट्र में जमीन का एक हिस्सा गुजरात को 1989 में दी गयी जमीन के बदले दिया जाना है।

कोई फैसला नहीं 

गृह मंत्रालय में इस घटनाक्रम की जानकारी रखने वाले एक अधिकारी ने बताया कि गुजरात सरकार और केंद्र शासित प्रदेश दादरा और नागर हवेली तथा दमन और दीव के प्रशासन के प्रतिनिधियों से हाल में चर्चा की गयी लेकिन कोई फैसला नहीं लिया जा सका है। नगर, रायमल और मधुबन गांव केंद्र शासित प्रदेश के बीच स्थित हैं जबकि मेघवाल गांव केंद्र शासित प्रदेश से घिरा हुआ है। अभी इस प्रस्ताव पर कोई निर्णय नहीं लिया जा सका है क्योंकि गुजरात सरकार ने नगर, रायमल तथा मधुबन का केंद्र शासित प्रदेश में विलय करने के प्रस्ताव को अभी पूर्ण सहमति नहीं दी है। 

मेघवल गांव को सौंपने की सैद्धांतिक रूप से मंजूरी 

केंद्र शासित प्रदेश एक मत्स्यपालन बंदरगाह विकसित करने के लिए 1989 में गुजरात को दीव द्वारा सौंपी गयी जमीन के बदले में सौराष्ट्र तट पर घोघला में जमीन का एक टुकड़ा उसे देने की मांग कर रहा है।

अधिकारी ने बताया कि अगर जमीन और ये चार गांव केंद्र शासित प्रदेश को सौंपे जाते हैं तो वहां पर्यटन बढ़ने की संभावना है क्योंकि केंद्र शासित प्रदेश के दायरे में आने के कारण वहां शराब उपलब्ध होगी जबकि गुजरात में शराब की बिक्री पर पाबंदी है।