BREAKING NEWS

Today's Corona Update : देश में पिछले 24 घंटे के दौरान 8 हजार से अधिक नए केस, 415 लोगों की मौत◾चक्रवाती तूफान 'जवाद' की दस्तक, स्कूल-कॉलेज बंद, पुरी में बारिश और हवा का दौर जारी◾विश्वभर में कोरोना के आंकड़े 26.49 करोड़ के पार, मरने वालों की संख्या 52.4 लाख से हुई अधिक ◾आजाद ने सेना ऑपरेशन के दौरान होने वाली सिविलिन किलिंग को बताया 'सांप-सीढ़ी' जैसी स्थिति◾SKM की बैठक से पहले राकेश टिकैत ने कहा- उम्मीद है कि आज की मीटिंग में कोई समाधान निकलना चाहिए◾राष्ट्रपति ने किया ट्वीट, देश की रक्षा सहित कोविड से निपटने में भी नौसेना ने निभाई अहम भूमिका◾तेजी से फैल रहा है ओमिक्रॉन, डब्ल्यूएचओ ने कहा- वेरिएंट पर अंकुश लगाने के लिए लॉकडाउन अंतिम उपाय◾सिंघु बॉर्डर पर संयुक्त किसान मोर्चा की आज होगी अहम बैठक, आंदोलन की आगे की रणनीति होगी तय◾ओमीक्रोन का असर कम रहने का अंदाजा, वैज्ञानिक मार्गदर्शन पर होगा बूस्टर देने का फैसला◾सुरक्षा के प्रति किसी भी खतरे से निपटने में पूरी तरह सक्षम है भारतीय नौसेना : एडमिरल कुमार◾एक बच्चे सहित तीन यात्री कोरोना संक्रमित , जांच के बाद ही ओमीक्रन स्वरूप की होगी पुष्टि : तमिलनाडु सरकार◾जनवरी से ATM से पैसे निकालना हो जाएगा महंगा, जानिए क्या है सरकार की नई नीति◾जयपुर में मचा हड़कंप, एक ही परिवार के नौ लोग कोरोना पॉजिटिव, 4 हाल ही में दक्षिण अफ्रीका से लौटे थे◾लुंगी छाप और जालीदार टोपी पहनने वाले गुंडों से भाजपा ने दिलाई निजात: डिप्टी सीएम केशव ◾ बच्चों को वैक्सीन और बूस्टर डोज पर जल्दबाजी नहीं, स्वास्थ्य मंत्री ने संसद में दिया जवाब◾केंद्र के पास किसानों की मौत का आंकड़ा नहीं, तो गलती कैसे मानी : राहुल गांधी◾किसानों ने कंगना रनौत की कार पर किया हमला, एक्ट्रेस की गाड़ी रोक माफी मांगने को कहा ◾ओमीक्रॉन वेरिएंट: केंद्र ने तीसरी लहर की संभावना पर दिया स्पष्टीकरण, कहा- पहले वाली सावधानियां जरूरी ◾जुबानी जंग के बीच TMC ने किया दावा- 'डीप फ्रीजर' में कांग्रेस, विपक्षी ताकतें चाहती हैं CM ममता करें नेतृत्व ◾राजधानी में हुई ओमीक्रॉन वेरिएंट की एंट्री? दिल्ली के LNJP अस्पताल में भर्ती हुए 12 संदिग्ध मरीज ◾

नागरिकता विधेयक को लेकर अनावश्यक अशांति पैदा की जा रही है : सोनोवाल

असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने शुक्रवार को कहा कि लोकसभा चुनाव से पहले नागरिकता (संशोधन) विधेयक,2016 को लेकर राज्य में ‘अनावश्यक सामाजिक अशांति’ पैदा की जा रही है।

असम विधानसभा में बजट सत्र के दौरान राज्यपाल के भाषण का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि किसी को भी डरने की जरूरत नहीं है क्योंकि प्रधानमंत्री कोई भी ऐसा फैसला नहीं लेंगे जिससे असम का हित और पूर्वोत्तर के लोगों की भावनाएं आहत हों।

उन्होंने कहा, ‘‘ अनावश्यक सामाजिक अशांति पैदा करना सही नहीं है...चुनाव होते रहेंगे लेकिन हम (असम सरकार) स्थानीय लोगों को कोई नुकसान नहीं पहुचाएंगे।''

सुप्रीम कोर्ट में अंतरिम बजट के खिलाफ याचिका दायर

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘असम में सभी सौ फीसदी सुरक्षित हैं। हम ब्रह्मपुत्र और बराक घाटी के लोगों के लिए काम करना जारी रखेंगे।'' सोनोवाल ने कहा कि इस विधेयक के लागू होने से असम समझौते का उल्लंघन नहीं होगा।

उन्होंने कहा, ‘‘ कई लोग अवैध विदेशियों को लेकर आंकड़े दे रहे हैं, जिसका कोई आधार नहीं है। जैसे ही एनआरसी (राष्ट्रीय नागरिक पंजी) पूरा हो जाता है, हमें अ‍वैध विदेशियों के बारे में वास्तविक आंकड़े मिल जाएंगे।''

नागरिकता विधेयक के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन पर प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘ आप इस विधेयक पर निश्चित रूप से चर्चा और बहस कर सकते हैं। हम सुनेंगे। लेकिन आपको सड़कों पर जाकर शांति भंग करने और गरीबों की आजीविका प्रभावित करने का हक प्राप्त नहीं है।''

उन्होंने कहा, ‘‘ नागरिकता विधेयक पूरे देश के लिए है, सिर्फ असम के लिए नहीं... फिर क्यों लोगों में अनावश्यक डर पैदा किया जा रहा है? कहां से यह आंकड़ा आया कि 1.9 करोड़ हिंदू बांग्लादेशी असम में आ रहे हैं, कहां से यह चीजें आ रही हैं।''