नैनीताल : उत्तराखण्ड राज्य स्थापना की 18वीं वर्षगांठ जिले भर में पूरे हर्ष उल्लास के साथ मनायी गई। मुख्य कार्यक्रम नैनीताल में आयोजित किये गये। प्रातः सर्वप्रथम शहीद राज्य आल्दोलनकारी स्मारक पर जिलाधिकारी विनोद कुमार सुमन व अन्य गणमान्य नागरिकों ने श्रद्वासुमन अर्पित किये। श्री रौतेला ने कहा कि विगत 18 वर्षों में उत्तराखण्ड ने देश के अन्य राज्यों की तुलना में बेहतर प्रदर्शन किया है। बार-बार प्राकृतिक आपदाओं के बावजूद सभी उत्तराखण्ड वासियों की दृढ़ संकल्प शक्ति से राज्य ने अपनी एक विशिष्ट पहचान बनाई है और विकास की बुलन्दियों को छुआ है।

आज उत्तराखण्ड देश के अग्रणीय राज्यो में अपना स्थान बना चुका है। इन वर्षो में हमने कई उपलब्धियां हासिल की हैं। मौजूदा दौर में हमारे सामने बहुत सी चुनौतियाॅ भी है। सच्चे मायने में विकास के लिए आर्थिक प्रगति व सामाजिक प्रगति का लाभ दूर-दराज के गांवों में रहने वाले साधनहीन लोंगों तक पहुंचाना होगा। उन्होंने कहा कि हम राजकीय सेवा के किसी भी पद पर आसीन हों, हमारा उद्देश्य होना चाहिए कि विकास की रोशनी दूर-दराज इलाको में बैठे हुए गरीबों की कुटिया तक पहुंच सके। उन्होंने कहा कि मुझे खुशी है कि नए प्रगतिशील भारत में उत्तराखण्ड बढ़-चढ़ कर अपनी महत्वपूर्ण भागीदारी का निर्वहन कर रहा है।

उन्होंने विश्वास जताया कि वर्ष 2019 तक पूर्ण साक्षरता, वर्ष 2022 तक सबको आवास व किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य पूरा करने में उत्तराखण्ड अग्रणीय राज्यों में होगा। आयुक्त ने अपने सम्बोधन में कहा कि आज बेटियों के प्रति जन मानस की सोच बदली है। लिंग अनुपात में बदलाव इसका जीता जागता उदाहरण है। उत्तराखण्ड देवभूमि ही नहीं वरन् वीर भूमि भी है। हमारे वीर जवान सेना में, अर्द्ध सैनिक बलों में सम्मिलित होकर देश की रक्षा में सब कुछ समर्पित करते है। उत्तराखण्ड के वीर जवानों ने देश की रक्षा व सुरक्षा में अपना बलिदान देकर प्रदेश व राष्ट्र का मान बढ़ाया है। उन्होंने कहा कि लोकतन्त्र को सुदृढ़ एवं मजबूत बनाने में देश के प्रत्येक नागरिक एवं मतदाता का विशेष योगदान है। भविष्य में नागर निकाय चुनाव तथा लोक सभा निर्वाचन सम्पन्न होगा।

कार्यक्रम में जिलाधिकारी विनोद कुमार सुमन, मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार, परियोजना निदेशक बालकृष्ण, जिला विकास अधिकारी रमा गोस्वामी, उपनिदेशक सूचना योगेश मिश्रा, मुख्य शिक्षा अधिकारी केके गुप्ता, जिला युवा कल्याण अधिकारी दीप्ति जोशी, जिला प्रोवेशन अधिकारी अंजना गुप्ता, जिला कार्यक्रम अधिकारी अनुलेखा बिष्ट, उपजिलाधिकारी प्रमोद कुमार, बीएल फिरमाल सहित अनेक राज्य आंदोलनकारी व लोग मौजूद थे।

– संजय तलवाड़