BREAKING NEWS

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिका में ऑस्ट्रेलियाई समकक्ष से मुलाकात की◾कोलकाता नाइट राइडर्स ने मुंबई इंडियंस को सात विकेट से हराया◾मोदी ने की अमेरिकी सौर पैनल कंपनी प्रमुख के साथ भारत की हरित ऊर्जा योजनाओं पर चर्चा◾सेना की ताकत में होगा और इजाफा, रक्षा मंत्रालय ने 118 अर्जुन युद्धक टैंकों के लिए दिया आर्डर ◾असम के दरांग जिले में पुलिस और स्थानीय लोगों के बीच में झड़प, 2 प्रदर्शनकारियों की मौत,कई अन्य घायल◾दिव्यांगों और बुजुर्गों के लिए घर पर ही की जाएगी टीकाकरण की सुविधा, केंद्र सरकार ने दी मंजूरी◾अमरिंदर का सवाल- कांग्रेस में गुस्सा करने वालों के लिए स्थान नहीं है तो क्या 'अपमान करने' के लिए जगह है◾तेजस्वी का तंज- 'नल जल योजना' बन गई है 'नल धन योजना', थक चुके हैं CM नीतीश ◾अमरिंदर के राहुल, प्रियंका को ‘अनुभवहीन’ बताने पर कांग्रेस ने कहा - बुजुर्ग गुस्से में काफी कुछ कहते है ◾जम्मू-कश्मीर : सेना का बड़ा ऑपरेशन, LoC के पास घुसपैठ की कोशिश नाकाम, तीन आतंकवादी ढेर◾आखिर किसने उतारा महंत नरेंद्र गिरी का शव, पुलिस के आने से पहले क्या हुआ शिष्य ने किया खुलासा ◾गैर BJP शासित राज्यों के राज्यपालों को शिवसेना ने बताया 'दुष्ट हाथी', कहा- पैरों तले कुचल रहे हैं लोकतंत्र ◾'धनबाद के जज उत्तम आनंद को जानबूझकर मारी गई थी टक्कर', CBI ने झारखंड HC को दी जानकारी◾महंत नरेन्‍द्र गिरि की मौत के बाद कमरे का वीडियो आया सामने, जांच के लिए प्रयागराज पहुंची CBI◾दिल्ली हाईकोर्ट में केंद्र ने कहा - पीएम केयर्स कोष सरकारी कोष नहीं है, यह पारदर्शिता से काम करता है◾अमेरिकी मीडिया में छाई पीएम मोदी और कमला हैरिस की मुलाकात, भारतीय अमेरिकियों के लिए बताया यादगार क्षण◾फोटो सेशन के लिए विदेश जाने की बजाए कोरोना मृतकों के लिए 5 लाख का मुआवजा दे PM : कांग्रेस ◾कांग्रेस में जारी है असंतुष्टि का दौर, नाराज जाखड़ पहुंचे दिल्ली, राहुल-प्रियंका समेत कई नेताओं से करेंगे मुलाकात ◾हिंदू-मुस्लिम आबादी पर कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने समझाया अपना 'गणित'◾अनिल विज का आरोप, भविष्य में पंजाब और PAK को नजदीक लाना चाहती है कांग्रेस◾

हिंसक हुआ असम-मिजोरम सीमा विवाद, शाह ने दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों से की बात

असम-मिजोरम के बीच लंबे समय से चले आ रहे सीमा विवाद ने हिंसक रूप ले लिया। दोनों राज्यों के मध्य तनाव इस कदर तक बढ गया कि केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को मामले को सुलझाने के लिए दखल देना पड़ा। असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा ने सोमवार को मिजोरम के अपने समकक्ष ज़ोरमथांगा से पूर्वोत्तर के दो राज्यों के बीच सीमा पर जारी हिंसा को लेकर बात की और मतभेदों को दूर करने के लिए आइजोल के दौरे का प्रस्ताव रखा।

दोनों मुख्यमंत्री ट्विटर पर आमने-सामने हो गए थे, जब उन्होंने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से शिकायत की थी, जिन्होंने शनिवार को शिलांग में पूर्वोत्तर राज्यों के बीच सीमा विवाद पर एक बैठक की थी। सरमा ने ट्वीट किया, ‘‘मैंने अभी माननीय मुख्यमंत्री ज़ोरमथांगा जी से बात की। मैंने दोहराया कि असम हमारे राज्य की सीमाओं के बीच यथास्थिति और शांति बनाए रखेगा। मैंने आइजोल जाने और जरूरत पड़ने पर इन मुद्दों पर चर्चा करने की इच्छा व्यक्त की है।’’

असम पुलिस ने दावा किया कि दिन के दौरान कछार जिले में मिजोरम की ओर से उपद्रवी तत्वों द्वारा किए गए पथराव में उसके कम से कम छह कर्मी घायल हो गए। असम की ओर के स्थानीय लोगों ने आरोप लगाया कि लाठी, रॉड और यहां तक ​​कि राइफलों से लैस होकर आये सैकड़ों उपद्रवियों ने लैलापुर में असम पुलिस के कर्मियों पर हमला किया और उपायुक्त के कार्यालय से संबंधित वाहनों सहित कई वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया।

उनमें से कुछ ने दावा किया कि उपद्रवियों ने असम पुलिस कर्मियों पर गोलियां चलाईं, लेकिन इसकी तुरंत पुष्टि नहीं की जा सकी क्योंकि कई पुलिस अधिकारियों को की गई कॉल अनुत्तरित रहीं। असम पुलिस ने ट्वीट किया, ‘‘यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि असम की जमीन को अतिक्रमण से बचाने के लिए लैलापुर में तैनात असम सरकार के अधिकारियों पर मिजोरम के बड़ी संख्या में शरारती तत्व पथराव और इस तरह के हमले कर रहे हैं।’’बयान में कहा गया है, ‘‘हम इन बर्बरतापूर्ण कृत्यों की कड़ी निंदा करते हैं और असम की सीमा की रक्षा करने के अपने संकल्प को दोहराते हैं।’’ सूत्रों ने दावा किया कि पथराव की घटना में करीब छह पुलिसकर्मी घायल हो गए। इस बीच, मिजोरम पुलिस ने कहा कि असम सीमा के पास कोलासिब जिले में अज्ञात शरारती तत्वों ने रविवार रात आठ किसानों की झोपड़ियों को आग लगा दी।

मिजोरम के पुलिस उप महानिरीक्षक (उत्तरी रेंज) लालबियाकथांगा खियांगते ने बताया कि घटना अशांत क्षेत्र में एटलांग धारा के पास रात करीब साढ़े 11 बजे हुई। उन्होंने कहा कि ये गांव वैरेंगटे के किसानों के थे, जो असम का निकटतम सीमावर्ती है ।

खियांगटे ने कहा कि ये झोपड़ी असम के नजदीकी सीमावर्ती गांव वायरेंगटे के किसानों की है। खियांगते ने कहा कि झोपड़ी मालिकों की शिकायत पर वायरेंगटे थाने में मामला दर्ज कर लिया गया है और जांच जारी है। जून से मिजोरम-असम की सीमा पर तनाव जारी है, जब असम पुलिस ने वायरेंगटे से करीब पांच किलोमीटर की दूरी पर स्थित ‘ऐटलांग हनार’ इलाके पर कथित तौर पर नियंत्रण कर लिया और पड़ोसी राज्य पर इसकी सीमा का अतिक्रमण करने का आरोप लगाया था।