BREAKING NEWS

यदि सावरकर प्रधानमंत्री होते तो पाकिस्तान नहीं होता : उद्धव ठाकरे ◾राहुल ने अब्दुल्ला की हिरासत की निंदा की, तत्काल रिहाई की मांग की ◾नये वाहन कानून को लेकर ज्यादातर राज्य सहमत : गडकरी ◾यशवंत सिन्हा को श्रीनगर हवाईअड्डे से बाहर निकलने की नहीं मिली इजाजत, दिल्ली लौटे ◾2014 से पहले लोगों को लगता था कि क्या बहुदलीय लोकतंत्र विफल हो गया : गृह मंत्री◾देखें VIDEO : सुखोई 30 MKI से किया गया हवा से हवा में मार करने वाली ‘अस्त्र’ मिसाइल का प्रायोगिक परीक्षण◾नौसेना में 28 सितंबर को शामिल होगी स्कॉर्पीन श्रेणी की दूसरी पनडुब्बी ‘खंडेरी’ ◾भारत और चीनी सैनिकों के बीच झड़प नहीं हुई बल्कि यह तनातनी थी : जयशंकर ◾फारूक अब्दुल्ला की नजरबंदी लोकतंत्र पर दूसरा हमला : NC ◾JNU छात्रसंघ चुनाव में चारों पदों पर संयुक्त वाम के उम्मीदवारों की जीत ◾राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति सहित कई नेताओं ने PM मोदी को जन्मदिन की दी बधाई◾अयोध्या विवाद : SC ने वकीलों से बहस पूरी करने में लगने वाले समय के बारे में मांगी जानकारी◾J&K : पाकिस्तानी रेंजरों ने फिर किया संघर्ष विराम का उल्लंघन , भारतीयों जवानों ने दिया मुहतोड़ जवाब◾TOP 20 NEWS 17 September : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾भारत को एक पड़ोसी देश से ‘अलग तरह की चुनौती, उसे सामान्य व्यवहार करना चाहिए : जयशंकर ◾जन्मदिन पर PM मोदी ने मां हीराबेन से की मुलाकात, साथ में खाया खाना◾गृह मंत्री अमित शाह बोले- देश की सुरक्षा को लेकर कोई समझौता बर्दाश्त नहीं ◾आज देश सरदार पटेल के एक भारत-श्रेष्ठ भारत के सपने को साकार होते हुए देख रहा है : PM मोदी◾मायावती ने कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा- गैर भरोसेमंद और धोखेबाज है◾शारदा चिट फंड घोटाला : कोलकाता HC ने राजीव कुमार की अग्रिम जमानत याचिका पर सुनवाई से किया इनकार◾

अन्य राज्य

हमें अपना अपना गूगल, फेसबुक और अलीबाबा बनाना होगा : सिन्हा

पणजी : केन्द्रीय नागरिक विमानन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने देश के नवोन्मेषकों से ऐसे उत्पाद और सेवायें विकसित करने की आज अपील की जो हमारी अपनी समस्यायें सुलझाएं। उन्होंने कहा, भारत को भी गूगल, अलीबाबा या टेनसेंट की तर्ज पर अपनी सफलता की कहानी खुद रचनी चाहिए। सिन्हा ने इंडिया फाउंडेशन की ओर से आयोजित इंडिया आइडिया कन्क्लेव 2017 में कहा, जब हम अपनी समस्यायें सुलझा लेंगे, हम दुनिया की समस्यायें भी सुलझा लेंगे। हमें अपनी खुद की समस्यायें सुलझानी चाहिए।

उन्होंने कहा कि भारतीय नवोन्मेषकों को घरेलू आवश्यकताओं की पूर्ति करने वाले उत्पाद और सेवाएं विकसित करनी चाहिए। सिन्हा ने कहा, जब हम इसे अपने लोगों के लिये बनाएंगे, तो उसके कुछ उत्पाद और सेवाएं दूसरे लोग भी प्रयोग करेंगे। उन्होंने कहा, यदि हमें 21वीं सदी का नेतृत्व करना है, तो देश को नवोन्मेष का अगुवा बनना पड़गा। केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि भारत पहले ही विभिन्न क्षेत्रों में अपनी पहचान बना चुका है। सिन्हा ने कहा, भारत में दुनिया की सबसे सस्ती और सबसे अच्छी दूरसंचार सेवायें, मोटरसाइकिल हैं....हमारे सामने एक क्रांति हो रही है। आज का भारत, चीन समेत दूसरे किसी भी देश की तुलना में अधिक मोबाइल डाटा की खपत करता है। उन्होंने कहा, हमें अपना खुद का गूगल, फेसबुक, अलीबाबा और टेनसेंट बनाना होगा।

मंत्री ने कहा, हम यूनीकार्न की बात करें। यह एक अरब डालर बाजार पूंजीकरण वाली एक कंपनी है। हमें यूनिकार्न के बारे में बातें कर संतुष्ट नहीं होना चाहिए। हमें सुपर यूनिकार्न की बात करनी चाहिए, जिसका बाजार पूंजीकरण दस अरब डालर हो। हमें उससे बड़ यूनिकार्न खड़ करने के बारे में सोचना चाहिए, जिसका बाजार पूंजीकरण सैकड़ अरब डालर का हो। सिन्हा ने कहा, यदि हम इस स्तर पर कंपनी बनाएंगे, तो हम आर्थिक नेतृत्व करने में सक्षम बनेंगे। इसी तरह हम अपने सभी लोगों को आर्थिक अवसर दें सकते हैं।

24X7 नई खबरों से अवगत रहने के लिए यहां क्लिक करें।