BREAKING NEWS

चेन्नई सुपर किंग्स चौथी बार बना IPL चैंपियन◾बुराई पर अच्छाई की जीत का त्योहार दशहरा देश भर में उल्लास के साथ मनाया गया◾सिंघु बॉर्डर : किसान आंदोलन के मंच के पास हाथ काटकर युवक की हत्या, पुलिस ने मामला किया दर्ज ◾कपिल सिब्बल का केंद्र पर कटाक्ष, बोले- आर्यन ड्रग्स मामले ने आशीष मिश्रा से हटा दिया ध्यान◾हिंदू मंदिरों के अधिकार हिंदू श्रद्धालुओं को सौंपे जाएं, कुछ मंदिरों में हो रही है लूट - मोहन भागवत◾जनरल नरवणे भारत-श्रीलंका के बीच सैन्य अभ्यास के समापन कार्यक्रम में शामिल हुए, दोनों दस्तों के सैनिकों की सराहना की◾अफगानिस्तान: कंधार में शिया मस्जिद को एक बार फिर बनाया गया निशाना, विस्फोट में कई लोगों की मौत ◾सिंघु बॉर्डर आंदोलन स्थल पर जघन्य हत्या की SKM ने की निंदा, कहा - निहंगों से हमारा कोई संबंध नहीं ◾अध्ययन में चौंकाने वाला खुलासा, दिल्ली में डेल्टा स्वरूप के खिलाफ हर्ड इम्युनिटी पाना कठिन◾सिंघु बॉर्डर पर युवक की विभत्स हत्या पर बोली कांग्रेस - हिंसा का इस देश में स्थान नहीं हो सकता◾पूर्व PM मनमोहन की सेहत में हो रहा सुधार, कांग्रेस ने अफवाहों को खारिज करते हुए कहा- उनकी निजता का सम्मान किया जाए◾रक्षा क्षेत्र में कई प्रमुख सुधार किए गए, पहले से कहीं अधिक पारदर्शिता एवं विश्वास है : पीएम मोदी ◾PM मोदी ने वर्चुअल तरीके से हॉस्टल की आधारशिला रखी, बोले- आपके आशीर्वाद से जनता की सेवा करते हुए पूरे किए 20 साल◾देश ने वैक्सीन के 100 करोड़ के आंकड़े को छुआ, राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान ने कायम किया रिकॉर्ड◾शिवपाल यादव ने फिर जाहिर किया सपा प्रेम, बोले- समाजवादी पार्टी अब भी मेरी प्राथमिकता ◾जेईई एडवांस रिजल्ट - मृदुल अग्रवाल ने रिकॉर्ड के साथ रचा इतिहास, लड़कियों में काव्या अव्वल ◾दिवंगत रामविलास पासवान की पत्नी रीना ने पशुपति पारस पर लगाए बड़े आरोप, चिराग को लेकर जाहिर की चिंता◾सिंघू बॉर्डर पर किसानों के मंच के पास बैरिकेड से लटकी मिली लाश, हाथ काटकर बेरहमी से हुई हत्या ◾कुछ ऐसी जगहें जहां दशहरे पर रावण का दहन नहीं बल्कि दशानन लंकेश की होती है पूजा◾एनसीबी ने अदालत में आर्यन को 'नशेड़ी' करार दिया, जेल में कैदी न. 956 बनकर पड़ेगा रहना ◾

विपक्ष बोला- छापों से पूर्व CM के करीबियों को BJP कर रही लक्षित, येदियुरप्पा बोले- पार्टी को जिताएंगे अगले चुनाव

कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री बी.एस. येदियुरप्पा ने सोशल मीडिया पर घोषणा करते हुए कहा कि वह तब तक आराम नहीं करेंगे, जब तक कि वह अगले विधानसभा चुनावों में कर्नाटक में भाजपा को सत्ता की सीट पर नहीं बिठा देते। उन्होंने कहा, हम आगामी विधानसभा चुनावों में भाजपा को सत्ता में लाने के उद्देश्य से काम कर रहे हैं। मैं कभी भी विपक्षी नेता सिद्धारमैया से व्यक्तिगत रूप से नहीं मिला। इसकी कोई आवश्यकता नहीं है। मैं उनसे केवल 27 फरवरी, 2020 को अपने जन्मदिन के अवसर पर मिला हूं।

पूर्व मुख्यमंत्री एच.डी. कुमारस्वामी ने एक विवादास्पद बयान जारी कर कहा था कि बीजेपी येदियुरप्पा के सहयोगियों और करीबी सर्कल को आईटी छापों के माध्यम से लक्षित कर रही है क्योंकि उन्होंने कर्नाटक में सत्तारूढ़ भाजपा के कमजोर होने पर चर्चा करने के लिए मैसूर में सिद्धारमैया से मुलाकात की है। कुमारस्वामी ने आगे कहा था कि यह छापे येदियुरप्पा और उनके बेटे बी.वाई. विजयेंद्र को काबू में करने के लिए मारे जा रहे हैं। 

हालांकि, पार्टी के सूत्रों ने कहा कि आयकर विभाग के सनसनीखेज निष्कर्षों के बाद, बेंगलुरु और अन्य स्थानों पर येदियुरप्पा के करीबी बी.आर. उमेश और अन्य, वरिष्ठ नेता जिन्होंने भाजपा आलाकमान के खिलाफ खुद को मुखर करना शुरू कर दिया है, उन्होंने अपना रुख नरम कर लिया है। येदियुरप्पा ने पहले कहा था कि कर्नाटक में 'मोदी लहर' अकेले चुनाव नहीं जीत सकती। उनके एक विश्वासपात्र सुरेश गौड़ा ने तुमकुरु जिला भाजपा इकाई के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है। 

हालांकि भाजपा ने उनके दो समर्थकों को मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई का राजनीतिक सचिव नियुक्त किया और उन्हें कैबिनेट का दर्जा दिया, जिसे लेकर येदियुरप्पा खुश नहीं थे। उन्होंने राज्य का दौरा करने की योजना बनाई है जिसे पार्टी नेताओं ने विफल कर दिया है। बोम्मई ने मुख्यमंत्री का पद संभालने के बाद पहली बार इस बात पर जोर दिया है कि अगला विधानसभा चुनाव उनके नेतृत्व में पार्टी के निर्देश पर लड़ा जाएगा। 

पार्टी के लिए यह महत्वपूर्ण है कि वह येदियुरप्पा को अपने पाले में रखे और साथ ही उन्हें पार्टी को हाईजैक करने की अनुमति न दे। सूत्रों का कहना है कि सभी उद्देश्य पूरे हो गए हैं। तलाशी व जब्ती के दौरान करीब 750 करोड़ रुपये की अघोषित आय मिली है। इसमें से कुल 487 करोड़ रुपये की राशि को संबंधित समूह की संस्थाओं ने अपनी अघोषित आय के रूप में स्वीकार किया है। 7 अक्टूबर को शुरू हुई तलाशी 4 राज्यों में फैले 47 परिसरों में की गई है।

तलाशी के दौरान 4.69 करोड़ रुपये की बेहिसाब नकदी, 8.67 करोड़ रुपये के बेहिसाब आभूषण, सरार्फा और 29.83 लाख रुपये मूल्य की चांदी की वस्तुएं जब्त की गई हैं। सूत्रों ने बताया कि येदियुरप्पा की मुश्किलें बढ़ने की पूरी संभावनाएं हैं क्योंकि छापे कथित तौर पर सिंचाई, राजमार्ग विभाग पर उनके कार्यकाल के दौरान 20,000 करोड़ रुपये से अधिक की विभिन्न परियोजनाओं के कार्यान्वयन पर केंद्रित थे।