BREAKING NEWS

गुजरात विजय पर बोले असम के सीएम शर्मा- यह तो ट्रेलर है... असली पिक्चर 2024 के लोकसभा चुनाव में दिखाएंगे◾ओडिशा उपचुनाव सीट पर बीजेपी की हार, बीजद उम्मीदवार ने भारी मतों से जीत की हासिल◾सोने की चमक में उछाल, दर्ज की गई 211 की बढ़ोत्तरी, चांदी इतने रूपए के साथ फिसली◾गुजरात में बजा 'मोदी' का डंका, जीत को लेकर जनता का आभार प्रकट किया, हिमाचल पर भी कही यह बड़ी बात◾गुजरात में 'BJP' की प्रचंड जीत, राज्य में चल पड़ा 'घर-घर मोदी' नड्डा ने कहा: भाजपा की ऐतिहासिक विजय◾खतौली सीट पर फैल हुई BJP की रणनीति, रालोद प्रत्याशी मदन भैया ने भाजपा को इतने वोटों से पछाड़ा, देखें पूरा समीकरण ◾रामपुर पर 'BJP' ने रचा इतिहास, 26 साल के चक्रव्यूह को तोड़कर एक नए युग की शुरूआत, इतने भारी मतों से हारी 'सपा'◾खतौली सीट पर फेल हुई BJP की रणनीति, रालोद प्रत्याशी मदन भैया ने भाजपा को इतने वोटों से पछाड़ा, देखें पूरा समीकरण ◾गुजरात में भाजपा की प्रचंड जीत के बाद भूपेंद्र पटेल फिर से संभालेंगे मुख्यमंत्री पद, 12 दिसंबर को लेंगे शपथ ◾HP: 'मोदी लहर' में फेल हुए 'जयराम ठाकुर', कहा- मैं जनादेश का करता हूं सम्मान...राज्यपाल को सौंप रहा हूं इस्तीफा ◾ संजय सिंह ने कहा- 10 साल में राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा हासिल किया, गुजरात के लोगों के शुक्रगुजार हैं ◾Gujarat Election: EVM में गड़बड़ी का आरोप लगाकर कांग्रेस प्रत्याशी भरत सोलंकी ने की आत्महत्या की कोशिश◾गुजरात चुनाव : AAP के मुख्यमंत्री पद के चेहरे इसुदान गढ़वी की हार, भाजपा को 18,000 मतों से मिली शिकस्त ◾मोदी गढ़ में फिर 'डबल इंजन' सरकार, शाह ने कहा- गुजरात की जनता ने 'फ्री की रेवड़ी' और 'खोखले वादों' को नकारा◾Gujarat: 'कमल' की जीत पर बोले पवार- गुजरात में चल गया 'मोदी मेजिक'... लेकिन 2024 में नहीं चलेगा ◾Tata स्टील को सुप्रीम कोर्ट से लगा बड़ा झटका, जानिए 35000 करोड़ का क्या है मामला◾Mainpuri: डिंपल यादव ने किया बड़ा फेर- बदल, जीत दर्ज कर ले गई लोकसभा सीट◾अखिलेश यादव ने शिवपाल को दिया समाजवादी पार्टी का झंडा, सपा में प्रसपा के विलय की तेज हुई अटकलें ◾'भारत जोड़ो यात्रा' पहुंचेगी पश्चिम बंगाल में..., राहुल औऱ प्रियंका निभाएंगे अहम भूमिका, जानें पूरी रणनीति◾आजम खान के गढ़ में हुआ बड़ा उलटफेर, रामपुर किला ढहाने की ओर भाजपा◾

कर्नाटक कैबिनेट चयन के लिए पूरी तरह स्वतंत्र है बोम्मई, नहीं करूंगा हस्तक्षेप : येदियुरप्पा

कर्नाटक में नए मुख्यमंत्री की नियुक्ति के साथ ही मंत्रिमंडल में फेरबदल की भी जल्द संभावना है। मंत्रिमंडल में बदलाव की रूप रेखा तैयार करने के लिए मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई इस समय दिल्ली में मौजूद हैं। इस बीच पूर्व मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने दोहराया कि वह नए मंत्रिमंडल में मंत्रियों के चयन को लेकर हस्तक्षेप नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि वह पार्टी को मजबूत करने का काम जारी रखेंगे। 

येदियुरप्पा जिले में अपने एक प्रशंसक के परिजनों से मिलने आए थे जिसने उनके मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने से आहत होकर कथित तौर पर आत्महत्या कर ली। इस दौरान उन्होंने कहा, “बोम्मई आज दिल्ली में हैं, कुछ दिनों में वह केंद्रीय नेताओं से मंत्रिमंडल पर चर्चा कर इसका स्वरूप तय करेंगे, किसे मंत्री बनाना है और किसे नहीं मैं इसे लेकर हस्तक्षेप नहीं करूंगा। बोम्मई पूरी तरह स्वतंत्र हैं, वह चर्चा करेंगे और अपने मंत्रियों का चयन करेंगे... मैं इस पर कोई सुझाव नहीं दूंगा।”

उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि नए मुख्यमंत्री को उनकी यही सलाह है कि वह अच्छा काम करें। येदियुरप्पा ने कहा कि बोम्मई ने पहले ही घोषणा कर दी है कि वह गरीबों और वंचितों की मदद करेंगे। कांग्रेस-जनता दल (एस) गठबंधन को छोड़कर 2019 में बीजेपी में शामिल होकर सरकार बनाने में सहायता करने वाले विधायकों को मंत्रीपद दिए जाने के बाबत पूछे गए सवाल के जवाब में 78 वर्षीय नेता ने कहा कि इस पर बोम्मई निर्णय लेंगे।

इस बीच मंत्रीपद पाने की आस लगाए नेताओं ने मंत्रिमंडल में जगह पाने के लिए लॉबिंग जारी रखी है। येदियुरप्पा ने कहा कि वह अगले चुनाव में पार्टी को 130-135 सीटें दिलाने का लक्ष्य लेकर आने वाले दिनों में राज्य भर में यात्रा करेंगे। उन्होंने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी, केंद्रीय मंत्री अमित शाह और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा को इसका आश्वासन दिया है। 

उन्होंने कहा कि गणेश चतुर्थी (10 सितंबर) के बाद वह हर सप्ताह एक जिले में जाएंगे और संगठन को मजबूत करने के लिए कार्यकर्ताओं की बैठक करेंगे। येदियुरप्पा, गुन्डलूपेट तालुका के बोम्मलपुरा में अपने प्रशंसक राजप्पा (रवि) के परिजनों से मिले जिसने मुख्यमंत्री पद से उनके इस्तीफा देने से आहत होकर कथित तौर पर आत्महत्या कर ली थी।

येदियुरप्पा ने कहा, “उसके इस कदम से मुझे अत्यंत पीड़ा हुई है, यह नहीं होना चाहिए था। उसकी मां और दो बहने हैं और उसने शादी नहीं की थी। उसके परिवार की देखभाल करना मेरी जिम्मेदारी है इसलिए मैंने उसकी मां को पांच लाख रुपये दिए हैं। उसके बैंक खाते में पांच लाख और डाल दूंगा ताकि उस पर ब्याज मिलता रहे। उनके लिए और जो भी कर सकता हूं, करूंगा।”