80 की उम्र में 30 साल की जवान लगती है यहां की महिलाएं


आज हम आपको बताने जा रहे है ऐसे लोगो के बारे में जिसे सुनकर आप हैरान रह जायेगे जी हाँ , यहाँ कि महिलाएं 80 साल की उम्र में भी 30-40 साल जैसी दिखाई देती हैं। आपको ये यकीन तो हो नहीं रहा होगा पर ये सच है। ये महिलाएं पाकिस्तान में नार्थ पाकिस्तान के काराकोरम माउंटेन्स पर रहने वाले हुन्जकूटस या हुंजा लोग बुरूषो समुदाय के लोग हैं।

Source

जो हुंजा वैली में रहते हैं। यहाँ कि सबसे बड़ी खासियत ये है कि ये लोग कभी बीमार नहीं पड़ते। हुंजा लोगों की गिनती चाहे कम है, लेकिन इन्हें दुनिया के सबसे लम्बी उम्र वाले, खुश रहने वाले और स्वस्थ लोगों में गिना जाता है।

हुंजा लोगों को दुनिया के कैंसर फ्री पापुलेशन में गिना जाता है क्योंकि आजतक एक भी हुंजा कैंसर का शिकार नहीं हुआ है। इन लोगों ने कभी कैंसर का नाम भी नहीं सुना है।

Source

आपको जानकर हैरानी होगी कि हुंजा घाटी की महिलायें 60 साल की उम्र में भी बच्चों को जन्म देती हैं। ये लोग इतने सुंदर दिखाई देते हैं जैसे ये इस धरती के नहीं बल्कि आसमान से आए कोई देवता या अप्सरा हों।

Source

हुंजा घटी में इन लोगों के जनसंख्या लगभग 87 हजार के आसपास है और ये लोग अपने जीवनकाल में 150 सालों तक जीतें है। यहां के पुरुष 90 की उम्र तक पिता बनते हैं।

Source

हुंजा कम्युनिटी के लोग फिजिकली और मेंटली बहुत स्ट्रॉन्ग होते हैं। इनकी लाइफस्टाइल ही इनके लंबे जीवन का रहस्य है। ये लोग सुबह 5 बजे उठ जाते हैं। ये लोग पैदल बहुत घूमते हैं।

Source

चलिए आपको बताते है इनके लम्बे जीवन का रहस्य और इनका लाइफस्टाइल ।

यहाँ के लोग दिन में केवल दो बार ही खाना खाते हैं। पहली बार वो दिन में 12 बजे खाना खाते हैं और फिर रात को। इनका खाना पूरी तरह नेचुरल होता है। इसमें किसी तरह का कैमिकल नहीं मिलाया जाता।

Source

इनका दूध, फल, मक्खन सब चीजें प्योर होती हैं। गार्डन में पेस्टिसाइड स्प्रे करना इस घाटी में बैन है। इस घाटी के लोग खासकर खुद से उगाई हुई चीजें खाते हैं जिनमे जौ, बाजरा, कुट्टू और गेहूं प्रमुख है। हुंजा घाटीइनके अलावा आलू, मटर, गाजर, शलजम, दूध जैसी चीजें भी ये बहुत खाते हैं।

Source

यहाँ के लोग मांस खाना बहुत कम पसंद करते हैं। हुंजा के लोग शून्य के भी नीचे के तापमान पर बर्फ के ठंडे पानी में नहाते हैं। ये लोग वही खाना खाते हैं जो ये खुद उगाते हैं।