इस माह के अंत तक आएंगे 12वीं के नतीजे


CBSE

नई दिल्ली : केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की 12वीं की परीक्षा के नतीजे इस माह के अंत तक आ जायेंगे और सरकार ग्रेस अंक के बारे में दिल्ली उच्च न्यायालय के खिलाफ उच्चतम न्यायलय में नहीं जायेगी। अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल संजय जैन ने पत्रकारों से कहा कि सरकार ने ग्रेस अंक नीति को फिलहाल जारी रखने का फैसला किया है और दिल्ली उच्च न्यायालय के फैसले के खिलाफ वह उच्चतम न्यायालय नहीं जायेगी।

उन्होंने कहा कि वर्तमान सत्र में देश के सभी बोर्ड ग्रेस नीति के बारे में विचार-विमर्श करेंगे, उसके बाद ही फैसला लिया जायेगा। उन्होंने कहा कि अदालत ने ग्रेस नीति के औचित्य के बारे में कोई आपत्ति नहीं की है बल्कि उसने छात्रों की मौजूदा समस्याओं को देखते हुए इसे इस बार जारी रखने का निर्देश दिया है। सरकार के इस निर्णय से बारहवीं के बोर्ड की परीक्षा के नतीजों को लेकर अनिश्चितता दूर हो गयी है और इस माह के अंत तक नतीजे आ जायेंगे।

गौरतलब है कि कल मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावेडकर ने कहा था कि नतीजे समय पर ही आयेंगे। दिल्ली उच्च न्यायालय के फैसले से बारहवीं के नतीजों को लेकर छात्रों अभिभावकों में बेचैनी बढ़ गयी थी लेकिन कल श्री जावडेकर का बयान आने से स्थिति साफ़ हो गयी। सीबीएसई के सूत्रों ने पहले बताया था कि 22 से 27 मई के बीच परीक्षा परिणाम आयेंगे लेकिन अदालत के फैसले के कारण ये रिजल्ट नहीं आ सके।

– वार्ता