100 रोगों की एक दवा है आंवला , जानिए कैसे !


आज हम आपको बताने जा रहा है आंवला के बारे में जिसके सेवन करने से मिल जाता है अनेक बीमारियों से छुटकारा ! जी हाँ , आंवला हमारे शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता हैं बता दे कि आंवला कोई आम फल नहीं है, यह तो एक औषधीय फल है। आंवला में भरपूर मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट पाया जाता हैं यह अनगणित अरोग्य लाभों से परिपूर्ण है।

Source

इसमें कई स्वास्थ लाभदायक पोषक तत्वों एवं खनिज पदार्थ मिश्रित हैं। आंवला विटामिन C का प्रचुर स्रोत है। इसके अतिरिक्त यह बहुमुल्य फल कैल्शियम, लोहा, फास्फोरस , पोटेशियम , जिंक , कैरोटीन, प्रोटीन , विटामिन ए , ई और बी कॉम्प्लेक्स , फोलेट , सोडियम, संतृप्त वसा, फाइबर आहार एवं और भी बहुत सारे पोषक तत्वों से भरपूर है।  इसलिए हर मर्ज की दवा भी कहा जाता है ।  तो चलिए जानते है इसके फायदे : –

आँखों से सम्बंधित बीमारी के लिए बहुत फायदेमंद हैं । आंवला आँखों की दृष्टी को या ज्योति को बढाता हैं। मोतियाबिंद में,कलर ब्लाइंडनेस, रतोंधी या कम दिखाई पड़ता हो तो भी आंवला का जूस फायदेमंद हैं। आखों के दर्द में भी काफी फायदा होता हैं।

Source

आंवला हड्डियों के लिए उत्तम बताया गया है आंवला के सेवन से हड्डियाँ मजबूत और ताकत मिलती हैं। आंवला के सेवन से ओस्ट्रोपोरोसिस और आर्थराइटिस एवं जोरो के दर्द में भी आराम दिलाती हैं।

भोजन को शरीर का ईंधन कहा जाता है परंतु बिना स्वस्थ एवं मज़बूत दाँतों के हम अन्न का भक्षण करने के लिए अयोग्य हैं। तो यदि आप दाँतों को और स्वस्थ और मज़बूत बनाना चाहते हैं तो रोज़ आँवला के कसे हुए प्रदार्थ चबायें।

आंवला तनाव से छुट्टी दिलाता है आमला के सेवन से तनाव में आराम मिलता हैं अच्छी नींद आती हैं। आवला के तेल को बालों के जड़ों में लगाया जाये तो कलर ब्लाइंडनेस से छुटकारा मिलता हैं । सर को ठंडा रखता हैं। और राहत देता हैं।

Source

आँवला गले को भी तंदुरस्त रखने में सहायता करता है। अदरक के जूस के साथ इसका सेवन करने से गल-शोथ एवं थाइरोइड जैसे विकारो से मुक्ति मिलती है।

आँवला हृदय को आरोग्य रखने का भी एक सबल तरीका है। यह मधुमेह को दूर कर आपकी जिंदगी को मधुमय बना देता है। यह रक्तचाप को नियनतरण में रखता है और हृदय रोग एवं दिल के दौरे से बचाव करता है।