भूकंप के दौरान 52 लोगों की जान बचाने वाले इस ‘डॉगी’ की दुनिया हुई दीवानी


आपातकाल या फिर प्राकृतिक आपदा के वक्त रेस्क्यू टीम के जवान जान जोखिम में डालकर लोगों की मदद करते है और उनकी जान बचाते है। बीते माह मेक्सिको में 7.1 तीव्रता का ऐसा भूकंप आया जिसने लोगों को बहुत नुक्सान पहुँचाया , इस शक्तिशाली भूकंप में जानमाल का काफी नुकसान भी हुआ।

भूकंप के बाद तुरंत सहायता टीम को लोगों की मदद के लिए लगाया गया जिसमे इस टीम के एक सदस्य ने ऐसा कारनामा कर दिखाया की आज वो दुनिया के लिए मिसाल बन गया है। आपको जानकार बेहद हैरानी होगी की इस टीम सदस्य कोई इंसान नहीं बल्कि एक डॉग है।

इस भूकंप में करीब 250 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी पर इस डॉगी की सूझबूझ से 52 लोगों की जान बचा गयी वार्ना मौत का आंकड़ा कुछ और होता। इसका नाम “फ्रीडा” है और यह 7 वर्ष की है। यह गोल्डन लैब्राडोर प्रजाति की है तथा वायुसेना में है।

फ्रीडा को 15 कुत्तों की एक टीम के साथ मेक्सिको के एक स्कूल में लाया गया था। बता दें कि इससे पहले फ्रीडा को भूकंप-प्रभावित राज्य ओएक्साका में भी नियुक्त किया गया था। फ्रीडा ने इस भूकंप में 52 लोगों का जीवन बचाया है और इसी वजह लोग इसका शुक्रिया कर रहे हैं। इसके बाद तो फ्रीडा के चाहने वाले दुनियाभर में उनकी प्रशंसक बन गए।

सोशल मीडिया पर लोग फ्रीडा की तस्वीरें शेयर कर इसकी सराहना कर रहे है। ट्विटर पर भी लोगों ने फ्रीडा को खूब धन्यवाद किया। एक व्यक्ति ने तो अपने हाथ पर फ्रीडा का कार्टून तक बनवा लिया है।

सोशल मीडिया पर कई ऐसी तस्वीरें भी देखी गई हैं जिनमें लोगों ने अपने अपने देश की मुद्रा पर फ्रीडा की फोटो प्रिंट की हुई हैं। इस प्रकार से 52 लोगों की भूकंप में जान बचाने वाली इस डॉगी ने इंटरनेट पर खलबली मचा रखी है। वाकई में एक बेज़ुबान जानवर का ये साहसिक कारनामा प्रशंसनीय है और सभी उसकी लम्बी उम्र की कामना कर रहे है।