साध्वियों को बाबा राम रहीम गुफा में बुलाकर ऐसे करते थे बलात्कार


वैसे तो कहते हैं न कि कोई भी आश्रम हो वहां केवल अच्छे काम ही होते है लोग अपना सब कुछ छोड़ कर आश्रम में आते हैं लेकिन आपको बता दें कि डेरा प्रमुख बाबा राम रहीम के डेरा में अच्छे और बुरे दोनों काम होते है। सैकड़ो महिलाएं इस बाबा के अत्याचार को सहती रही लेकिन किसी ने अपना मुंह नहीं खोला लेकिन जिन दो महिलाओं ने इस बाबा के काले कारनामे को दुनिया के सामने लाया उनकी तो हिम्मत की हम कल्पना भी नहीं कर सकते।

इनके की इतनी हिम्मत दिखाने के बाद ही आज इनको इंसाफ मिल रहा है और रहीम बाबा को गुनहगार साबित किया गया है। बलात्कार होने के करीब 15 साल बाद तो इन पीडि़त महिलाओं के बयान को 2009 और 2010 में दर्ज किए गए। इन महिलाओं ने अपने उस दर्द को बयान में कहा जो शायद कोई महिला नहीं सह सकती है। इनके साथ जो असहनीय पीड़ा और अपमान के बारे में बताया है। जिसका हर महिला को बाबा के आश्रम में दर्द सहना पड़ता है।  जब पुलिस के सामने दोनों महिलाओं ने अपना बयान दर्ज करवाया तो सभी बातों का जिक्र किया ।

उन्होंने बताया कि डेरा प्रमुख अपने आवास में महिलाओं के साथ रेप करता था। राम रहीम का आवास उनकी गुफा कहलाता है। बाबा के चेले रेप करने को ‘बाबा की माफी’ बताते थे, तो बाबा के आस-पास सिर्फ महिला अनुयायी ही हमेशा तैनात रहते थे। कई लड़कियां तो सिर्फ इस वजह से बाबा के डेरे में रहती थी, क्योंकि उनके घरवाले राम रहीम के भक्त थे। यही कारण था कि वह डेरा नहीं छोड़ सकती है। एक साध्वी ने बताया कि जब वह राम रहीम के आवास से बाहर आईं तो उनसे कई लोगों ने पूछा कि क्या तुम्हें बाबा की माफी मिली।

पहले उन्हें समझ नहीं आया, लेकिन बाद में पता लगा कि माफी का मतलब क्या होता है।डेरा की हरियाणा के सिरसा में लगभग 700 एकड़ खेती की जमीन है। तीन अस्पताल, एक इंटरनेशनल आई बैंक, गैस स्टेशन और मार्केट कॉम्प्लेक्स के अलावा दुनिया में करीब 250 आश्रम हैं। इसके अलावा डेरा के तमाम बैंक अकाउंट भी हैं जो अभी तक सामने नहीं आए हैं। डेरा प्रमुख के पास लग्जरी कारों का एक लंबा काफिला भी है।

जब बाबा ने 28 और 29 अगस्त 1999 की दरमियानी रात उसे अपनी गुफा में बताया और उसका रेप किया। 9 सितंबर 2010 को एक दूसरी साध्वी ने अपने बयान में बताया कि वह जून 1998 में डेरे से जुड़ी थी। गुरमीत राम रहीम ने उसे नज्म नाम दिया था। पीड़िता सिरसा की रहने वाली थी। वह भी अपने घरवालों के कहने पर डेरे में आई थी। 1999 में जब उसकी ड्यूटी गुफा में लगी थी, उसे अंदर बुलाया गया। इसके बाद राम रहीम ने उसका रेप किया। साथ ही किसी को इस बारे में न बताने की धमकी दी।