गुजरात सरकार का नया फरमान, अमरनाथ यात्रा पर जाने वाले श्रद्धालुओं को पहननी होगी बुलेटप्रूफ जैकेट


amarnath yatra

गुजरात से अमरनाथ यात्रा करने वालों को एक अनोखा फरमान राज्य सरकार ने दिया है।आपको बता दे कि पिछले साल अनंतनाग में गुजरात के अमरनाथ यात्रियों पर आतंकियों ने हमला कर दिया था। हमले के एक साल बाद गुजरात सरकार ने यात्रा पर जाने वाले अपने प्रदेश के यात्रियों के लिए कुछ दिशा-निर्देश जारी किए हैं। सरकार ने टूर ऑपरेटर्स के जरिए जाने वाले यात्रियों के लिए बुलेटप्रूफ जैकेट पहनना अनिवार्य कर दिया है।

इन दिशा-निर्देश में कहा गया है कि ड्राइवरों की उम्र सीमा 50 से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। परिवहन आयुक्त आरएम जादव का कहना है- बुलेटप्रूफ जैकेट प्रदान करने का आदेश गृह विभाग से आया है। यह एक सलाह है।

हालांकि सरकार के इस फैसले के बाद ट्रांसपोर्ट ऑपरेटर्स के बीच एक नाराजगी की स्थिति बनी हुई है। वजह यह है कि सरकार ने गुरुवार को जो गाइडलाइन्स जारी की हैं उसके तहत सिर्फ बस से कश्मीर जाने वाले यात्रियों को बुलेटप्रूफ जैकेट्स खरीदने को कहा गया है। इस आदेश में अब तक प्राइवेट टैक्सी, ट्रेन और हवाई मार्ग से कश्मीर जाने वाले यात्रियों के लिए ऐसी कोई अनिवार्यता नहीं रखी गई है जिसका ट्रांसपोर्ट ऑपरेटर विरोध कर रहे हैं।

अगर आंकड़ों की बात करें तो हर साल गुजरात से 40 हजार से ज्यादा लोग अमरनाथ यात्रा पर दर्शन के लिए जाते हैं। ऐसे में सरकार ने जो फैसला लिया है उसमें कुछ कमियां तो जरूर दिखती हैं। सरकार ने जो गाइडलाइन्स जारी की हैं, उसके अनुसार अमरनाथ यात्रा में बसों को ले जाने वाले यात्रियों के लिए अधिकतम उम्र की सीमा को 50 वर्ष कर दिया गया है, जिसके कारण बस ऑपरेटर्स में इसे लेकर असंतोष है।

बता दें कि साल 2017 में कश्मीर के अनंतनाग जिले में आतंकियों ने अमरनाथ यात्रियों पर हमला किया था। इस आतंकी हमले में 7 लोगों की मौत हुई थी जबकि 32 अन्य लोग गंभीर रूप से घायल हुए थे। श्रीनगर से 50 किमी दूर हुए इस हमले के बाद इस हमले के मास्टरमाइंड लश्कर आतंकी अबु इस्माइल को कश्मीर की एक आतंकी मुठभेड़ में मार गिराया गया था।

अधिक लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक  करें।