मुर्गी पहले आई या अंडा ? मिल गया जवाब !


कौन पहले आया, मुर्गा या अंडा? चिकन, नहीं, अंडा, नहीं, चिकन, नहीं, अंडा अब इतनी बार सोचने के बाद आपका सर चकराना लाज़मी है ओर इस सवाल का जवाब मालूम करना एक गोले का शुरुवाती पॉइंट पता करने से कही ज्यादा मुश्किल है ।

वैज्ञानिकों ने इस सवाल का जवाब ढूंढने मे बहुत समय लगाया पर अब जाकर वो इस निष्कर्ष पर आ गए है की ” मुर्गी ” इस दुनिया में अंडे से पहले आई है । इस बात को साबित करने के लिए बड़ा ही महत्वपूर्ण तथ्य भी रिसर्च में प्राप्त हुआ है।

वैज्ञानिक रॉबर्ट क्रुलविच हाल ही में दुविधा को खत्म करते हुए बताया की शोध में जानकारी प्राप्त हुई है की मुर्गी के अंडे का खोल का निर्माण  ओवोक्लाइडिन नाम के प्रोटीन से होता है जो मुर्गी के अंडाशय में पाया जाता है जिससे ये साफ़ होता है अंडे की उत्पत्ति मुर्गी से हुई है तो नतीजन मुर्गी इस दुनिया में पहले आई है ।

रिसर्च के आधार पर दावा किया गया है शताब्दियों पहले  मुर्गी जैसी पक्षी था। यह आनुवंशिक रूप से मुर्गी के करीब था, लेकिन पूरी तरह से विकसित मुर्गी नहीं था। इसे एक प्रोटो-चिकन कहते हैं तो प्रोटो-मुर्गी ने एक अंडे दिया , और प्रोटो-रोस्टर ने इसे निषेचित किया। लेकिन जब मा और पे से जीन लगभग-चिकन जुड़े हुए थे, तो उन्होंने एक नए तरीके से संयुक्त बना दिया, जिससे उत्परिवर्तन उत्पन्न हो गया, जिससे गलती से बच्चे को अपने माता-पिता से अलग कर दिया गया।

यद्यपि यह ध्यान देने योग्य है की ऐसा अंतर होने के लिए के लिए सहस्राब्दी का समय लगता है, कि अंडे एक नई प्रजाति के आधिकारिक पूर्वज बनने के लिए काफी अलग थी, जिसे अब चिकन कहा जाता है! तो संक्षेप में (या यदि आप पसंद करते हैं), दो पक्षियों जो वास्तव में मुर्गियों नहीं थे, एक चिकन अंडे बनाते हैं, और इसलिए, हमारे पास एक जवाब है: पहले प्रोटो-चिकन  आया, उनकी वजह से मुर्गी आई और फिर मुर्गी का अंडा आया ।