ये बाबा मासूम लड़कियों को जंजीर में बांधकर करता है ऐसे इलाज, देखिए वीडियो


वैसे तो हम 21 वीं सदी की बात करते हैं। लोगों को जागरूक करने की बातें करते हैं। यहां पर लोगों को मेक इन इंडिया, डिजिटल इंडिया और बुलेट ट्रेन इन सारे चीजों के बारे में लोगों को जागरूक करते हैं और बताते हैं कि भारत देश एक नए युग में जाने की बातें कर रहा है। भारत की सोच बदल रही है। लेकिन आपको बता दें कि आज भी इस देश के लोग अंधविश्वास जैसी बेकार की चीजों में उलझते हुए नजर आते हैं। कई ऐसे ग्रामीण जगह हैं जहां पर आज भी लोग अंधविश्वास जैसी बातों में जकड़े हुए हैं।

 

भारत के एक राज्य केछोटे से जिले में आज भी लोग अंधविश्वास में जीते आ रहे हैं। हम बात कर रहे हैं जिले के महाराजगंज थाना क्षेत्र के बरियार गांव में छत्रपाल भुइहारे बाबा की।

यह जो बाबा है उसका यह दावा है कि जो वह जादू-टोना करके पीडि़त महिलाओं को जो असाध्य रोग होता है उसे वह मानसिक रूप से बिल्कुल सही कर देता है। रायबरेली के इस गांव में बाबा धर्म के नाम पर यहां की महिलाओं और बच्चियों के साथ बर्बरतापूर्ण सुलूक करता है।

गांव की पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी है

बाराबंकी की रहने वाली एक लड़की जिसका नाम रक्षा है। उस लड़की के पिता अयोध्या प्रसाद उसे बाबा के पास ले गए। जैसे ही उस लड़की के पिता उसे बाबा केपास लेकर पहुंचे तो बाबा ने उस लड़की को देखा और उसे जंजीरों से बांध दिया। जंजीरों से बांधने के बाद बाबा ने उस लड़की का इलाज करना शुरू किया। वहां के लोगों का कहना है कि काफी दिनों से बाबा ऐसे ही लोगों का इलाज करता है। पुलिस ने तो इस मामले से अपने आपको दूर कर रखा है। मानो जैसे की पुलिस भैरी हो गर्ई है।

पिता को बाबा पर है भरोसा स्वस्थ हो जाएगी बेटी

बच्ची के पिता ने यह बताया है कि लड़की को शुरू में फाइलेरिया की परेशानी थी। लड़की का इसका इलाज चला था लेकिन उस इलाज से उसे ज्यादा आराम नहीं मिल पाया था। और फिर लड़की के पिता अयोध्या प्रसाद उसे बाबा के पास ले गया था। अयोध्या प्रसाद को बाकि लोगों की तरह ही यह भरोसा है कि उनकी बेटी यहां पर बिल्कुल स्वस्थ हो जाएगी। जब बाबा से यह पूछा गया तो वह अपने ही चमत्कारों का गुणगान करने लगे।