इस फल के रस और बीजों का इस्तेमाल दिला सकता है गंजेपन और टूटते बालों से छुटकारा


आजकल झड़ते बालों की समस्या आं सी बात हो चली है। लोग अपने बालों को दुबारा उगाने के लिए महंगे ट्रीटमेंट भी लेते है पर आप नहीं जानते होंगे की ऐसे देसी इलाज भी है जो आपके खोये हुए बालों को दुबारा उगा सकते है और बालों की गंभीर से आपको छुटकारा दिला सकते है। आज हम आपको ऐसा देसी नुस्खा बताने वाले है जिसके बारे आप नहीं जानते होंगे पर इसका इस्तेमाल गंजेपन को दूर करने में बेहद फायदेमंद है। आपने एक फल का नाम जरूर सुना होगा धतुरा, पर आपको बता से की इस फल के साथ-साथ धतूरे का फूल और पत्तियां बालों के इलाज़ में काफी कारगर है। ये फल खाने योग्य नहीं होता पर इसके कई औषधिय गुण है जो आपके लिए जानना जरुरी है।

1.पुराने समय से धतूरे के बीजों का इस्तेमाल गंजेपन को दूर करने के लिए किया जाता है, धतूरे के बीज का तेल निकाल कर गंजी जगहों पर लगाने से बाल आने लगते है। पर ये बीज काफी विषाक्त होते है तो कभी इसका सेवन न करे।

2.रूसी और झड़ते हुए बालों से छुटकारा पाना चाहते है तो सके फल के रस को सप्ताह में एक बार सिर पर लगाए। इससे नये बाल जड़ में से निकल आते है और पोषण अच्छा होता है।

3.धतूरे की पत्तियां अस्थमा के मरीजों के लिए काफी लाभकारी होती है। पारंपरिक रूप से धतूरे की पत्तियों को रोल करके धुआँ लेने से अस्थमा का इलाज होता है।

4.धतूरे के फल को जलाकर मलेरिया जैसे बुखार का भी इलाज़ किया जाता है पर इसका उपयोग करने से पहले किसी जानकार की सलाह अवश्य ले।

5.धतूरे का पौधा कीटाणु रोधी भी होता है तो आप इसका प्रयोग अपने बगीचे में भी कर सकते है, ये आपके दूसरे पौधों को कीटाणुओं से बचाता है।

6 धतुरे की पत्तियों का इस्तेमाल कई प्रकार के ह्रदय रोगों के उपचार में भी किया जाता है लेकिन इसके उपयोग के लिए भी परामर्श जरूर ले।