गोवा के ‘वास्को द गामा’ में जरूर घूमे ये 5 जगह


नई दिल्ली : ‘वास्को द गामा‘ एक पुर्तगाली खोजकर्ता यूरोपीय खोज युग के सबसे सफल खोजकर्ताओं में से एक थे। वास्को को भारत का (समुद्री रास्तों द्वारा) खोजकर्ता के अलावा अरब सागर का महत्वपूर्ण नौसेनानी और ईसाई धर्म के रक्षक के रूप में भी जाना जाता है।

जैसा की हम जानते हैं लोग गोवा का नाम सुनते ही काफी उत्साहिक हो जाते है, और हो भी क्यों न वो जगह ही बहुत खूबसूरत है। जब भी आप गोवा जाये तो ‘वास्को द गामा’ में ये 5 चीज़े जरूर घूमे :

1- सेंट एंड्रयूज चर्च (St. Andrews Church)
वास्‍को द गामा शहर में प्रवेश करते हुए इस चर्च के दर्शन आपको होंगे। इसका निर्माण 1970 में किया गया था। आदिल शाह के सिपाहियों ने इस चर्च को 1578 में ढहा दिया था जिसे 1594 में फिर से बना दिया गया। बाहर से भले यह चर्च देखने में साधारण लगता हो लेकिन अंदर इसका वास्‍तु काफी सजावटी है।

2- नेवल एविएशन म्‍यूजियम (Naval aviation museum)
देश में दो नेवल एविएशन म्‍यूजियम हैं, जिनमें से एक वास्‍को द गामा में है। इस म्‍यूजियम में नेवी के एयर विंग के विमान और हेलीकॉप्‍टर प्रदर्शित किए गए हैं। यह म्‍यूजियम दो हिस्‍सों में बंटा हुआ है। बाहरी हिस्‍से में विमान, हे‍लीकॉप्‍टर और इं‍जन प्रदर्शित किए गए हैं और अंदर के हिस्‍से में विमान में प्रयोग होने वाले हथियार और नौसेना के एयर विंग से संबंधित चीजें प्रदर्शित की गईं हैं।

3- जापानी गार्डन (Japanese Garden)
एक समय जहां फोर्टालिजा सांता कैटरीना था वहीं जापानी गार्डन बना है। आप इस गार्डन से किले के खंडहर हो चुकी दीवारों को देख सकते हैं। यह गार्डन मार्मागोवा रिज के छोर पर स्थित है। यहां से अरब सागर का मनमोहक नजारा देखा जा सकता है। थोड़ा पैदल जाकर आप एक छोटे से बीच पर भी घूमने का लुत्‍फ भी उठा सकते हैं।

4- बॉगमालो बीच (Bogmalo beach)
यह गोवा का एकांत बीच है। यह गोवा के बेहतरीन बीच में से एक है। अकसर देखने में आता है बीच पर काफी व्‍यवसायिक गतिविधियां रहती हैं जिससे आपके घूमने-फिरने का मजा किरकिरा हो जाता है लेकिन यहां प्राकृतिक सुंदरता और नैसर्गिक शांति आपका मन मोह लेगी।

5- इसोरसिम बीच (Issorcim beach)
यह छोटा सा शांत बीच है। गोवा के दूसरे बीच से अलग यह समतल बीच है। यहां पानी से संबंधित खेलों का आप ज्‍यादा मजा ले सकेंगे। यह बीच काफी साफ-सुथरा है। यहां भीड़भाड़ भी काफी कम रहती है जिसकी वजह से आप यहां प्रकृति के ज्‍यादा करीब महसूस कर सकते हैं