वायरल वीडियो : मासूम पिल्ले को पैरों से कुचलती लड़कियों का सच जानकर आपके भी उड़ जायेगे होश ! जानिए


आज हम एक ऐसे वायरल वीडियो के बारे में बताने जा रहे है जिसमें मानवता को शर्मशार करती हुई तीन लड़कियों नज़र आ रही है। जी हाँ , वैसे तो सोशल मीडिया एक ऐसा प्लेटफार्म बन गया है, जिसने लोगों को अपनी बात दुनिया का सामने रखने का मौका दिया है। लेकिन, कुछ लोग ऐसे भी हैं जो कुछ फैलाते रहते हैं। लेकिन, सबसे हैरानी की बात ये है कि लोग आँख बंद करके ऐसी बातों पर भरोसा भी कर लेते हैं। शायद आपको याद होगा कि कुछ सालों पहले एक वीडियो सोशल मीडिया पर आग की तरह फैला था, जिसमें 3 लड़कियाँ एक पिल्ले को पैरों से कुचलती हुई नज़र आ रही थीं। लेकिन, अब इस वीडियो की जो सच्चाई सामने आई है वह होश उड़ाने वाली है।

social media

आपको बता दे की सोशल मीडिया पर इस वायरल हुए वीडियो में एक पिल्ले को तीन लड़कियां बेरहमी से मारते, उसके ऊपर चढ़ते और उसे लात मारते दिखाई दे रही थीं। एक मासूम से जानवर के साथ ऐसा व्यवहार होता देख सोशल मीडिया के होनहारों का दिल पसीज गया । वीडियो सामने आने के बाद हर किसी में इन लड़कियों को लेकर गुस्सा था। लोग इंन्सानियत की दुहाई देने लगे और पिल्ले के प्रति अपनी दया दिखाने लगे। इस वीडियो को देखते ही देखते करोड़ों लोगों ने शेयर और देख ड़ाला।

girls

और हजारों लोग, जिन्हें अलग-अलग सोशल मीडिया के माध्यम से ये वीडियो मिला, वो इसकी असल कहानी जानना चाहते हैं। एक शख्स ने तो सोशल मीडिया पर ये भी पूछ डाला कि ये कॉस्मेटिक बनाने के मकसद से पिल्ले को मार रहे हैं या किसी अंधविश्वास की वजह से ऐसा कर रहे हैं।

girls

जानकारी के लिए जब एक मीडिया वेबसाइट ने वीडियो भेजने वाले अधिकतर लोगों से पूछा कि उन्हें ये वीडियो कहां से मिला, तो हैरानी वाली बात थी की सबने वॉट्सऐप ही बताया। तहकीकात करने पर सामने आया कि वायरल वीडियो सबसे पहले साल 2013 में सोशल मीडिया के द्वारा देखा गया था। तब ये पहली बार इंटरनेट पर आया था। ये वीडियो जिस तेजी से वायरल हुआ उसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है की इस वीडियो के पहले ही पोस्ट को हजारों लोगों ने शेयर किया था।

girls

बता दे कि ये वीडियो फिलीपींस का है। इन तीनों लड़कियों को ये वीडियो बनाने के लिए एक मोटी रकम मिली थी। असल में ये वीडियो करीब 20 मिनट का था। लेकिन अभी इंडिया में इसका जो हिस्सा वायरल हो रहा है वो करीब 5 मिनट का है। सुनकर शायद झटका लगे कि ये महज एक वीडियो ही नहीं। बल्कि एक मार्केट है। जहाँ जानवरों को इस तरह टॉर्चर करके मारने के ऐसे वीडियोज को ‘क्रश वीडियोज़’ (Crush Video) कहते हैं।

girls

यूट्यूब पर संभवत: आपको ऐसे कई वीडियो मिल जाएंगे। जिन लोगों को ऐसे वीडियो देखकर खुशी मिलती है, वो इनके लिए मोटी रकम चुकाते हैं। इन ‘क्रश वीडियो’ में जानवरों को तड़पा-तड़पाकर बेहद दर्दनाक तरीके से मारा जाता हैl देखने वाले पैसे देते हैं और बनाने वालों को पैसे मिलते हैं।

money

आपको बता दे की यह वीडियो पहली बार लोगों के सामने साल 2013 में आया था। 2013 में जब ये वीडियो वायरल हुआ था तब फिलीपींस की एक गैरसरकारी संस्था फिलीपींस एनिमल वेलफेयर सोसायटी (PAWS) ने इन तीनों लड़कियों की खोज शुरू कर दी थी। अरेस्ट होने के बाद इन लड़कियों ने खुद कुबूला कि एक कपल ने इन्हें वीडियो बनाने के लिए अच्छे पैसे दिए थे। कुछ ही दिनों में डोरमा और विसेंट रिडॉन नाम के उन दो लोगों को भी गिरफ्तार कर लिया गया। जिन्होंने लड़कियों को पैसे देकर उनसे वीडियो बनवाया था।

देश और दुनिया का हाल जानने के लिए जुड़े रहे पंजाब केसरी के साथ