क्यों होते हैं शरीर पर मस्से सच जानकर हो जाएंगे हैरान


आज की भागती-दौड़ती जिंदगी में हमारे शरीर का ठीक से देखभाल भी नहीं हो पाती है जिसकी वजह से हमें काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। हर कोई इस व्यस्त जिंदगी में सिर्फ काम ही काम करता हुआ नजर आता है। हमसे ऐसे आधे से ज्यादा ऐसे लोग हैं जो कि अपने शरीर का बिल्कुल भी ध्यान नहीं रखते हैं।

उसकी वजह से हमारी सेहत खराब होने लगती है और जब मामला ज्यादा खराब हो जाता है तब लोग अपने शरीर पर ध्यान देना शुरू करते हैं। हमारे शरीर को एक दिन में जितना आहार लेना चाहिए उतना आहार हम अपने शरीर को बिल्कुल भी नहीं दे पाते हैं। फिर उसका असर हमारे स्वास्थ्य पर होता है और सबसे पहले तो इसका असर चेहरे पर देखने लगता है।

हमारे चेहरे पर इसका प्रभाव कुछ इन चीजों से पड़ता है जैसे कि चेहरे पर झाइयां, मस्से और तिल आ जाते हैं। किसी के चेहरे पर अगर यह सब ज्यादा हो जाते हैं तो उसका तो चेहरे का क्लोजउप ही चेंज हो जाता है।

आज हम आपको बताएंगे कि मस्से कैसे होते हैं।

मस्से काले रंग और भूरे रंग के होते हैं। मस्से 10 से 12 तरह के होते हैं। अगर मस्से को काट दिया या फिर उन्हें फोड़ दिया तो उनका पूरा वायरस हमारे शरीर में जाकर शरीर के कुछ हिस्सों पर प्रभाव डाल देता है। मस्सों का वायरस के आदमी से दूसरे आदमी की त्वचा पर भी चला जाता है। बता दें कि कुछ मस्सेतो अपने आप ही ठीक हो जाते हैं और कुछ ऐसे होते हैं जिनका इलाज करवाना पड़ता है। त्वचा पर अगर पेपिलोमा नाम का वायरस आजाये तो छोटे, खुरदुरे कठोर पिंड बन जाते हैं जो की मस्सा होते है।