पर्यटन को बढावा देने के तहत हवाई सेवाओं का विस्तार

0
56

जयपुर  : राजस्थान के ग्रामीण विकास मंत्री राजेन्द्र सिंह राठौड़ ने कहा कि प्रदेश में पर्यटकों को आकर्षित करने के लिये आधार भूत संरचना का विस्तार कर हवाई सुविधाओं को बढाया गया है। श्री राठोड़ ने आज विधानसभा में प्रश्नकाल में विधायक दर्शन सिंह के प्रश्न का जवाब देते हुये कहा कि पर्यटन के क्षेत्र में राजस्थान देश का छठा राज्य है जहां देशी विदेशी पर्यटक काफी संख्या में आते है। उन्होंने कहा कि राज्य के सभी पर्यटन स्थान आधार भूत सुविधाओं सड़क,रेल और हवाई जहाज से जुड़े हुये है। उन्होंने कहा कि राजस्थान में पहले 38 हवाई सेवायें संचालित होती थी जो अब बढ़कर 50 हो गयी है। इसी तरह छोटे शहरों को भी हवाई सुविधाओं से जोडा गया है। उन्होंने कहा कि राज्य में पर्यटन को बढावा देने के लिये राज्य सरकार ने बजट में 22 दशमलव 37 प्रतिशत की बढोत्तरी कर 168 करोड़ रूपये का प्रावधान किया है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2015-16 में राजस्थान में देशी पर्यटकों की संख्या 17 दशमल 93 प्रतिशत तथा विदेशी पर्यटकों की संख्या में 2 दशमलव 60 प्रतिशत की वृद्धि हुयी। उन्होंने बताया कि 2015 में राज्य में तीन करोड़ 66 लाख तथा 2016 में चार करोड़ 30 हजार पर्यटक आये। विधायक नंद किशोर महरिया ने प्रदेश के शेखावाटी क्षेत्र में हेरीटेज महत्व की हवेलियों को तोडऩे का जिक्र करते हुये राज्य सरकार से इसके सरंक्षण की मांग की गयी। इसी तरह विधायक रणधीर ङ्क्षसह ङ्क्षभडर ने पर्यटकों को आकर्षित करने के लिये प्रचार प्रसार को बढावा देने की मांग की। विधायक अलका ङ्क्षसह ने भी आभानेरी बावडियों के रखरखाव का सवाल उठाते हुये कहा कि पर्यटन महत्व के इस क्षेत्र में आवागमन की सुविधाओं का विस्तार किया जाय। श्री राठौड़ ने कहा कि राज्य सरकार ने जिला कलेक्टरों को निर्देश दिये है कि हेरीटेज महत्व के पर्यटन स्थलनों में तोड़ फोड़ नहीं होने दी जाये और शेखावाटी को पर्यटन सर्किट से जोडा जायेगा। उन्होंने आभानेरी बावडियों का जिक्र करते हुये कहा कि इस क्षेत्र के प्रति जापानी सहित अन्य पर्यटकों के रूझान को देखते हुये आवागमन की सुविधाओं को बढाया जायेगा।

– वार्ता

LEAVE A REPLY