BREAKING NEWS

शरद पवार ने NCP छोड़ने वाले नेताओं को बताया ‘कायर’◾जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त करना भाजपा की राष्ट्रीय प्रतिबद्धता थी : नड्डा ◾आजाद ने अपने गृह राज्य जाने की अनुमति के लिए उच्चतम न्यायालय का किया रुख◾सिद्धारमैया ने बाढ़ राहत को लेकर केन्द्र कर्नाटक सरकार की आलोचना की◾बेरोजगारी पर बोले श्रम मंत्री-उत्तर भारत में योग्य लोगों की कमी, विपक्ष ने किया पलटवार ◾INLD के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अशोक अरोड़ा और निर्दलीय विधायक कांग्रेस में हुये शामिल ◾PAK ने इस साल 2,050 से अधिक बार किया संघर्षविराम उल्लंघन, 21 भारतीयों की मौत : विदेश मंत्रालय ◾PM मोदी,वेंकैया,शाह ने आंध्र नौका हादसे पर जताया शोक◾पासवान ने किया शाह के हिंदी पर बयान का समर्थन◾न्यायालय में सोमवार को होगी अनुच्छेद 370 को खत्म करने, कश्मीर में पाबंदियों के खिलाफ याचिकाओं पर सुनवाई◾TOP 20 NEWS 15 September : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾आंध्र प्रदेश के गोदावरी में बड़ा हादसा : नाव पलटने से 13 लोगों की मौत, कई लापता◾संतोष गंगवार ने कहा- नौकरी के लिये योग्य युवाओं की कमी, मायावती ने किया पलटवार ◾पाकिस्तान ने इस साल 2050 बार किया संघर्षविराम उल्लंघन, मारे गए 21 भारतीय◾संतोष गंगवार के 'नौकरी' वाले बयान पर प्रियंका का पलटवार, बोलीं- ये नहीं चलेगा◾CM विजयन ने हिंदी भाषा पर बयान को लेकर की अमित शाह की आलोचना, दिया ये बयान◾महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में 'अप्रत्याशित जीत' हासिल करने के लिए तैयार है BJP : फडणवीस◾ देश में रोजगार की कमी नहीं बल्कि उत्तर भारतीयों में है योग्यता की कमी : संतोष गंगवार ◾ममता बनर्जी पर हमलावर हुए BJP विधायक सुरेंद्र सिंह, बोले- होगा चिदंबरम जैसा हश्र◾International Day of Democracy: ममता का मोदी सरकार पर वार, आज के दौर को बताया 'सुपर इमरजेंसी'◾

पंजाब

4 वर्षीय मासूम स्कूली बच्ची के साथ लुधियाना में हुई छेड़छाड़, पीडि़त बच्ची की मां द्वारा इंसाफ की गुहार

लुधियाना :  देशभर के कोनेे-कोने से अक्सर हवस के दरिंदों द्वारा मासूम बच्चियों के साथ छेड़छाड़ की घटनाएं बढ़ती जा रही है और ऐसी ही एक घटना को लुधियाना में दरिंदे द्वारा अंजाम दिया गया। यह आरोप स्थानीय नामी स्कूल में नर्सरी कक्षा में पढऩे वाली 4 वर्षीय बच्ची के अभिभावकों ने लगाए है। 

बच्ची के साथ हुई इस घिनौनी कार्यवाही को सुनते ही अभिभावकों समेत अन्य गुस्साएं लोगों ने ना केवल स्कूल प्रबंधकों का घेराव किया बल्कि भारी सुरक्षा बंदोबस्त के बीच स्कूल परिसर में तोडफ़ोड़ की।  पीडि़ता के अभिभावकों ने बच्ची के साथ स्कूली बस ड्राइवर और कंडक्टर द्वारा घिनौनी कार्यवाही किए जाने के आरोप लगाए है।   जिसके बाद बच्चे के परिजनों और स्थानीय लोगों ने स्कूल पहुंचकर हंगामा किया और तोडफ़ोड़ भी की। मौके पर पहुंची पुलिस मामले की जांच कर रही है।

पीडि़ता की मां का आरोप है कि बीते दिन, उसकी बेटी करीब आधा घंटा लेट स्कूल बस से घर पहुंची। वह कुछ भी बोल नहीं पा रही थी। अगले दिन सुबह उन्हें स्कूल बस के चालक का फोन आया। उसने उनके बेटी के स्कूल नहीं आने का कारण पूछा, लेकिन उन्होंने कहा कि आज स्कूल में छुट्टी है, इसलिए वह नहीं गई। कुछ शक होने पर सोमवार सुबह वह स्कूल पहुंची। उन्होंने स्कूल वालों से बस में लगे कैमरे की फुटेज मांगी। करीब 1 घंटे बैठाने के बाद उन्हें प्रिंसिपल जसकिरण कौर से मिलवाया गया, तो उन्होंने उनकी बात सुनकर बस के चालक के साथ बात करने की करने का भरोसा दिया। 

करीब 1 घंटे बाद प्रिंसिपल ने उन्हें बताया कि बच्ची अब दूसरी बस में जाया करेगी। इसके अलावा, बस में लगे कैमरे का मेमोरी कार्ड खराब हो चुका है। उन्होंने उन्हें घर जाने और कार्रवाई के लिए इंतजार करने का भरोसा दिया है। शाम के वक्त वह अस्पताल में गई। जिनके कहने पर पुलिस थाना दाखा में शिकायत दी और उसके बाद उनकी बेटी का मेडिकल चेकअप हुआ। उन्होंने डॉक्टर पर भी सवाल उठाए।

स्कूल के प्रिंसिपल जसकिरण कौर का कहना था कि कल सुबह उन्हें बच्चे के अभिभावक मिले। उन्होंने बताया कि बीत दिन, उनकी बच्ची ठीक हालत में घर पर नहीं पहुंची थी और रात 9.00 बजे तक निढाल रही। उनके कहने पर उन्होंने बस के ड्राइवर व कंडक्टर को बुलाया। जिसके बाद बच्चे के अभिभावक पुलिस के पास गए और उन्होंने मामले में शिकायत दर्ज करवाई। 

उन्होंने बस और चालक को पुलिस के पास थाने भेज दिया। बस की फुटेज और जीपीएस लोकेशन भी पुलिस को सौंप देंगे।  डीएसपी गुरबंस सिंह बैंस का कहना था कि पुलिस मामले की जांच कर रही है। बयान लेने के बाद मामले में अगली कार्रवाई करें जाएगी।

- रीना अरोड़ा