BREAKING NEWS

असम-मेघालय सीमा विवाद को लेकर अमित शाह से आज मिलेंगे मेघालय CM संगमा और असम सीएम हिमंत◾देश में अब तक कोविड रोधी टीके की 159.54 करोड़ से ज्यादा दी गई खुराक , स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी जानकारी ◾जल्द ही बाजार में भी मिल सकेंगी Covishield और Covaxin , सरकार ने लिया ये बड़ा फैसला◾चीनी सेना ने सीमा से भारतीय युवक का किया अपहरण , MP तापिर गाओ ने मोदी सरकार से लगाई मदद की गुहार◾ विदेश मंत्री एस जयशंकर ने फिनलैंड के विदेश मंत्री के साथ अफगानिस्तान समेत कई मुद्दों पर की चर्चा◾PM मोदी और मारीशस के पीएम पी जगन्नाथ 20 जनवरी को परियोजनाओं का करेंगे उद्घाटन◾कोविड-19 : राजधानी में 24 घंटो में कोरोना के 13,785 नए मामले सामने आये, 35 लोगो की हुई मौत◾CDS जनरल बिपिन रावत के छोटे भाई कर्नल विजय रावत हुए भाजपा में शामिल, उत्तराखंड से लड़ सकते हैं चुनाव ◾पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी आम आदमी नहीं बल्कि बेईमान आदमी हैं : केजरीवाल◾बदली राजनीतिक परिस्थितियों में मुझे विधानसभा चुनाव नहीं लड़ना चाहिए : उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री ◾पंजाब : सीएम चन्नी ने BJP और केंद्र सरकार पर लगाया आरोप, कहा-ईडी की छापेमारी मुझे फंसाने का एक षड्यंत्र ◾प्रधानमंत्री को पता था कि योगी कामचोरी वाले मुख्यमंत्री है इसलिए उन्हें पैदल चलने की सजा दी थी : अखिलेश यादव ◾PM मोदी ने 15 से 18 वर्ष आयु के 50 प्रतिशत से अधिक युवाओं को टीके की पहली खुराक लगाए जाने की सराहना की◾यूपी : जे पी नड्डा का बड़ा ऐलान, 'अपना दल' और निषाद पार्टी के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ेगी भाजपा◾हरक सिंह की वापसी पर कांग्रेस में बढ़ी अंदरूनी कलह, बागी को ठहराया 'लोकतंत्र का हत्यारा', पूछे ये सवाल ◾समाजवादी पार्टी के नेताओं को भी पता है कि उनकी बेटियां एवं बहुएं भाजपा में सुरक्षित हैं : केन्द्रीय मंत्री ठाकुर ◾त्रिवेंद्र रावत ने चुनाव लड़ने से किया इंकार, नड्डा को लिखा पत्र, कहा- BJP की वापसी पर करना चाहता हूं फोकस ◾मुलायम परिवार में BJP की बड़ी सेंधमारी, अपर्णा यादव के बाद प्रमोद गुप्ता थामेंगे कमल, SP पर लगाए ये आरोप ◾PM मोदी, योगी और शाह समेत पार्टी के कई बड़े नेता BJP के स्टार प्रचारकों की सूची में शामिल, जानें पूरी लिस्ट ◾महाराष्ट्र: मुंबई में कोविड की स्थिति नियंत्रित, BMC ने हाईकोर्ट को कहा- घबराने की कोई बात नहीं◾

पंजाब पुलिस वालों से हुई मारपीट को लेकर 5 समेत 40-50 अज्ञात लोगों पर मामला दर्ज

लुधियाना- बठिंडा : पंजाब पुलिस द्वारा नशा तस्करों को नुकेल डालने की कोशिशों के बीच आज बठिण्डा सीआइए स्टाफ -1 की पुलिस पार्टी ने हरियाणा के सीमावर्ती गांव देसू जोधा में छापामारी करने पहुंची तो गांव के बाशिंदों और पुलिस के मध्य जमकर झड़प हो गई, जिसमें गांव का एक नौजवान मारा गया, वही गांव के कई लोगों समेत पुलिस मुलाजिम जख्मी हुए है, जिन्हें बठिण्डा के निजी अस्पताल में इलाज के लिए दाखिल करवाया गया है। 

फिलहाल सुरक्षा के मध्यनजर पूरे अस्पताल को पुलिस छावनी में तबदील किया गया है और चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल को तैनात रखा गया है। पुलिस वालों के साथ मारपिटाई के मामले में हरियाणा पुलिस ने थाना सिटी डबवाली में गांव देसू जोधा के गगनदीप, कुलविंद्र, बिंदा, जस्सा, तेजा और 40-50 अज्ञात लोगों के खिलाफ इरादा कत्ल, सरकारी गाड़ी की तोडफ़ोड़ के अलावा आर्मस एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है। 

प्राप्त जानकारी के मुताबिक यह मामला सुबह सवेरे उस वक्त सामने आया जब पंजाब पुलिस सीमा से सटे हरियाणा के सिरसा जिले में गांव देसुजोधा में ड्रग तस्करों को दबोचने के लिए गई थी। वहां के मोजूद बाशिंदों ने पंजाब पुलिस की इस कार्रवाई का जमकर विरोध किया। चीखने-चिल्लाने और विरोधता के बीच पुलिस टीम नहीं रुकी तो लोगों ने पुलिस वालों पर लाठियों डंडो और ईंटो से हमला कर दिया।  

पंजाब पुलिस की टीम के सदस्य को स्थानीय महिलाओं और पुरूषों ने जमकर पीटा, यहां तक कि अज्ञात लोगों ने पुलिस वालों पर फायर भी किए, जिसके जवाब में पुलिस ने जवाबी कार्यवाही करते हुए अपना बचाव किया। स्थानीय लोगों ने पुलिस की हरकतों को मोबाइल के जरिए कैद करके सोशल मीडिया पर डाला है। इसी दौरान एक युवक को गोली लगी, जिसकी अस्पताल ले जाते हुए मौत हुई है, इसके साथ ही आधा दर्जन से अधिक पुलिसवाले जख्मी हुए है, जिनमें से एक की हालत गंभीर है।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक 6 अक्टूबर को बठिंडा की क्राइम ब्रांच ने दो लोगों को लगभग 6 हजार प्रतिबंधित गोलियों के साथ पक ड़ा था। 7 अक्टूबर को थाना रामा में केस दर्ज करने के बाद जब आरोपियों से पूछताछ की गई तो उसमें देसुजोधा के एक युवक का नाम आया। इसी आधार पर पुलिस बुधवार सुबह उसे गिरफ्तार करने के लिए गांव में पहुंची थी। इस दौरान आरोपी तो भाग गया, मगर वहां ग्रामीणों ने पुलिस टीम पर हमला कर दिया। तनाव इतना बढ़ गया कि पुलिस पर ग्रामीणों ने हमला कर दिया। इसके बाद पुलिस भी हरकत में आई और दोनों ओर से गोलियां चल पड़ी।

इस घटना में गांव के जग्गा सिंह नामक एक एक व्यक्ति की गोली लगने से मौत हो गई, छाती में गोली लगनेे के बाद गंभीर जख्मी कॉन्स्टेबल कमलजीत सिंह को मैक्स अस्पताल में दाखिल करवाया गया है। इसके अलावा एएसआई गुरतेज सिंह, सुखदेव सिंह, एएसआई गुरतेज सिंह,  एसआई जसकरण सिंह, हरजीवन, कॉन्स्टेबल हरमीत सिंह व एक महिला पुलिस कर्मी भी घायल हो गए हैं।

इस संबंध में सिरसा पुलिस ने केस दर्ज करते हुए पड़ताल शुरू कर दी है। चुनाव के समय में जब हथियार पास रखने की अनुमति नहीं है तो ऐसे में ग्रामीणों के पास हथियार कहां से आए यह बड़ा सवाल है। चुनाव के समय में इस तरह की घटना से कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए हैं। वहीं घटनाक्रम का एक वीडियो भी सामने आया है। इसमें ग्रामीणों को गोलियां चलाते पत्थरबाजी करते देखा जा सकता है।

- सुनीलराय कामरेड