BREAKING NEWS

अयोध्या पर AIMPLB की बैठक आज, इकबाल अंसारी करेंगे बहिष्कार◾झारखंड विधानसभा चुनाव: कांग्रेस ने रांची में भाजपा से मुकाबला करने के लिए झामुमो को किया आगे◾महा गतिरोध : सोनिया-पवार की मुलाकात अब सोमवार को होगी ◾शीतकालीन सत्र के बेहतर परिणामों वाला होने की उम्मीद : मोदी◾मुसलमानों को बाबरी मस्जिद के बदले कोई जमीन नहीं लेनी चाहिये - मुस्लिम पक्षकार◾GST रिटर्न दाखिल करने की प्रक्रिया को सरल बनाने को लेकर वित्त मंत्री ने की बैठकें ◾भारत ने अग्नि-2 बैलिस्टिक मिसाइल का किया सफल परीक्षण◾विपक्ष में बैठेंगे शिवसेना के सांसद ◾आसियान रक्षा मंत्रियों की बैठक में हिस्सा लेने बैंकाक पहुंचे रक्षा मंत्री राजनाथ◾किसानों की आवाज को कुचलना चाहती है भाजपा सरकार : अखिलेश◾उत्तरी कश्मीर में पांच संदिग्ध आतंकवादी गिरफ्तार ◾‘शिवसेना राजग की बैठक में भाग नहीं लेगी’ ◾TOP 20 NEWS 16 November : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾रामलीला मैदान में मोदी सरकार की ‘जनविरोधी नीतियों’ के खिलाफ विपक्ष करेगी बड़ी रैली ◾झारखंड विधानसभा चुनाव : भाजपा ने तीन उम्मीदवारों की चौथी सूची की जारी◾सबरीमला मंदिर के कपाट खुले, पुलिस ने 10 महिलाओं को वापस भेजा◾राफेल पर CM अरविंद केजरीवाल का प्रकाश जावड़ेकर को जवाब, ट्वीट कर कही ये बात ◾दिल्ली: राफेल डील में SC से क्लीन चिट के बाद AAP कार्यालय के पास भाजपा का प्रदर्शन◾नवाब मलिक ने फड़णवीस पर साधा निशाना, कहा- हार चुके सेनापति को अपनी हार स्वीकार करनी चाहिए◾गोवा में मिग 29 K लडाकू विमान दुर्घटनाग्रस्त, दोनों पायलट सुरक्षित◾

पंजाब

अमरिंदर सिंह ने जल वितरण व्यवस्था में सुधार के लिए PM मोदी का मांगा सहयोग

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने राज्य के जल वितरण ढांचे में सुधार करने के लिए शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सहयोग मांगा और पड़ोसी राज्यों के बीच नदी के जल से संबंधित विवादों पर नये अधिकरण का गठन करने का अनुरोध किया। 

अमरिंदर सिंह ने नीति आयोग की संचालन परिषद की बैठक में सीमा पार अपराधों से प्रभावी तौर से निपटने में वृहद अंतर राज्यीय सहयोग का भी आह्वान किया। सिंह खराब सेहत के कारण बैठक में शामिल नहीं हो सके और उनका प्रतिनिधित्व वित्त मंत्री मनप्रीत बादल ने किया। अमरिंदर ने अपने भाषण में सीमा पर अर्द्धसैन्य बलों की तैनाती बढ़ाने और साथ ही सीमावर्ती इलाकों में पुलिस बलों को उन्नत करने के लिए विशेष पैकेज की मांग की। 

उन्होंने केंद्र से प्रधानमंत्री-किसान योजना के तहत वार्षिक सहायता 6,000 रुपये से बढ़ाकर 12,000 रुपये करने का अनुरोध किया। उन्होंने उनके राज्य की "पानी बचाओ, पैसा कमाओ" पहल की सराहना के लिए नीति आयोग का आभार जताया। 

इस बीच, प्रधानमंत्री को लिखे एक पत्र में अमरिंदर सिंह ने कहा कि धान की अत्यधिक खेती के कारण पंजाब में भूजल चिंताजनक स्थिति तक पहुंच गया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने कई योजनाएं तैयार की और 20,758 करोड़ रुपये की सहायता के लिए केंद्र के समक्ष उन्हें पेश किया। मुख्यमंत्री ने अनुरोध किया कि सरकार मौजूदा वित्त वर्ष 2019-2020 में शुरू हो रही इन सभी परियोजनाओं के लिए अधिकतम निधि मुहैया कराए।