BREAKING NEWS

कारगिल शहीदों की याद में दिल्ली में हुई ‘विजय दौड़’, लेफ्टिनेंट जनरल ने दिखाई हरी झंडी◾ आज सोनभद्र जाएंगे CM योगी, पीड़ित परिवार से करेंगे मुलाकात ◾LIVE : निगमबोध घाट पर होगा शीला दीक्षित का अंतिम संस्कार, श्रद्धांजलि देने पहुंची सुषमा स्वराज◾शीला दीक्षित की पहले भी हो चुकी थी कई सर्जरी◾BJP को बड़ा झटका, पूर्व अध्यक्ष मांगे राम गर्ग का निधन◾पार्टी की समर्पित कार्यकर्ता और कर्तव्यनिष्ठ प्रशासक थीं शीला दीक्षित : रणदीप सुरजेवाला ◾सोनभद्र घटना : ममता ने भाजपा पर साधा निशाना ◾मोदी-शी की अनौपचारिक शिखर बैठक से पहले अगले महीने चीन का दौरा करेंगे जयशंकर ◾दीक्षित के बाद दिल्ली कांग्रेस के सामने नया नेता तलाशने की चुनौती ◾अन्य राजनेताओं से हटकर था शीला दीक्षित का व्यक्तित्व ◾जम्मू कश्मीर मुद्दे के अंतिम समाधान तक बना रहेगा अनुच्छेद 370 : फारुक अब्दुल्ला ◾दिल्ली की सूरत बदलने वाली शिल्पकार थीं शीला ◾शीला दीक्षित के आवास पहुंचे PM मोदी, उनके निधन पर जताया शोक ◾शीला दीक्षित कांग्रेस की प्रिय बेटी थीं : राहुल गांधी ◾जीवनी : पंजाब में जन्मी, दिल्ली से पढाई कर यूपी की बहू बनी शीला, फिर बनी दिल्ली की मुख्यमंत्री◾शीला दीक्षित ने दिल्ली एवं देश के विकास में दिया योगदान : प्रियंका◾शीला दीक्षित के निधन पर दिल्ली में 2 दिन का राजकीय शोक◾Top 20 News 20 July - आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें◾राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने शीला दीक्षित के निधन पर जताया दुख ◾दिल्ली की पूर्व सीएम शीला दीक्षित का निधन, PM मोदी सहित कई नेताओं ने जताया दुख◾

पंजाब

भडक़ी शिरोमणि कमेटी , तख्त केसगढ़ साहिब साहिब से भी आई आवाज- भगवंत मान कौम से माफी मांगे

लुधियाना-संगरूर : हाल ही में 17वी लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण के बाद संगरूर से आम आदमी पार्टी के लोकसभा सदस्य भगवंत मान ने संसद में अपनी पहली पंजाबी भाषा की स्पीच के दौरान श्री गुरू गोबिंद सिंह जी की तुलना मनुष्य से करने के बाद विवादों में घिर गए है। हालांकि उनके भाषण की तारीफ उनके चहेते सोशल मीडिया पर खूब कर रहे है लेकिन लोकसभा के अंदर दिए गए भाषण पर खफा होकर शिरोमणि अकाली दल ने भगवंत मान के खिलाफ मोर्चा खोला है। 

उधर तख्त श्री केसगढ़ साहिब के जत्थेदार भाई रणबीर सिंह ने सख्त शब्दों में निंदा करते हुए कहा कि हिंदुस्तान की पार्लीमेंट के अंदर सांसद भगवंत मान ने अपनी स्पीच के दौरान गुरू गोबिंद सिंह जी महाराज के साथ शहीद भगत सिंह की तुलना की है, यह बहुत ही दुखदाई है।

 बेशक भगत सिंह ने देश की खातिर जान की आहूति दी है ङ्क्षकतु गुरू गोबिंद सिंह जी महाराज जी से किसी भी मानव की तुलना नहीं की जा सकती। उन्होंने यह भी कहा कि भगवंत मान को तुरंत अपनी इस कथनी पर माफी मांगनी चाहिए। जबकि पूर्व उपमुख्यमंत्री और शिअद अध्यक्ष सुखबीर बादल ने भगवंत मान का दिमाग खराब हो गया है कहते हुए कहा कि श्री गुरू गोबिंद सिंह के बराबर भगत सिंह की तुलना करना निंदनीय है। उन्होंने सिख पंथ से माफी मांगने की सलाह दी जबकि एसजीपीसी अध्यक्ष भाई गोबिंद सिंह  लोंगोवाल ने भी इसकी निंदा की है।

 स्मरण रहे कि संसद के कुछ सदस्यों द्वारा प्रधानमंत्री पीएम मोदी को फकीर और रहबर बताए जाने पर कटाक्ष करते भगवंत मान ने कहा कि 10-10 लाख रूपए के सूट पहनने वाला रहबर नहीं होता और ना ही 2 चुनाव जीतकर कोई रहबर बन जाता है। उन्होंने फकीर की परिभाषा व्यक्त करते हुए कहा कि माछीवाड़ा के जंगलों में कांटों की सेज में अपने परिवार का बलिदान करने वाला फकीर है। 

भगवंत मान ने यह भी कहा कि पिछले 300 सालों में गुरू गोबिंद सिंह और भगत सिंह नाम के दो फकीर ही हुए है जिन्होंने कोई चुनाव नहीं लड़ा किंतु अपनी कौम को लीड किया है। इसी के बाद मान ने अपने टवीट के जरिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हुए फिर दोहराया कहा कि 300 साल में सिर्फ दो नेता पैदा हुए हैं...गुरु गोबिंद सिंह और भगत सिंह जी...जिन्होंने चुनाव नहीं इंसाफ की लड़ाईयाँ लड़ी थी..! भगवंत मान के इस ट्वीट पर सिख समुदाय में रोष है। शिरोमणि अकाली दल के नेतृत्व ने श्री गुरु गोबिंद सिंह की तुलना मनुष्य से करने पर मान से तुरंत माफी मांगने की बात कही है।

शिरोमणि अकाली दल ने इस पर सख्त आपत्ति जताते हुए भगवंत मान की निंदा की है। शिअद ने मान को तुरंत माफी मांगने को कहा है। शिअद नेता व पूर्व मंत्री महेशइंदर सिंह ग्रेवाल ने कहा कि कितने दुख की बात है कि भगवंत मान ने कहा कि सिखों के 300 साल के इतिहास में सिर्फ दो ही नेता हुए हैं- श्री गुरु गोबिंद सिंह जी और सरदार भगत सिंह। उन्होंने कहा कि इस बयान ने पूरी दुनिया में रह रहे सिखों की भावनाओं को ठेस पहुंचाई है। उन्हें इससे गहरा आघात लगा है कि मान ने बड़ी लापरवाही से गुरु साहिब की तुलना एक मनुष्य से कर दी। इसके बाद भगवंत मान ने ट्वीट भी किया।  ग्रेवाल ने कहा कि मान बाकी महान शहीदों शहीद ऊधम सिंह, करतार सिंह सराभा, लाला लाजपत राय, सुखदेव, राजगुरु आदि का अपमान नहीं कर सकते।

अकाली नेता ने मान को तुरंत सिखों, पंजाबियों व शहीदों के परिवारों से माफी मांगने के लिए कहा है। उन्होंने कहा कि यदि वह ऐसा नहीं कर सकते तो हम प्रदर्शन करके मान को माफी मांगने के लिए मजबूर करेंगे। वहीं, शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने कहा है कि अभी मामला उनके ध्यान में नहीं आया है। मामला ध्यान में आने पर कार्रवाई के लिए विचार किया जाएगा।

-  सुनीलराय कामरेड