BREAKING NEWS

खट्टर ने स्थानीय युवाओं को नौकरियों में 75 फीसदी आरक्षण देने वाला विधेयक न लाने के संकेत दिए ◾सबरीमला में श्रद्धालुओं की जबरदस्त भीड़, 2 महिलायें वापस भेजी गयी ◾जेएनयू छात्रसंघ पदाधिकारियों का दावा, एचआरडी मंत्रालय के अधिकारी ने दिया समिति से मुलाकात का आश्वासन ◾प्रियंका गांधी ने इलेक्टोरल बांड को लेकर मोदी सरकार पर साधा निशाना, ट्वीट कर कही ये बात ◾TOP 20 NEWS 18 November : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद पवार बोले- किसी के साथ सरकार बनाने पर चर्चा नहीं◾INX मीडिया धनशोधन मामला : चिदंबरम ने जमानत याचिका खारिज करने के आदेश को न्यायालय में दी चुनौती ◾मनमोहन सिंह ने कहा- राज्य की सीमाओं के पुनर्निधार्रण में राज्यसभा की अधिक भूमिका होनी चाहिए◾'खराब पानी' को लेकर पासवान का केजरीवाल पर पटलवार, कहा- सरकार इस मुद्दे पर राजनीति नहीं करना चाहती◾संसद का शीतकालीन सत्र : राज्यसभा के 250वें सत्र पर PM मोदी का संबोधन, कहा-इसमें शामिल होना मेरा सौभाग्य◾बीजेपी बताए कि उसे चुनावी बॉन्ड के जरिए कितने हजार करोड़ रुपये का चंदा मिला : कांग्रेस ◾CM केजरीवाल बोले- प्रदूषण का स्तर कम हुआ, अब Odd-Even योजना की कोई आवश्यकता नहीं है ◾महाराष्ट्र: शिवसेना संग गठबंधन पर शरद पवार का यू-टर्न, दिया ये बयान◾ JNU स्टूडेंट्स का संसद तक मार्च शुरू, छात्रों ने तोड़ा बैरिकेड, पुलिस की 10 कंपनियां तैनात◾शीतकालीन सत्र: NDA से अलग होते ही शिवसेना ने दिखाए तेवर, संसद में किसानों के मुद्दे पर किया प्रदर्शन◾शीतकालीन सत्र: चिदंबरम ने कांग्रेस से कहा- मोदी सरकार को अर्थव्यवस्था पर करें बेनकाब◾ PM मोदी ने शीतकालीन सत्र शुरू होने से पहले सभी दलों से सहयोग की उम्मीद जताई ◾संजय राउत ने ट्वीट कर BJP पर साधा निशाना, कहा- '...उसको अपने खुदा होने पर इतना यकीं था'◾देश के 47वें CJI बने जस्टिस बोबडे, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दिलाई शपथ◾राजस्थान के श्री डूंगरगढ़ के पास बस और ट्रक की भीषण टक्कर, 10 लोगों की मौत◾

पंजाब

भडक़ी शिरोमणि कमेटी , तख्त केसगढ़ साहिब साहिब से भी आई आवाज- भगवंत मान कौम से माफी मांगे

लुधियाना-संगरूर : हाल ही में 17वी लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण के बाद संगरूर से आम आदमी पार्टी के लोकसभा सदस्य भगवंत मान ने संसद में अपनी पहली पंजाबी भाषा की स्पीच के दौरान श्री गुरू गोबिंद सिंह जी की तुलना मनुष्य से करने के बाद विवादों में घिर गए है। हालांकि उनके भाषण की तारीफ उनके चहेते सोशल मीडिया पर खूब कर रहे है लेकिन लोकसभा के अंदर दिए गए भाषण पर खफा होकर शिरोमणि अकाली दल ने भगवंत मान के खिलाफ मोर्चा खोला है। 

उधर तख्त श्री केसगढ़ साहिब के जत्थेदार भाई रणबीर सिंह ने सख्त शब्दों में निंदा करते हुए कहा कि हिंदुस्तान की पार्लीमेंट के अंदर सांसद भगवंत मान ने अपनी स्पीच के दौरान गुरू गोबिंद सिंह जी महाराज के साथ शहीद भगत सिंह की तुलना की है, यह बहुत ही दुखदाई है।

 बेशक भगत सिंह ने देश की खातिर जान की आहूति दी है ङ्क्षकतु गुरू गोबिंद सिंह जी महाराज जी से किसी भी मानव की तुलना नहीं की जा सकती। उन्होंने यह भी कहा कि भगवंत मान को तुरंत अपनी इस कथनी पर माफी मांगनी चाहिए। जबकि पूर्व उपमुख्यमंत्री और शिअद अध्यक्ष सुखबीर बादल ने भगवंत मान का दिमाग खराब हो गया है कहते हुए कहा कि श्री गुरू गोबिंद सिंह के बराबर भगत सिंह की तुलना करना निंदनीय है। उन्होंने सिख पंथ से माफी मांगने की सलाह दी जबकि एसजीपीसी अध्यक्ष भाई गोबिंद सिंह  लोंगोवाल ने भी इसकी निंदा की है।

 स्मरण रहे कि संसद के कुछ सदस्यों द्वारा प्रधानमंत्री पीएम मोदी को फकीर और रहबर बताए जाने पर कटाक्ष करते भगवंत मान ने कहा कि 10-10 लाख रूपए के सूट पहनने वाला रहबर नहीं होता और ना ही 2 चुनाव जीतकर कोई रहबर बन जाता है। उन्होंने फकीर की परिभाषा व्यक्त करते हुए कहा कि माछीवाड़ा के जंगलों में कांटों की सेज में अपने परिवार का बलिदान करने वाला फकीर है। 

भगवंत मान ने यह भी कहा कि पिछले 300 सालों में गुरू गोबिंद सिंह और भगत सिंह नाम के दो फकीर ही हुए है जिन्होंने कोई चुनाव नहीं लड़ा किंतु अपनी कौम को लीड किया है। इसी के बाद मान ने अपने टवीट के जरिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हुए फिर दोहराया कहा कि 300 साल में सिर्फ दो नेता पैदा हुए हैं...गुरु गोबिंद सिंह और भगत सिंह जी...जिन्होंने चुनाव नहीं इंसाफ की लड़ाईयाँ लड़ी थी..! भगवंत मान के इस ट्वीट पर सिख समुदाय में रोष है। शिरोमणि अकाली दल के नेतृत्व ने श्री गुरु गोबिंद सिंह की तुलना मनुष्य से करने पर मान से तुरंत माफी मांगने की बात कही है।

शिरोमणि अकाली दल ने इस पर सख्त आपत्ति जताते हुए भगवंत मान की निंदा की है। शिअद ने मान को तुरंत माफी मांगने को कहा है। शिअद नेता व पूर्व मंत्री महेशइंदर सिंह ग्रेवाल ने कहा कि कितने दुख की बात है कि भगवंत मान ने कहा कि सिखों के 300 साल के इतिहास में सिर्फ दो ही नेता हुए हैं- श्री गुरु गोबिंद सिंह जी और सरदार भगत सिंह। उन्होंने कहा कि इस बयान ने पूरी दुनिया में रह रहे सिखों की भावनाओं को ठेस पहुंचाई है। उन्हें इससे गहरा आघात लगा है कि मान ने बड़ी लापरवाही से गुरु साहिब की तुलना एक मनुष्य से कर दी। इसके बाद भगवंत मान ने ट्वीट भी किया।  ग्रेवाल ने कहा कि मान बाकी महान शहीदों शहीद ऊधम सिंह, करतार सिंह सराभा, लाला लाजपत राय, सुखदेव, राजगुरु आदि का अपमान नहीं कर सकते।

अकाली नेता ने मान को तुरंत सिखों, पंजाबियों व शहीदों के परिवारों से माफी मांगने के लिए कहा है। उन्होंने कहा कि यदि वह ऐसा नहीं कर सकते तो हम प्रदर्शन करके मान को माफी मांगने के लिए मजबूर करेंगे। वहीं, शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने कहा है कि अभी मामला उनके ध्यान में नहीं आया है। मामला ध्यान में आने पर कार्रवाई के लिए विचार किया जाएगा।

-  सुनीलराय कामरेड