BREAKING NEWS

झारखंड में रविवार को राजनाथ सिंह और स्मृति ईरानी की चुनाव सभाएं◾सोनिया ने रविवार को बुलाई संसदीय रणनीति समूह की बैठक, नागरिकता विधेयक पर होगी चर्चा ◾PM मोदी ने वैज्ञानिकों का कम लागत वाली प्रौद्योगिकियों के विकास का किया आह्वान ◾NIA ने आईएसआईएस 2 संदिग्धों के खिलाफ आरोप पत्र किया दायर◾उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता ने मरने से पहले कहा-'मुझे बचाओ, मैं मरना नहीं चाहतीं' ◾उन्नाव बलात्कार पीड़िता युवती का शव उसके गांव लाया गया ◾राम मंदिर के ट्रस्ट में संघ प्रमुख भागवत को नहीं होना चाहिए : विहिप◾मेरी मानसिक ताकत तोड़ना चाहती है केंद्र सरकार : चिदंबरम ◾भारत की पहचान 'दुष्कर्म राजधानी' के रूप में बन गई है : राहुल◾TOP 20 NEWS 7 DEC : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾दिल्ली विधानसभा चुनाव में भाजपा का नारा 'अबकी बार, तीन पार' होगा : केजरीवाल◾एनआरसी के खिलाफ कल जंतर-मंतर पर प्रदर्शन करेगी पार्टी : संजय सिंह◾राकांपा नेता उमाशंकर यादव बोले- नैतिकता के आधार पर तत्काल इस्तीफा दें CM योगी◾बलात्कारी के लिए मृत्युदंड से सख्त सजा कुछ नहीं हो सकती, पालक भी जिम्मेदारी समझें : स्मृति ईरानी◾CM केजरीवाल ने उन्नाव बलात्कार पीड़िता की मौत को बताया शर्मनाक, ट्वीट कर कही ये बात ◾बलात्कार की घटनाओं पर स्वत: संज्ञान लें सुप्रीम कोर्ट : मायावती◾PM मोदी, अमित शाह और अजीत डोभाल पुणे में शीर्ष पुलिस अधिकारियों के सम्मेलन में हुए शामिल ◾केरल में बोले राहुल गांधी- महिलाओं के खिलाफ हिंसा और ज्यादतियों में हुई बढ़ोतरी◾सशस्त्र सेना झंडा दिवस के अवसर PM मोदी ने लोगों से किया अनुरोध, बोले- सशस्त्र बल के कल्याण के लिए योगदान दें◾उन्नाव रेप पीड़िता की मौत के विरोध में BJP मुख्यालय पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन, पुलिस ने किया लाठीचार्ज◾

पंजाब

भीम टांक हत्याकांड : 24 लोगों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई

 1395

पंजाब के अबोहर में साल 2015 में एक 27 वर्षीय दलित व्यक्ति की हत्या के मामले में यहां की एक अदालत ने 24 आरोपियों को गुरूवार को उम्रकैद की सजा सुनाई। अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश जसपाल वर्मा की अदालत ने भीम टांक की नृशंस हत्या के मामले में यह फैसला सुनाया। 

सरकारी वकील वजीर काम्बोज ने कहा, 'अदालत ने भीम टांक हत्याकांड में 24 आरोपियों को उम्रकैद की सजा सुनाई है।' जिन अभियुक्तों को दोषी ठहराया गया और आजीवन कारावास की सजा दी गई उनमें शराब कारोबारी शिव लाल डोडा और उसका भतीजा अमित डोडा शामिल हैं। 

काम्बोज ने कहा कि उन्हें 302 (हत्या), 120-बी (साजिश) और भारतीय दंड संहिता की अन्य संबंधित धाराओं के तहत दोषी ठहराया गया था। उन्होंने बताया कि कुल 26 आरोपियों में से एक विवेक उर्फ ​​विक्की को चार साल की सजा सुनाई गई, जबकि एक अन्य को बरी कर दिया गया। 

फैसला सुनाए जाने के समय सभी आरोपी अदालत में मौजूद थे। विदित हो कि दिसंबर 2015 में, टांक और उसके सहयोगी गुरजंत सिंह पर रामसरा में शिव लाल डोडा के फार्महाउस पर तेज धार वाले हथियारों से हमला किया गया। वे वहां एक अन्य समूह के साथ झगड़े को सुलझाने के लिए गए थे। दोनों पर डोडा के गुर्गे ने हमला किया था। 

टांक के हाथ-पैर काट दिये गये और बाद में अमृतसर के एक अस्पताल में उसकी मृत्यु हो गई। गुरजंत के अंगों को भी क्षतिग्रस्त कर दिया गया था और घटना में गंभीर चोटें लगी थीं। पिछली शिअद-भाजपा शासन के दौरान हुई इस घटना से राज्य में आक्रोश फैल गया था और कांग्रेस, जो उस समय विपक्ष में थी, ने तब शिव लाल डोडा को संरक्षण देने का आरोप शिरोमणि अकाली दल पर लगाया था। टांक ने निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में 2012 का विधानसभा चुनाव भी लड़ा था, लेकिन वह चुनाव हार गये थे।