BREAKING NEWS

महाराष्ट्र : 24 घंटे में कोरोना से 224 लोगों की मौत, 5134 नये मामले ◾दिल्ली में कोरोना का कोहराम जारी, बीते 24 घंटे में 2008 नए केस, संक्रमितों का आंकड़ा 1,02,831 तक पहुंचा◾पश्चिम बंगाल: कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते कोलकाता में फिर से लग सकता है लॉकडाउन ◾CBSE का बड़ा ऐलान, अगले साल 9वीं से 12वीं क्लास के सिलेबस में 30 फीसदी की होगी कटौती, बोर्ड ने ट्वीट कर दी जानकारी◾भारत में कोरोना टेस्टिंग का आंकड़ा पहुंचा 1 करोड़ के पार, मृत्यु दर दुनिया में सबसे कम : स्वास्थ्य मंत्रालय◾राहुल के आरोपों पर AgVa कंपनी का जवाब, कहा- वह डॉक्टर नहीं है, दावा करने से पहले करनी चाहिए थी पड़ताल◾यथास्थिति बहाल होने तक LAC से भारत को एक इंच भी पीछे नहीं हटना चाहिए : कांग्रेस◾राहुल का केंद्र सरकार से सवाल, कहा- भारतीय जमीन पर निहत्थे जवानों की हत्या को कैसे सही ठहरा रहा चीन?◾भारत-चीन बॉर्डर पर IAF ने दिखाया अपना दम, चिनूक और अपाचे हेलीकॉप्टर ने रात में भरी उड़ान◾विकास दुबे की तलाश में जुटी पुलिस की 50 टीमें, चौबेपुर थाने में 10 कॉन्स्टेबल का हुआ तबादला◾कोरोना वायरस : देश में मृतकों का आंकड़ा 20 हजार के पार, संक्रमितों की संख्या सवा सात लाख के करीब ◾पुलवामा में एनकाउंटर के दौरान सुरक्षा बलों ने 1 आतंकी मार गिराया, सेना का एक जवान भी हुआ शहीद ◾चीन मुद्दे पर US ने एक बार फिर किया भारत का समर्थन, कहा- अमेरिकी सेना साथ खड़ी रहेगी◾विश्वभर में कोविड-19 मरीजों की संख्या 1 करोड़ 15 लाख से अधिक, मरने वालों का आंकड़ा 5 लाख 3 हजार के पार ◾US में कोरोना संक्रमितों की संख्या 29 लाख के पार, अब तक 1 लाख 30 हजार से अधिक लोगों ने गंवाई जान◾गृह मंत्रालय से विश्वविद्यालयों को मिली हरी झंडी, परीक्षाएं कराने की मिली अनुमति◾महाराष्ट्र में कोरोना के 5,368 नए मामले आये सामने, 204 और मरीजों की मौत◾वांग - डोभाल बातचीत के बाद बोला चीन - LAC पर सैनिकों को पीछे हटाने का काम जल्द से जल्द किया जाना चाहिए ◾दिल्ली में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 1 लाख के पार, देशभर में 7 लाख से ऊपर पहुंची संक्रमितों की संख्या◾कांग्रेस का पलटवार - चीन के खिलाफ मजबूत होती सरकार तो नड्डा को ‘झूठ’ नहीं बोलना पड़ता◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

कैप्टन अमरेंद्र सिंह द्वारा बाढ़ प्रभावित इलाकों के लिए 100 करोड़ रूपए जारी करने की घोषणा

लुधियाना-जालंधर-रोपड़ : पड़ोसी राज्य हिमाचल प्रदेश की पहाड़ों पर हो रही छमाछम बारिश के कारण लबालब पानी के सेलाब से भरे भाखड़ा डैम को टूटने से बचाने के लिए निश्चित र्निधारित मात्रा से अधिक पानी होते ही छोड़े गए पानी से पंजाब के लोग त्राहीमाम-त्राहीमाम करने को मजबूर है। पिछले 4 दिनों से भारी वर्षा और सतलुज और ब्यास दरिया उफान पर है। कई इलाकों से बांध का पानी दरिया किनारों को तोडक़र निचले इलाकों में रहने वाले ग्रामीणों के लिए जी का जंजाल बन चुका है। 

इसी दौरान जहां लोगों की प्रशासन के प्रति नाराजगी पाई जा रही है, वही भारतीय सेना और एनडीआरएफ के जवानों की टीमें देवदूत बनकर बह रहे पानी में ग्रामीणों को बचाने के लिए उतरे हुए है। दूर-दराज व अन्य शहरों से आएं लोगों का हुजूम जमावड़ा बनकर तमाम हरकतों को अपने-अपने मोबाइल के जरिए पल-पल की खबरें सोशल मीडिया पर डाल रहे है। 

दूसरी तरफ कई समाज सेविक संगठनों के लोग भी पीडि़त परिवारों के लिए लंगर-पानी और दूध की व्यवस्था के साथ-साथ मेडिकल सहायता पहुंचाने के लिए उतावले दिखे। इसी बीच सतलुज के किनारे बसे गांव जुलाहा-माजरा में पानी आने के कारण फंसे 4 लोगों में से 2 लोगों को पशु धन बकरियों समेत सेना के जवानों ने किश्ती के जरिए बाहर निकाला।

हालांकि प्रशासनिक अधिकारियों की ओर से सतलुज दरिया के संवेदनशील निर्धारित चिन्हों पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए है किंतु दरिया में तेजी से बढ़ रहे जलस्तर की वजह से घुस्सी बांध के साथ गांवों के बाशिंदे सहमे हुए है।

 आसपास के दर्जनों गांवों के लोगों ने भी प्रशासनिक हिदायतों के बाद सुरक्षित स्थानों की ओर जाना शुरू कर दिया है। इसी बीच मतेवाल के गांव गढ़ीफाजल में भी पानी के बढ़ते प्रेशर से बांध में कटाव को रोकने के लिए पत्थरों से बांध बनाया गया है। जबकि सतलुज दरिया में तेजी से बढ़ रहे जलस्तर के कारण कई स्थानों पर बांध के नीचे से मिटटी खिसकनी शुरू हो गई है। इसी बीच कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने हालात की नजाकत को पहचानते हुए रोपड के इलाकों में हालात का जायजा लेने के लिए दौरा किया और बाढ़ पीडि़त क्षेत्र के लोगों से मिले। 

मुख्यमंत्री ने बाढ़ के कारण बर्बाद हो चुकी फसलों की विशेष गिरदावरी के हुकम देते आई.टी रोपड़ के विद्याथर््िायों और अधिकारियों को चंडीगढ़ में सुरक्षित स्थानों पर रखने के बंदोबस्त करने का हुकम भी दिया। इस दौरान कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने बाढ़ पीडि़त इलाकों के लिए 100 करोड़ रूपए की राहत राशि की घोषणा भी की। 

पिछले 72 घंटों के दौरान पंजाब और हिमाचल प्रदेश में पड़ी बारिश के कारण दरियाई पानी का स्तर खतरनाक निशान तक पहुंचा है। सतलुज दरिया में बड़ी मात्रा में पानी छोड़े जाने के कारण रोपड़ -जालंधर-लुधियाना-मोगा समेत फिरोजपुर के कई गांव पानी की चपेट में आ चुके है। इस दौरान ग्रामीणों का पशु धन और फसलों का बड़ा नुकसान होने की सूचना है। 

पंजाब के दोआबा इलाके में सतलुज दरिया पर बसे फिल्लौर क्षेत्र में सतलुज नदी के किनारे बना बांध टूट जाने से कई गांवों का संपर्क अन्य क्षेत्रों से संपर्क टूट गया। इससे कई गांवों में काफी संख्या में लोग बाढ़ के पानी में फंस गए हैं। उनको निकालने की कोशिश की जा रही है। पानी में फंसे चार लोगों को काफी मशक्कत के बाद सुरक्षित निकाल लिया गया। उधर सोमवार को भाखड़ा डैम का जलस्तर 1680.80 फीट तक पहुंच गया। 24 घंटे में पानी की आवक 130936 क्यूसेक दर्ज की गई है। 24 घंटे में डैम का जलस्तर 3.86 फीट बढ़ा है।

जालंधर के फिल्लौर के पास सतलुज नदी के किनारे बना बांध टूट गया। इससे नजदीकी गांवों ओवाल और भोलेवाल व आसपास के क्षेत्र में नदी का पानी घुस गया। इससे इन गांवों का संपर्क अन्य क्षेत्रों से टूट गया। इन गांवों में कुछ लोग पानी में फंसे हुए हैं। उन्हें निकालने के लिए प्रशासन, सेना और एनडीआरएफ ने रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया है।

 प्रशासन के अनुसार अभी तक रेस्क्यू टीम ने बाढ़ में फंसे चार लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया है। जालंधर के डीसी वरिंदर कुमार शर्मा का कहना है कि पानी में फंसे लोगों को निकालने के लिए रेसक्यू आपरेशन शुरू कर दिया गया है। फंसे लोगों को जल्द की बाहर निकाल लिया जाएगा।

लुधियाना के खन्ना क्षेत्र के गांव हौल में एक जर्जर मकान की छत गिर गई। इससे दंपती व उनके बेटे की मलबे में दबने से मौत हो गई। 11 साल की बच्ची बाल-बाल बच गई। लुधियाना के ही माछीवाड़ा साहिब में गांव मंड सुक्खेवाल में घर की छत गिरने से 70 वर्षीय किसान अनोख सिंह की मौत हो गई। लुधियाना शहर में ही बारिश दुकान में पानी भरने से आए करंट से एक दुकानदार की मौत हो गई। रूपनगर के नूरपुर बेदी में स्कूल में पानी घुसने से चौकीदार की तीन साल की बच्ची डूब गई।

- सुनीलराय कामरेड