BREAKING NEWS

गजेंद्र शेखावत का CM गहलोत पर तीखा हमला, कहा- जनता गिन रही सरकार की विदाई के दिन◾अगले 18 घंटे में मुंबई, ठाणे और कोंकण में बहुत तेज बारिश होने की संभावना, रेड अलर्ट जारी◾देश में बीते 24 घंटे में रिकॉर्ड 20572 रोगी कोरोना संक्रमण से मुक्त हुए, रिकवरी दर 63 % से ज्यादा : स्वास्थ्य मंत्रालय◾दिल्ली में कोरोना संक्रमण के 1674 नए मामले, अब तक 3487 लोगों की मौत◾कोविड - 19 : महाराष्ट्र में संक्रमण के 7,975 नए मामले और 11 हजार के करीब पहुंचा मौत का आंकड़ा ◾डीएसी बैठक में सशस्त्र बलों को हथियार खरीदने के लिए 300 करोड़ रुपये का इमरजेंसी फंड मंजूर◾कोरोना इफ़ेक्ट : एअर इंडिया कर्मचारियों को पांच साल तक के लिए बिना वेतन छुट्टी पर भेज सकता है ◾बिना नाम लिए राहुल का पायलट को सन्देश - जिसे पार्टी से जाना है वो जाएगा ही , घबराना क्यों ◾भारत- ईयू की भागीदारी आर्थिक पुनर्निमाण और मानव- केन्द्रित वैश्वीकरण की दिशा में महत्वपूर्ण : पीएम मोदी◾बातचीत के बाद बोला चीन - दोनों सेनाओं ने सैनिकों की वापसी को बढ़ावा देने की दिशा में प्रगति की◾LAC पर भारत का कड़ा रुख - सीमा प्रबंधन के लिये सहमति वाले सभी प्रोटोकॉल का पालन करे चीन◾CM गहलोत का दावा- सरकार गिराने के लिए हुई खरीद-फरोख्त, हमारे पास है प्रूफ◾रक्षा मंत्री दो दिन के दौरे पर जाएंगे जम्मू-कश्मीर और लद्दाख, सेना प्रमुख भी होंगे साथ ◾CBSE Results 2020 : लाखों स्टूडेंट का इंतजार हुआ खत्म, 10वीं क्लास के एग्जाम का रिजल्ट जारी ◾World Youth Skills Day : PM मोदी बोले-कौशल के प्रति आकर्षण देता है जीने की ताकत◾भारत की वैश्विक रणनीति हो रही फेल, केंद्र सरकार की नीतियों के कारण घट रहा देश का सम्मान : राहुल◾देहरादून के चुक्खूवाला क्षेत्र में तेज बारिश से ढहा मकान, 3 लोगों की मौत, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी◾कोविड-19 : देश में संक्रमितों की संख्या 9 लाख 36 हजार के पार, 3 लाख 20 हजार एक्टिव केस◾भाजपा में नहीं जाऊंगा, उनके खिलाफ लंबी लड़ाई लड़ी है : सचिन पायलट ◾भारत-EU शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे PM मोदी, कोरोना संकट पर रहेगा फोकस◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

\" पकोका \" को विरोधियों के विरुद्ध राजनैतिक हथियार के तौर पर इस्तेमाल करेगी कैप्टन सरकार : भगवंत मान

लुधियाना-अमृतसर  : पंजाब में तेजी से बढ़ रहे संगठित अपराध, गैंगस्टारों, कटटरपंथियों से निपटने के लिए कैप्टन सरकार ने महाराष्ट्र सरकार की तर्ज पर पंजाब में भी ‘ पकोका ’ इसी महीने की आखिर तक लागू करने का निर्णय किया तो आम आदमी पार्टी समेत विपक्षी सियासी दलों ने कड़ी विरोधता दर्ज करवानी शुरू कर दी। पंजाब कंट्रोल आफ आर्गेनाइज क्राइम एक्ट, पकोका कानून लाने के प्रस्ताव पर आम आदमी पार्टी ने गंभीर सवाल उठाते हुए सवाल दागे है। ‘आप पार्टी के प्रधान और मैंबर पार्लियामेंट भगवंत मान, सह -प्रधान और विधायक अमन अरोड़ा, मैंबर पार्लियामेंट प्रो. साधू सिंह, विपक्ष की उप नेता बीबी सरबजीत कौर माणूके, विधायक प्रो. बलजिन्दर कौर, रुपिन्दर कौर रूबी, कुलतार सिंह संधवां, नाजर सिंह मानशाहिया, हरपाल सिंह चीमा, जय कृष्ण शन सिंह रोड़ी, प्रिंसीपल बुद्धराम, अमनरजीत सिंह संधोआ, जगदेव सिंह कमालू, मीत हेयर, पिरमल सिंह धौला, कुलवंत सिंह पंडोरी, मास्टर बलदेव सिंह और मनजीत सिंह बलासपुर ने पूछा है कि कैप्टन अमरिन्दर सिंह किस मकसद और कौन से तत्वों के लिए पकोका जैसा कानून पंजाब की जनता पर थोप रहे हैं, सूबे के लोग यह जानना चाहते हैं।

क्योंकि आम आदमी पार्टी समेत पंजाब के आम-जन को यह संदेह है कि पकोका का जमकर दुरुपयोग होगा और सत्ताधारी पक्ष इस कानून को अपने विरोधियों के खिलाफ हथियार के तौर पर इस्तेमाल करेगी। अमन अरोड़ा ने कैप्टन अमरिन्दर सिंह और कांग्रेसी नेताओं को याद करवाया कि जब पिछली बादल सरकार ने पकोका का प्रस्ताव लाया था, तब ‘आप के साथ-साथ कांग्रेस ने भी यही संदेह जाहिर करते हुए अकाली-भाजपा सरकार के समकालिन पकोका प्रस्ताव का विरोध किया था।

अमन अरोड़ा ने कैप्टन सरकार पर व्यंग्य कसते हुए कहा कि यदि पकोका लाया भी जाता है तो क्या इस को जुर्म और आज हो रहे कत्लआम के विरुद्ध लागू किया जायेगा, क्योंकि पंजाब की अमन शान्ति और आपसी सद्भावना को चोट मारने वाले कातिलों में अभी तक एक भी पकड़ा नहीं गया और न ही हाई -प्रोफाइल हत्याओं की साजिश रचने वाली विरोधी ताकतों की पहचान हुई है। पंजाब और देश की सभी खुफिया और जांच एजेंसियां नाकाम साबित हुई हैं। जब हत्यारे पकड़े नहीं जा रहे, फिर पकोका किस पर लागू किया जायेगा? अरोड़ा ने एक ओर तंज कसते हुए कहा कि क्या पकोका जेलों में बंद उन गैंगस्टरों के लिए लाया जा रहा जो गृह मंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह की नाक तले जेल में ही जन्म दिन का जश्न मनाते हैं, हाथों में महंगे मोबाइल फोन पकडक़र नाचते गाते हैं।

‘आप नेता ने कहा कि मुख्य मंत्री के साथ-साथ गृह मंत्री के तौर पर भी कैप्टन अमरिन्दर सिंह नाकाम नेता साबित हो चुके हैं। पकोका लाने की बजाए कैप्टन अमरिन्दर सिंह को गृह मंत्री का पद छोड़ कर किसी अन्य समर्थ शख्स को सौंप देना चाहिए, जिस को पंजाब का फिक्र हो और वह पंजाब के लोगों में फैली दहश्त की भावना से मुक्त करवाने के लिए दृड़ इरादा रखता हो।

अमन अरोड़ा ने कहा कि असली हकीकत यह है कि आज अमन-कानून व्यवस्था के तौर पर पंजाब बेहद खतरनाक दौर से गुजर रहा है। अपराधी बेखौफ हैं और पुलिस तंत्र बेबस है। अब तो अपराधी तत्व भरे बाजार में किसी हत्या को अंजाम देते समय अपना मुंह छीपाना भी जरूरी नहीं समझते। हर रोज की अखबारें हत्याएं, बलात्कार, फिरौतियां, डकैतियां, माफिया और धोखाधडिय़ों के साथ भरी होती हैं, यह सब पंजाब के जंगल राज की मुंह बोलतीं तस्वीरें हैं।

अमन अरोड़ा ने कहा कि पंजाब में फैली अराजकता को रोकने के लिए किसी भी नये कानून की अपेक्षा कानून को सूबे में निचले स्तर तक लागू करने वाली पंजाब पुलिस का सियासीकरन बंद किया जाये और पुलिस को बिना किसी राजनैतिक दखल या दबाव के कानून अनुसार मैरिट पर काम करने की छुट दी जाये। अमन अरोड़ा ने कहा कि पिछली बादल सरकार की तरह कैप्टन सरकार भी पंजाब में अमन-कानून की स्थिति बहाल करने में नाकाम साबित हुई है और बादलों की तरह अपनी नाकामी से ध्यान भटकाने के लिए पकोका का राग अलापने लगी है।

- सुनीलराय कामरेड