BREAKING NEWS

किसान नेता राकेश टिकैत का जो बाइडेन को संदेश- पीएम मोदी के साथ करें हमारे मसले पर बात◾दिल्ली : रोहिणी कोर्ट परिसर में गैंगवॉर, फायरिंग में 3 की मौत, कई घायल◾UP विधानसभा चुनाव 2022 : मैदान में साथ उतरेगी BJP और निषाद पार्टी, गठबंधन का हुआ ऐलान◾महंत नरेंद्र गिरि केस : आनंद गिरि ने बताया था अपनी जान को खतरा, जेल में नियमानुसार मिलेगी सुरक्षा◾कैप्टन अमरिंदर को रास नहीं आई गहलोत की सलाह, बोले-'राजस्थान संभालो, पंजाब को छोड़ो'◾World Corona : दुनियाभर में संक्रमितों का आंकड़ा 23.05 करोड़ के पार, 47.2 लाख से अधिक लोगों की मौत ◾पंजाब में जल्द हो सकता है कैबिनेट विस्तार, राहुल-प्रियंका संग CM चन्नी का मंथन◾शेयर बाजार ने रचा इतिहास, Sensex 60 हजार अंक के पार, Nifty 18 हजारी होने को बेताव◾अफगानिस्तान में लोगों को अपनी जमीनें छोड़ने को मजबूर कर रहा तालिबान, जल्द पैदा हो जायेगा मानवीय संकट ◾देश में पिछले 24 घंटों में आए कोरोना संक्रमण के 31382 नए मामले, 318 लोगों की मौत◾SC में सरकार का बयान- नहीं होगी जातिगत गिनती, OBC जनगणना का काम प्रशासनिक रूप से कठिन◾पीएम मोदी ने की अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस से मुलाकात, भारत आने का दिया न्योता◾अमेरिकी दौरे के दूसरे दिन आज होगी PM मोदी और बाइडेन के बीच पहली मुलाकात, जानें किन मुद्दों पर होगी बात◾प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिका में ऑस्ट्रेलियाई समकक्ष से मुलाकात की◾कोलकाता नाइट राइडर्स ने मुंबई इंडियंस को सात विकेट से हराया◾मोदी ने की अमेरिकी सौर पैनल कंपनी प्रमुख के साथ भारत की हरित ऊर्जा योजनाओं पर चर्चा◾सेना की ताकत में होगा और इजाफा, रक्षा मंत्रालय ने 118 अर्जुन युद्धक टैंकों के लिए दिया आर्डर ◾असम के दरांग जिले में पुलिस और स्थानीय लोगों के बीच में झड़प, 2 प्रदर्शनकारियों की मौत,कई अन्य घायल◾दिव्यांगों और बुजुर्गों के लिए घर पर ही की जाएगी टीकाकरण की सुविधा, केंद्र सरकार ने दी मंजूरी◾अमरिंदर का सवाल- कांग्रेस में गुस्सा करने वालों के लिए स्थान नहीं है तो क्या 'अपमान करने' के लिए जगह है◾

कांग्रेस नेता मनीष तिवारी बोले- सुखबीर बादल को पहचान की राजनीति में लिप्त नहीं होना चाहिए

शिरोमणि अकाली दल के 2022 विधानसभा चुनाव में जीतकर सत्ता में आने की स्थिति में पार्टी द्वारा पंजाब के उप मुख्यमंत्री का पद किसी दलित व्यक्ति को दिये जाने की शिअद प्रमुख सुखबीर सिंह बादल की घोषणा के एक दिन बाद कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने बृहस्पतिवार को उनसे पूछा कि क्या मुख्यमंत्री का पद किसी के लिए आरक्षित है।

आनंदपुर साहिब निर्वाचन क्षेत्र के सांसद तिवारी ने यह भी कहा कि शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के नेता को पहचान की राजनीति में लिप्त होने से बचना चाहिए। गौरतलब है कि जालंधर में बुधवार को बादल ने उनकी पार्टी के अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के बाद सत्ता में आने पर एक दलित को पंजाब के उपमुख्यमंत्री का पद देने का वादा किया था।

बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए, तिवारी ने बादल से पूछा, “एक दलित केवल उपमुख्यमंत्री हो सकता है, मुख्यमंत्री क्यों नहीं? क्या शीर्ष स्थान किसी के लिए स्थायी रूप से आरक्षित है?” कांग्रेस सांसद ने बादल को आगाह किया कि पहचान की राजनीति राष्ट्रों और सभ्यताओं के लिए अभिशाप है और यह पंजाब के लोकाचार के खिलाफ है जिसे तीन शब्दों पंजाब, पंजाबी, पंजाबियत में बयां किया जा सकता है। तिवारी ने कहा कि सिख धर्म के संस्थापक, गुरु नानक देव ने ‘सभी मनुष्यों की एक पहचान’ का संदेश दिया है।