BREAKING NEWS

किसान नेता राकेश टिकैत का जो बाइडेन को संदेश- पीएम मोदी के साथ करें हमारे मसले पर बात◾दिल्ली : रोहिणी कोर्ट परिसर में गैंगवॉर, फायरिंग में 3 की मौत, कई घायल◾UP विधानसभा चुनाव 2022 : मैदान में साथ उतरेगी BJP और निषाद पार्टी, गठबंधन का हुआ ऐलान◾महंत नरेंद्र गिरि केस : आनंद गिरि ने बताया था अपनी जान को खतरा, जेल में नियमानुसार मिलेगी सुरक्षा◾कैप्टन अमरिंदर को रास नहीं आई गहलोत की सलाह, बोले-'राजस्थान संभालो, पंजाब को छोड़ो'◾World Corona : दुनियाभर में संक्रमितों का आंकड़ा 23.05 करोड़ के पार, 47.2 लाख से अधिक लोगों की मौत ◾पंजाब में जल्द हो सकता है कैबिनेट विस्तार, राहुल-प्रियंका संग CM चन्नी का मंथन◾शेयर बाजार ने रचा इतिहास, Sensex 60 हजार अंक के पार, Nifty 18 हजारी होने को बेताव◾अफगानिस्तान में लोगों को अपनी जमीनें छोड़ने को मजबूर कर रहा तालिबान, जल्द पैदा हो जायेगा मानवीय संकट ◾देश में पिछले 24 घंटों में आए कोरोना संक्रमण के 31382 नए मामले, 318 लोगों की मौत◾SC में सरकार का बयान- नहीं होगी जातिगत गिनती, OBC जनगणना का काम प्रशासनिक रूप से कठिन◾पीएम मोदी ने की अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस से मुलाकात, भारत आने का दिया न्योता◾अमेरिकी दौरे के दूसरे दिन आज होगी PM मोदी और बाइडेन के बीच पहली मुलाकात, जानें किन मुद्दों पर होगी बात◾प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिका में ऑस्ट्रेलियाई समकक्ष से मुलाकात की◾कोलकाता नाइट राइडर्स ने मुंबई इंडियंस को सात विकेट से हराया◾मोदी ने की अमेरिकी सौर पैनल कंपनी प्रमुख के साथ भारत की हरित ऊर्जा योजनाओं पर चर्चा◾सेना की ताकत में होगा और इजाफा, रक्षा मंत्रालय ने 118 अर्जुन युद्धक टैंकों के लिए दिया आर्डर ◾असम के दरांग जिले में पुलिस और स्थानीय लोगों के बीच में झड़प, 2 प्रदर्शनकारियों की मौत,कई अन्य घायल◾दिव्यांगों और बुजुर्गों के लिए घर पर ही की जाएगी टीकाकरण की सुविधा, केंद्र सरकार ने दी मंजूरी◾अमरिंदर का सवाल- कांग्रेस में गुस्सा करने वालों के लिए स्थान नहीं है तो क्या 'अपमान करने' के लिए जगह है◾

महामारी के बीच पंजाब में डॉक्टरों ने की हड़ताल, इमरजेंसी विभाग को छोड़कर सभी चिकित्सा सेवाएं ठप

नॉन प्रैक्टिसिंग अलाउएंस (एनपीए) को मूल वेतन से अलग करने की छठे वेतन आयोग की सिफारिशों के विरोध में सरकारी अस्पतालों के डॉक्टरों ने एक दिवसीय हड़ताल की, जिससे महामारी के बीच पंजाब में शुक्रवार को चिकित्सा सेवाएं बुरी तरह प्रभावित हुईं। 

हड़ताल का असर राज्य के ग्रामीण इलाकों में ज्यादा देखने को मिला।  हड़ताल के कारण बाहरी रोगी विभागों (ओपीडी) में चिकित्सा सेवाएं बुरी तरह प्रभावित हुईं। हालांकि, आपातकालीन सेवाओं को हड़ताल से छूट दी गई थी।  मरीजों और उनके तीमारदारों ने सरकार पर इस मुद्दे को सौहार्दपूर्ण ढंग से हल करने का आरोप लगाया। मां को इलाज के लिए लेकर आए अमृतसर निवासी गुरदेव सिंह ने बताया, "आम आदमी हड़ताल के कारण अधिक पीड़ित है क्योंकि वे महंगे निजी इलाज का खर्च वहन नहीं कर सकते है।"

हड़ताल का आह्वान संयुक्त पंजाब सरकार डॉक्टर्स कोऑर्डिनेशन कमेटी द्वारा किया गया है, जिसे पंजाब स्टेट वेटरनरी ऑफिसर्स एसोसिएशन, पंजाब मेडिकल टीचर्स एसोसिएशन, रूरल मेडिकल ऑफिसर्स एसोसिएशन, पंजाब डेंटल मेडिकल ऑफिसर्स एसोसिएशन और पंजाब आयुर्वेद ऑफिसर्स एसोसिएशन का समर्थन प्राप्त है। मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने गुरुवार को सरकार के कर्मचारियों की शिकायतों के समाधान के लिए मंत्रियों की निगरानी समिति का गठन किया। 

समिति में स्थानीय शासन मंत्री ब्रह्म मोहिंद्रा, वित्त मंत्री मनप्रीत बादल, सामाजिक न्याय मंत्री साधु सिंह धर्मसोत, चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान मंत्री ओपी सोनी और स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिद्धू शामिल होंगे। मुख्यमंत्री ने मुख्य सचिव को विभिन्न विभागों के कर्मचारियों की शिकायतों को व्यक्तिगत रूप से सुनने के लिए एक अधिकारी समिति गठित करने के भी निर्देश दिए। 

Source - IANS