लुधियाना : पंजाब के आर्थिक राजधानी के नाम से विख्यात महानगर लुधियाना के नजदीक कस्बा जंडियाली के वेहड़े में रहने वाले दरिंदे द्वारा साढ़े 5 वर्षीय मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म के बाद कत्ल किए जाने का मामला सामने आया है। जानकारी के मुताबिक बच्ची के कत्ल के बाद हत्यारे ने लाश को चादर में लपेटकर कमरे में छिपा दिया और स्वयं ही मृतक बच्ची के लापता होने के बाद परिजनों के साथ उसे तलाशने का झूठा नाटक करता रहा।

इसी बीच जब उपस्थित महिलाओं ने अन्य कमरों की तलाशी के बीच अभियुक्त के तालाबंद दरवाजे को खुलवाने का प्रयास किया तो मोके से चकमा देकर वह भाग निकलने में कामयाब रहा। तत्पश्चात लोगों ने कमरे का दरवाजा खोला तो बच्ची की लाश चादर में लिपटी मिली। इसी दौरान कत्ल की सूचना पाकर मोके पर पुलिस पहुंची और मामले की तफतीश में जुटी है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक मासूम बच्ची खेलते-खेलते कातिल के कमरे में चली गई थी और उसने शराब में धुत होकर हैवानियत कर दी। पुलिस ने उसके खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज कर उसे काबू कर लिया है। बच्ची की हत्या सांस घुटने से हुई है। बच्ची के शव को सिविल अस्पताल में रखा गया है।

पंजाब में कानून व्यवस्था की स्थिति लगातार गिर रही है : केजरीवाल 

यह भी बताया जा रहा है कि मृतक बच्ची का पिता मजदूरी का काम करता है और उसके पड़ोस के अन्य कमरे में 21 अरविंदर सिंह यादव नामक आरोपित शराब पीकर लेटा हुआ था। यादव का कमरा उसी वेहड़े की दूसरी मंजिल पर था और बच्ची की मां अपने कमरे में छोटे बेटे के साथ लेटी हुई थी और खेलते खेलते वह कमरे में चली गई, तभी अरविंदर सिंह ने उसके साथ दुष्कर्म किया। इसी दौरान बच्ची की चीखें निकलने लगीं तो उसने उसका मुंह अपने हाथ से दबा दिया। इस दौरान बच्ची की सांस घुटने से मौत हो गई। आरोपित बच्ची के शव को चादर में लपेट कर कमरे में ही रखकर वहां से फरार हो गया।

कुछ समय के बाद उसका पिता घर आया तो उसने बेटी नहीं मिलने पर उसकी तलाश शुरू की। इस वेहड़े में चौदह कमरे हैं, बारी-बारी से सबकी तलाशी ली गई तो बच्ची का शव अरविंदर के कमरे से बरामद हुआ। मध्य प्रदेश के सागर जिले के रहने वाला अरविंदर कुमार पिछले काफी समय परिवार के साथ यहां कमरे में रहता था। उसके परिजन कुछ दिन पहले उसका परिवार यहां से गांव चला गया था। थाना फोकल प्वाइंट प्रभारी हरजीत सिंह ने घटनास्थल का का जायजा लिया है।

चौकी शेरपुर प्रभारी एएसआइ सुरजीत सिंह की ओर से मामले की जांच की जा रही है। उन्होंने कहा कि बच्ची के शव को सिविल अस्पताल पहुंचाया गया है और आरोपित की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं।
बच्ची युवक को अंकल पुकारती थी और अकसर उसके साथ बातचीत करती रहती थी। रविंदर ने उसके साथ हैवानियत करते समय कई जगहों पर नोचा था। बच्ची के मुंह पर उसके नाखून के निशान भी मिले हैं। यही नहीं बच्ची के शरीर पर कई घाव भी मिले हैं।

मां ने कातिल के लिए मांगी मौत की सजा
बच्ची की मां का रो रोकर बुरा हाल है। उसने बिलखते हुए कहा है कि आरोपित रविंदर को मौत के घाट उतार देना चाहिए। यह भी पता चला है कि मृतक बच्ची घरवालों की इकलौती बेटी थी और 2 साल का उसका भाई भी है। पिता के मुताबिक उसकी बेटी को नए-नए खिलौने इकटठे करने का शौक था और कुछ दिन पहले ही वह खरीदे गए नए खिलौनों से खेल रही थी, उन्हें क्या पता था कि उनकी होनहार बेटी खेलतेखेलते दरिंदगी का शिकार हो जाएंगी। क्षेत्र के लोग इस घटना से सदमे में हैं।

– सुनीलराय कामरेड