BREAKING NEWS

PM मोदी ने जगन्नाथ के साथ भारतीय सहयोग से मॉरीशस में बनी सामाजिक आवास परियोजना का किया उद्घाटन ◾गोवा चुनाव : कांग्रेस के उम्मीदवारों की नयी सूची में भाजपा, आप के पूर्व नेताओं के नाम शामिल ◾PM मोदी के साथ ‘परीक्षा पे चर्चा’ में भाग लेने की समय सीमा 27 जनवरी तक बढ़ाई गई ◾दिल्ली में घटे कोरोना टेस्ट के दाम, अब 500 की जगह इतने रुपये में करवा सकते हैं RT-PCR TEST ◾ इंडिया गेट पर बने अमर जवान ज्योति की मशाल अब हमेशा के लिए हो जाएगी बंद, जानिए क्या है पूरी खबर ◾IAS (कैडर) नियामवली में संशोधन पर केंद्र आगे नहीं बढ़े: ममता ने फिर प्रधानमंत्री से की अपील◾कल के मुकाबले कोरोना मामलों में आई कमी, 12306 केस के साथ 43 मौतों ने बढ़ाई चिंता◾बिहार में 6 फरवरी तक बढ़ाया गया नाइट कर्फ्यू , शैक्षणिक संस्थान रहेंगे बंद◾यूपी : मैनपुरी के करहल से चुनाव लड़ सकते हैं अखिलेश यादव, समाजवादी पार्टी का माना जाता है गढ़ ◾स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी जानकारी, कोविड-19 की दूसरी लहर की तुलना में तीसरी में कम हुई मौतें ◾बेरोजगारी और महंगाई जैसे मुद्दों पर कांग्रेस ने किया केंद्र का घेराव, कहा- नौकरियां देने का वादा महज जुमला... ◾प्रधानमंत्री मोदी कल सोमनाथ में नए सर्किट हाउस का करेंगे उद्घाटन, PMO ने दी जानकारी ◾कोरोना को लेकर विशेषज्ञों का दावा - अन्य बीमारियों से ग्रसित मरीजों में संक्रमण फैलने का खतरा ज्यादा◾जम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी सफलता, शोपियां से गिरफ्तार हुआ लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू◾महाराष्ट्र: ओमीक्रॉन मामलों और संक्रमण दर में आई कमी, सरकार ने 24 जनवरी से स्कूल खोलने का किया ऐलान ◾पंजाब: धुरी से चुनावी रण में हुंकार भरेंगे AAP के CM उम्मीदवार भगवंत मान, राघव चड्ढा ने किया ऐलान ◾पाकिस्तान में लाहौर के अनारकली इलाके में बम ब्लॉस्ट , 3 की मौत, 20 से ज्यादा घायल◾UP चुनाव: निर्भया मामले की वकील सीमा कुशवाहा हुईं BSP में शामिल, जानिए क्यों दे रही मायावती का साथ? ◾यूपी चुनावः जेवर से SP-RLD गठबंधन प्रत्याशी भड़ाना ने चुनाव लड़ने से इनकार किया◾SP से परिवारवाद के खात्मे के लिए अखिलेश ने व्यक्त किया BJP का आभार, साथ ही की बड़ी चुनावी घोषणाएं ◾

सियासत पर भारी आस्था : परमजीत सिंह सरना परिवार सहित पहुंचे पाकिस्तान

लुधियाना-अटारी : दिल्ली गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी के पूर्व प्रधान परमजीत सिंह सरना परिवार सहित अटारी-वाघा सरहद के रास्ते पाकिस्तान के लिए रवाना हुए, जहां 9 नवंबर के करतारपुर साहिब स्थित होने वाले करतारपुर लंाघे के उदघाटनी समागम में शमूलियत करेंगे। पाकिस्तान पहुंचने पर पाकिस्तान सिख गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया। 

पाकिस्तान रवाना होने से पहले स. सरना ने कहा कि करतारपुर लांघा पाकिस्तान के वजीरे-आजम इमरान खां और पंजाब के पूर्व केबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की दोस्ती के कारण ही संभव हो सका है। उन्होंने यह भी कहा कि लांघा खुलवाने के लिए 72 सालों से निरंतर संगत की अरदासों में अहम योगदान को भी भुलाया नहीं जा सकता।  

स्मरण रहे कि 31 अक्तूबर को पड़ोसी मुलक पाकिस्तान के उस पार बाबा नानक के जन्म स्थल से जुड़ी पावन धरती को चूमने के लिए दिलोजान से तैयारियों में जुटे परमजीत सिंह सरना को दिल्ली से ननकाना साहिब (पाकिस्तान) जाने वाले नगर कीर्तन के जत्थे के साथ जाने से इमीग्रेशन के अधिकारियों ने किसी पुराने केस का हवाला देकर सीमा पार जाने से रोक दिया था। 

जबकि स. परमजीत सिंह सरना देश के विशेषकर दिल्ली- पंजाब और हरियाणा से जुड़ी सिख संगत के बड़े जत्थे की अगुवाई कर रहे थे। इसी संबंध में कुछ माह पहले ही पाकिस्तान में जाकर हुकमरानों और पाकिस्तान गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी के सदस्यों क े साथ बैठकें और बाबा नानक से जुड़े धार्मिक प्रचार-प्रसार समेत भारत से ननकाना साहिब तक नगर कीर्तन ले जाने की इजाजत भी ले रखी थी।  

स. परमजीत सिंह सरना 27 अक्तूबर को दिल्ली से ननकाना साहिब अंतरराष्ट्रीय नगर कीर्तन लेकर रवाना हुए थे, जहां भारत सरकार के आदेश के उपरांत उन्हें रोक दिया गया था।  इस उपरांत स. सरना ने दिल्ली हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया तो 4 अक्तूबर को अदालत ने उनको राहत देते हुए पाकिस्तान जाने की इजाजत दी थी। स. सरना ने कहा कि उन्हें एक साजिश के तहत रोका गया था क्योंकि जिस केस का हवाला देकर उन्हें रोका गया था, उसके बाद तो वह कम से कम कई बार पाकिस्तान के अतिरिक्त अन्य देशों के दौरे कर चुके है। 

उन्होंने कहा कि 4 नवंबर को पालकी साहिब करतारपुर साहिब में सुशोभित करने वाले समागम में उन्होंने शमूलियत करनी थी। उन्होंने कहा कि उनके पास पालकी साहिब वाली गाड़ी पाकिस्तान में जाने के लिए सरकार द्वारा दी गई इजाजत भी दी लेकिन पालकी साहिब वाली गाड़ी को सरहद के इस पार रोकना साबित करता है कि रोकने और रूकवाने वालों की गुरू साहिब के प्रति कोई श्रद्धा नहीं है। 

स. सरना को 9 नवंबर के करतारपुर लांघा के उदघाटनी समारोह में शमूलियत करने के लिए आमंत्रण दिल्ली स्थित पाकितानी शफीर के प्रधानमंत्री जनाब इमरान खां के कार्यालय द्वारा दिया गया। स. सरना ने कहा कि पालकी साहिब मर्यादा के साथ स्थापित कर दी गई है, जिसके लिए पाकिस्तान सरकार, उकाब बोर्ड और पाकिस्तान सिख गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी का धन्यवाद करते है। इस वक्त उनके साथ मनजीत सिंह सरना भी मोजूद थे। 

- सुनीलराय कामरेड